Updated -

mobile_app
liveTv


कल महंत परिवार द्वारा दिखाई की मुँह दिखाई की रस्म अदा की जायेगी 
राजगढ़ (नि.सं.)। भगवान जगन्नाथ व माता जानकी परिणय सूत्र के बंधन में शुक्रवार को बंध गए इस अलौकिक विवाह के साक्षी इस बार हजारों श्रद्धालु नही बन सके। कोरोना वैश्विक माहमारी के कारण इस बार सभी कार्यक्रम मंदिर में सम्पन्न हो रहे है। मंदिर के महंत पूर्णदास शास्त्री एव पंडित मदन मोहन शास्त्री ने बताया की आज भगवान जगन्नाथ माता जानकी के साथ चौपड़ बाजार मंदिर परिसर की रात्रि 9 बजे परिक्रमा लगा कर पुन: मंदिर में विराजेंगे ओर इसके साथ सात दिवसीय जगन्नाथ महोत्सव का समापन होगा। वही पंडित मदन मोहन शास्त्री ने बताया कि मंगलवार सुबह 10 बजे महंत परिवार द्वारा मुँह दिखाई की रस्म अदा की जायेगी।
 

Searching Keywords:

facebock whatsapp