Updated -

mobile_app
liveTv

नईदिल्ली(एजेंसी)।
एक संयुक्त संसदीय समिति ने बुधवार को रिलायंस जियो, एयरटेल, ओला, उबर और ट्रूकॉलर के प्रतिनिधियों को डाटा सुरक्षा के मुद्दे पर अपना पक्ष रखने के लिए उपस्थित होने के लिए एक नोटिस भेजा। भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी की अध्यक्षता वाली समिति पर्सनल डाटा प्रोटेक्शन बिल-2019 की समीक्षा कर रही है। नोटिस के मुताबिक रिलायंस जिया इंफोकॉम और जियो प्लेटफॉर्म्स के प्रतिनिधियों को 4 नवंबर को अलग-अलग समय में बुलाया गया है। ओला, उबर के प्रतिनिधियों को 5 नवंबर को बुलाया गया है। एयरटेल और ट्र्रूकॉलर के प्रतिनिधियों को 6 नवंबर को बुलाया गया है। सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक और ट्विटर और ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन से पहले ही पूछताछ की जा चुकी है। गूगल और पेटीएम को 29 अक्टूबर को समिति के सामने उपस्थित होना है। पर्सनल डाटा प्रोटेक्शन बिल को इलेक्ट्रॉनिकी और इंफोर्मेशन टेक्नोलॉजी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने 11 दिसंबर 2019 को लोकसभा में पेश किया था। इस विधेयक में पर्सनल डाटा की सुरक्षा और इसके लिए एक डाटा प्रोटेक्शन अथॉरिटी स्थापित करने का प्रावधान है। बाद में इस विधेयक को संसद के दोनों सदनों की संयुक्त प्रवर समिति के पास भेज दिया गया। विधेयक में किसी व्यक्ति की स्पष्ट अनुमति लिए बिना किसी भी संस्थान द्वारा उससे संबंधित डाटा को स्टोर और प्रोसेस किए जाने पर रोक लगाने का प्रस्ताव है।

Searching Keywords:

facebock whatsapp