Updated -

mobile_app
liveTv

नई दिल्ली  एयरलाइन कंपनी कतर एयरवेज और इंडिगो मिलकर एयर इंडिया के लिए संयुक्त बोली लगाने को तैयार हैं। यह जानकारी एक मीडिया रिपोर्ट के जरिए सामने आई है।  केंद्र सरकार राष्ट्रीय विमानवाहक के निजीकरण के लिए इच्छुक बोलीदाताओं से प्रारंभिक रुचि ज्ञापन (पीआईएम) और एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (ईओआई) मंगवाने की तैयारी कर रही है। रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी एक्ट के मौजूदा फार्म्यूले के तहत बोलीदाता की नेटवर्थ 1000 करोड़ रुपए से ऊपर की होनी चाहिए और ऐसा होने पर ही उसे बिड लगाने की अनुमति मिलेगी। इंडिगो का स्वामित्व इंटरग्लोब एविएशन लिमिटेड के पास है जबकि कतर एयरवेज का स्वामित्व कतर सरकार के पास है। घाटे में चल रही एयर इंडिया के रणनीतिक विनिवेश कार्यक्रम को आगे बढ़ाते सरकार की ओर से जल्द ही बोलीदाताओं के एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (ईओआई) की मांग की जा सकती है। इसकी खामियों के विपरीत, सूत्र के मुताबिक तीन पूर्ण सेवाओं वाला समूह जिसमें जेट एयरवेज भी शामिल हैं राष्ट्रीय विमानवाहक कंपनी के लिए बोली लगाने को तैयार है। सूत्र के मुताबिक जेट एयरवेज ने एयर फ्रांस-केएलएम और डेल्टा एयरलाइन्स के साथ मिलकर एयर इंडिया के विनिवेश कार्यक्रम में शामिल होने में रुचि दिखाई है।

Searching Keywords:

facebock whatsapp

Comments

Leave a comment

Your email address will not be published.

Similar News