Updated -

mobile_app
liveTv

जयपुर। राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ गुरुवार को हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के मैच में अम्पायर के निर्णय पर आपत्ती जताने के लिए चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर जुर्माना लगाया गया जिसके तहत उनकी 50 प्रतिशत मैच फीस काट ली गई। धोनी ने आईपीएल की आचार संहिता के स्तर 2 के अपराध 2.20 को स्वीकार किया है और अपने ऊपर लगाए गए जुर्माने को मान लिया है। 
चेन्नई की पारी के आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर अंपायर उल्हास गांधे ने बेन स्टोक्स की फुल टॉस गेंद को बीमर मानकर नो बॉल दिया लेकिन तुंरत ही वह इससे मुकर गए। इसके बाद, जडेजा अम्पायर से बात करने लगे। तब तक एमएस धौनी सीएसके के डगआउट से उठकर मैदान में आ गए। वह काफी गुस्से में दिख रहे थे।
उन्होंने दोनों मैदानी अम्पायरों से बहस भी की, लेकिन दोनों अम्पायर अपने फैसले पर कायम रहे और चेन्नई को नो बॉल नहीं मिली। इस घटना से पहले चेन्नई को तीन गेंदों पर आठ रनों की दरकार थी।

Searching Keywords:

facebock whatsapp