Updated -

mobile_app
liveTv

जयपुर टाइम्स
जयपुर (कासं.)। शुक्रवार को उप मुख्यमंत्री एवं मंत्री ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग सचिन पायलट ने पंचायत स्थरीय महात्मा गांधी ग्रामोत्थान शिविरों प्रगति रिपोर्ट जारी की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 15 अगस्त से 2 अक्टूबर तक चले शिविरों के दौरान 1 लाख 40 हजार से अधिक पात्र परिवारों को पट्टे जारी किये गये हैं। वहीं महिलाओं के संबलीकरण हेतु अभिनव प्रयास भी किये गये। 
पायलट ने शिविरों की प्रगति रिपोर्ट जारी करते हुए बताया कि महात्मा गांधी की 150 वीं जयन्ती के उपलक्ष्य में ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग द्वारा 15 अगस्त से 2 अक्टूबर तक आयोजित किये गये इन शिविरों ने महिलाओं को रोजगार के अवसर दिलाए। साथ ही आर्थिक रूप से स्वावलम्बी बनाया है। उन्होंने बताया कि शिविरों में राजस्थान ग्रामीण आजीविका विकास परिषद् के तहत 21,340 गांवों के 10,875 ग्रामीण महिला एवं सहायता समूहों को 99 करोड़ 18 लाख 73 हजार रुपये के ऋण उपलब्ध करवाकर महिलाओं को आर्थिक एवं समाजिक रूप से सशक्त बनाने के प्रयास किए। 
उप मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में महिला स्वयं सहायता समूह द्वारा किये जा रहे व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न हस्त निर्मित उत्पादों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। 
राजीविका की ओर से ग्रामीण महिला स्वयं सहायता समूहों द्वारा निर्मित उत्पाद बेचने हेतु राज्य एवं जिला स्तर पर क्राफ्ट रचनात्मक कौशल में वृद्धि हो रही है। हस्तनिर्मित एवं हस्तशिल्प के स्थानीय उत्पादों में बेहतरीन कलाकारी निकलकर आ रही है। महिलाओं को रोजगार मिलने से परिवार आर्थिक दृष्टि से मजबूत हो रहे हैं। 
पायलट ने बताया कि शिविरों में लगभग 1.25 लाख पुराने भवनों के नियमितिकरण, लगभग 14 हजार पात्र व्यक्तियों के कब्जों के नियमितिकरण रियायती दर पर भूखंड आवंटन व बी.पी.एल. परिवारों को नि:शुल्क भूखंड आवंटन के पट्टे जारी किए। साथ ही 50 घुमक्कड़ भेड़पालक परिवारों को नि:शुल्क भूखंड भी आवंटित किए गए है। इसके अलावा 8 हजार से अधिक श्रमिकों को जॉब कार्ड जारी हुए हैं। साथ ही 90 दिवस पूर्ण कर चुके लगभग 2 लाख श्रमिकों को श्रम कार्ड दिए। 

Searching Keywords:

facebock whatsapp