Updated -

mobile_app
liveTv

भारतीय ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सूर्य, मंगल, शनि, केतु, क्रूर ग्रह हैं। यदि ये ग्रह किसी की कुंडली में शत्रु क्षेत्री नीच आदि होकर स्थिर हों तो ज्यादा क्रूर प्रभाव दिखाते हैं। इनकी शांति हेतु निम्र उपाय हैं-


सूर्य की महादशा के लिए : गेहूं के आटे की रोटी में गुड़ मिलाकर प्रत्येक रविवार को (गाय को)खिलाने से सूर्य की महादशा ठीक होती है।


मंगल ग्रह : गेहूं के आटे में मलका मसर (पीसकर) मिलाएं। गुड़ व गोघृत सहित बनाकर प्रत्येक मंगलवार को लाल गाय को खिलाने से मंगल ग्रह जनित दोष दूर होगा।


शनि ग्रह : काले तिल या उड़द पीस कर गेहूं के आटे में मिला कर गुड़ गोघृत से पेड़ा बनाकर कम से कम 9 शनिवार काली गाय को अपनी हथेली पर रख कर खिलाएं, शनिग्रह की प्रसन्नता प्राप्त होगी।


राहू केतु ग्रह : सतनाजे को पीसकर गेहूं का आटा, गुड़, गाय का घी मिलाकर  बूढ़ी लंगड़ी असहाय (चितबरी) गायों को प्रात: 12 बजे तक खिलाएं। अनाथ गाय की घर में अथवा किसी गोशाला की जीवन पर्यन्त सेवा की जिम्मेदारी लेने से राहू की दशा व दोष शमन शान्त होते हैं। 


सर्वग्रह शान्ति के लिए: प्रतिदिन पहली रोटी गुड़, गोघृत लगाकर अथवा चने की दाल, गुड़, हथेली पर रख कर मौनावस्था में गाय को खिलाने से प्रतिदिन गौमाता की कृपा रहेगी। विघ्न बाधा, दुर्घटना से बचाव होगा। 

Searching Keywords:

facebock whatsapp

Comments

Leave a comment

Your email address will not be published.

Similar News