Updated -

mobile_app
liveTv

जम्मू। जम्मू एवं कश्मीर पुलिस ने गुरुवार को कहा कि मंगलवार को त्राल के वनक्षेत्र में हुई मुठभेड़ में मारे गए चार आतंकवादियों में से एक जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) का कमांडर था। जेईएम का ऑपरेशनल कमांडर मुफ्ती यासीर आतंकवादी संगठन के सरगना मसूद अजहर का करीबी माना जाता था। राज्य के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) एस.पी.वेद ने कहा, त्राल के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में शुरू की गई संयुक्त कार्यवाही में मारे गए आतंकवादियों में जेईएम का ऑपरेशनल कमांडर मुफ्ती यासीर भी था। 
गौरतलब है कि आठ घंटे चली मुठभेड़ में जेईएम के चार आतंकवादी, एक जवान और राज्य पुलिस का एक हवलदार भी मारा गया। डीजीपी ने मारे गए आतंकवादी की तस्वीर ट्विटर पर अपलोड की, जिसमें वह जेईएम के संस्थापक मसूद अजहर के साथ खड़ा है। यह तस्वीर मीडिया ने कुछ सालों पहले पाकिस्तान में ली थी।
अजहर को 1999 में जम्मू जिले की कोटबलवाल जेल से रिहा कर अफगानिस्तान के कंधार ले जाया गया था, जहां उसे इंडियन एयरलाइंस की उड़ान संख्या आईसी814 के बंधक बनाए गए 158 यात्रियों के बदले छोड़ दिया गया था। मुठभेड़ में मारे गए दो अन्य आतंकवादियों में शेख उमर और मुस्ताक अहमद जरगर भी थे, उन्हें भी यात्रियों को बंधक बनाए जाने के बदले छोड़ दिया गया था।
 

Searching Keywords:

whatsapp

Comments

Leave a comment

Your email address will not be published.

Similar News