Updated -

mobile_app
liveTv

नई दिल्ली । यूट्यूब ने हाल ही में बताया है की कंपनी ने लगभग 5 मिलियन वीडियोज को डिलीट किया है। ये वीडियोज 2017 की आखिरी तिमाही में ही अपलोड की गई थी। गूगल द्वारा अधिकृत वीडियो शेयरिंग प्लेटफार्म ने इन वीडियोज को व्यूवर्स के देखने से पहले ही डिलीट कर दिया था। यह कंपनी ने इस कारण भी किया होगा क्योंकि उसे विभिन्न सरकारों से अनुचित कंटेंट पोस्ट करने के लिए लम्बे समय से आलोचना का सामना करना पड़ रहा है।

कोई भी व्यू आने से पहले ही डिलीट की गई वीडियोज: यूट्यूब ने एक रिपोर्ट में बताया की 80 लाख में से 76 प्रतिशत वीडियोज को 1 व्यू आने से भी पहले डिलीट कर दिया गया है। इन वीडियोज को इसलिए तत्काल प्रभाव से डिलीट करने का कदम उठाया गया क्योंकि इसमें अनुचित या हिंसक कंटेंट शामिल था।

यूट्यूब गाइडलाइन्स का हुआ उल्लंघन: यूट्यूब पर कुल मिलाकर लगभग 93 लाख वीडियोज ऐसी हैं जो यूट्यूब कम्युनिटी गाइडलाइन्स का उलंघ्घन कर रही हैं। इनमे से अधिकतर वीडियोज भारत में है। इस क्रम में अमेरिका दूसरे और यूके छठें नंबर पर है।

  यूट्यूब ने बताया की लगातार वीडियोज की जांच की जा रही है और नियमों का उलंघ्घन करने वाली वीडियोज को रिमूव किया जा रहा है।

क्यों डिलीट करनी पड़ी वीडियोज: यूट्यूब को 300 कंपनियों और संगठनों ने आपत्तिजनक कंटेंट के साथ उनके एड्स दिखने को लेकर शिकायत की थी। इनमें एडिडास, अमेजन और नेटफ्लिक्स आदि शामिल हैं। इसी को ठीक करने के लिए यूट्यूब ने वीडियोज को रिमूव किया।

Searching Keywords:

facebock whatsapp

Comments

Leave a comment

Your email address will not be published.