Updated -

mobile_app
liveTv

मुंबई, एजेंसी।  एनआईए की विशेष अदालत ने मालेगांव बम धमाकों की आरोपी और भोपाल से भाजपा उम्‍मीदवार साध्‍वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को चुनाव लड़ने से रोकने की मांग वाली याचिका खारिज कर दी है। अदालत ने अपने फैसले में कहा कि मौजूदा लोकसभा चुनावों में हमारे पास किसी को चुनाव लड़ने से रोकने के लिए कोई कानूनी शक्तियां नहीं हैं। किसे चुनाव लड़ने देना है किसे नहीं यह तय करना निर्वाचन अधिकारियों का काम है। अदालत आरोपी नंबर-1 को चुनाव लड़ने से नहीं रोक सकती है। यह याचिका सुनवाई के योग्‍य नहीं है। याचिकाकर्ता के वकील ने एनआईए कोर्ट से प्रज्ञा ठाकुर के चुनाव लड़ने पर रोक लगाने की मांग करते हुए दलील दी थी कि भाजपा उम्‍मीदवार साध्‍वी खराब स्वास्थ्य का हवाल देकर मालेगांव बम विस्‍फोट मामले (Malegaon blast case) की अदालती कार्यवाही में भाग नहीं ले रही हैं। साध्‍वी प्रज्ञा ठाकुर भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा उम्‍मीदवार हैं और चुनाव प्रचार कर रही हैं। याचिकाकर्ता की ओर से यह भी कहा गया कि साध्‍वी के चुनाव प्रचार को देखकर ऐसा लग रहा है कि वह बीमार नहीं हैं।  बता दें कि वर्ष 2008 के मालेगांव विस्फोट में आरोपित भाजपा नेता साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के चुनाव लड़ने पर रोक लगाने की याचिका पर एनआइए ने कल खुद को अलग कर लिया था। राष्ट्रीय जांच एजेंसी का कहना है कि यह उसके अधिकार क्षेत्र के बाहर का मामला और इसे चुनाव आयोग देखेगा। जबकि भोपाल से भाजपा उम्मीदवार प्रज्ञा ने खुद को लोकसभा चुनाव से लड़ने से रोकने वाली उक्‍त याचिका को खारिज करने की अपील की थी।   

Searching Keywords:

facebock whatsapp

Similar News