Updated -

mobile_app
liveTv

नई दिल्ली : केंद्रीय विश्वविद्यालयों में कार्य कर रहे या आवेदन करने वाले ओबीसी वर्ग के उम्मीदवारों को जल्द ही बड़ा लाभ मिलने वाला है। ओबीसी उम्मीदवार अब सामान्य पदों पर भी आवेदन कर सकेंगे। कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) के उपसचिव ने केंद्र सरकार के सभी विभागों व मंत्रालयों को पत्र भेजकर यह निर्देशित कर दिया है। 

बता दें कि आरके सब्बरवाल बनाम पंजाब राज्य के बीच सुप्रीम कोर्ट में चल रहे केस में आरक्षित उम्मीदवारों को अनारक्षित पदों की भर्ती व प्रतियोगिताओं में सक्षम माने जाएंगे इसका निर्णय दिया जा चुका है, इसके बाद ही यह निर्णय लिया गया है। लेकिन प्रतियोगिता में प्राप्त अंकों को आरक्षित सदस्यों के द्वारा प्राप्त अंकों की श्रेणी में शामिल नहीं किया जाएगा।

ऑल इंडिया यूनिवर्सिटीज एंड कॉलेजिज एससी, एसटी, ओबीसी टीचर्स एसो. के नेशनल चेयरमैन और डीयू की एकेडेमिक काउंसिल के सदस्य प्रो. हंसराज सुमन ने कार्मिक मंत्रालय द्वारा जारी सर्कुलर पर कहा है कि इससे ओबीसी कोटे के उम्मीदवारों को सीधी भर्ती और प्रतियोगिताओं में दोहरा लाभ मिलेगा, अब उन्हें अपनी योग्यता को दर्शाने का मौका दिया जाएगा। वह आरक्षित व अनारक्षित दोनों ही पदों पर अपनी योग्यता दर्शा सकते हैं लेकिन वह तभी संभव है जब सामान्य श्रेणी के उम्मीदवारों के बराबर अंकों का स्तर हो। प्रो. सुमन ने बताया है कि केंद्र सरकार के उपसचिव राजू सारस्वत ने सभी मंत्रालयों और विभागों को भेजे गए पत्र में अनुरोध किया है कि इन निदेर्शों को सभी आवश्यक संस्थाओं को प्रेषित करके अधिसूचित किया जाए ताकि वो सही से लागू हो।

Searching Keywords:

facebock whatsapp

Comments

Leave a comment

Your email address will not be published.

Similar News