Updated -

mobile_app
liveTv

जयपुर : सर्दियों की सबसे बड़ी प्रॉब्लम होती है गले में दर्द और खराश का होना, ऐसे में हमें समझ ही नहीं आता कि आखिर हम ऐसा क्या करें कि इस छोटी, लेकिन दर्द भरी समस्या से राहत मिल सके. तो हम आपको बता दें कि सर्दियों में होने वाली इन छोटी-छोटी समस्याओं का इलाज किसी डॉक्टर के पास नहीं बल्कि आपके अपने घर में ही है. जी हां, सर्दियों में चाय तो हम सभी पीते हैं और यही चाय आपके गले के दर्द और खराश का इलाज कर सकती है, इसके बारे में भी हम सब जानते हैं, बस यह पता नहीं होता कि चाय में हम क्या मिलाएं जो हमें इस समस्या से राहत दिलाएगी. तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि सर्दियों में अपनी चाय में आप क्या मिला सकते हैं, जिससे आपको इन छिटपुट समस्याओं से बिना डॉक्टर के पास जाए राहत मिल सकती है.

हल्दीः
हल्दी में काफी मात्रा में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सिडेंट के गुण पाए जाते हैं. सर्दियों में रोज अपनी चाय में एक चुटकी मिलाकर पीने से शरीर में गर्मी बनी रहेगी जिससे सर्दी, खांसी जैसे सर्दियों में होने वाली बीमारियों से छुटकारा मिलता है. बता दें तासीर काफी गरम होती है, जिससे सर्दी का खतरा कम होता है.

मुलेठीः
सर्दियों में आप सुबह की चाय में मुलेठी डालकर भी पी सकते हैं. बता दें प्राकृतिक मिठास होने के कारण यह चाय में मसाले के तौर पर भी इस्तेमाल किया जाता है. इसके एंटी-डायबिटिक और एंटीऑक्सिडेंट गुण मेटाबोलिक सिंड्रोम के इलाज में भी मददगार होते हैं. इसके साथ ही यह वजन घटाने में भी काफी सहायक होती है.

अदरकः
अदरक की चाय, सर्दियों में लोगों को सबसे अधिक पसंद आने वाली चाय में से एक होती है. यही नहीं खाने में भी यह मसाले के तौर पर काफी इस्तेमाल किया जाता है. बता दें स्वाद के साथ ही इसमें कई तरह के प्राकृतिक औषधीय गुण भी मौजूद होते हैं. तो अगर आप सर्दी-खांसी से परेशान हैं तो बेझिझक सुबह और शाम को अदरक की चाय पीएं.

कालीमिर्च
कालीमिर्च भी गले की खराश और बंद नाक का रामबाण इलाज होती है. ऐसे में काली मिर्च की चाय बनाने के लिए आप कालीमिर्च पाउडर का इस्तेमाल कर सकते हैं. वहीं इसमें पाया जाने वाला पिपराइन त्वचा के लिए भी बेहद अच्छा माना जाता है.

Searching Keywords:

facebock whatsapp

Comments

Leave a comment

Your email address will not be published.