Updated -

mobile_app
liveTv


जयपुर टाइम्स
जयपुर (कासं.)। भारतीय जनता पार्टी के विधायकों की ओर से प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष सतीश पूनिया को लिखे गए पत्र के संदर्भ में विधानसभा में विपक्ष के नेता गुलाबचंद कटारिया ने संवाददाताओं से कहा कि कार्यकर्ता और संगठन दोनों मिलकर पार्टी को चलाते हैं, कोई एक व्यक्ति पार्टी नहीं चला सकता इसलिए पत्र लिखने वाले पार्टी के विधायकों और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष से वह बात करेंगे उन्होंने कहा कि वे कभी भी गुटबाजी में नहीं रहे और अब भी गुटबाजी में नहीं है तथा भविष्य में भी गुटबाजी में नहीं रहेंगे लेकिन वह किसी के दबाव में भी नहीं आएंगे उन्होंने कहा कि विधानसभा में पार्टी के सभी विधायकों को अवसर दिया जाता है फिर भी पत्र लिखने वाले विधायकों से वे बात करेंगे, उल्लेखनीय है कि भारतीय जनता पार्टी के विधायकों के एक गुट ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतीश पूनिया को एक पत्र लिखा है पत्र में विधायकों ने आरोप लगाया है कि सदन की कार्रवाई में उनके साथ पक्षपातपूर्ण व्यवहार किया जा रहा है और उन्हें सदन की कार्यवाही में बोलने नहीं दिया जाता, पत्र में विधायकों ने कहा है कि कुछ विशेष विधायकों को ही सदन की कार्रवाई में शामिल किया जा रहा है जो ठीक नहीं है, भाजपा विधायकों की ओर से पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष को नाराजगी का भाव पैदा करने जैसा यह पत्र लिखने के बाद एक बार फिर से प्रदेश भाजपा की गुटबाजी उभर कर सामने आई है, विगत कुछ दिनों से जिस तरह से प्रदेश भाजपा के दो बड़े गुटों में वर्चस्व की लड़ाई को लेकर जिस तरह से पहले सोशल मीडिया पर जोरदार जंग शुरू की गई और फिर मीडिया में भी विरोधाभासी जैसे बयान पार्टी के नेताओं की ओर से आने लगे हैं, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे समर्थक नेता अब खुलकर वसुंधरा राजे को प्रदेश भाजपा का सर्वमान्य नेता बता रहे हैं यहां तक कि उन्हें भावी मुख्यमंत्री भी बता रहे हैं उससे प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष सतीश पूनिया काफी चिंतित भी हैं अब जिस तरह से भाजपा के विधायकों ने ही नाराजगी का पत्र पार्टी अध्यक्ष को भेजा है उससे साफ जाहिर हुआ है कि प्रदेश भाजपा के हालात इन दिनों ठीक नहीं है ऐसे में आने वाले दिनों में होने वाले विधानसभा उपचुनाव में भाजपा की जीत की राह काफी कठिन साबित हो सकती है।

Searching Keywords:

facebock whatsapp

Similar News