Updated -

mobile_app
liveTv

नई दिल्ली। भारत को सीरिया बनाने वाले बयान पर मचे बवाल के बाद आर्ट ऑफ लिविंग संस्था के मुखिया श्री श्री रविशंकर ने मंगलवार को सफाई दी। उन्होंने कहा कि वो धमकी थोड़ी ना है, वो सतर्कता है। यहां शांति रहने दीजिए। हमारे देश को सीरिया जैसे नहीं बनाना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि मैं सपने में भी नहीं सोच सकता कि मैं किसी को धमकी दूं। जो हमने कहा कि हमारे देश में ऐसी हिंसा नहीं होनी चाहिए। जैसी मिडिल ईस्ट में हुई, इससे हमें डर लगता है। श्री श्री ने ओवैसी पर भी पलटवार करते हुए कहा कि सावधानी को धमकी मानना और सौहार्द को हमला मानना विकृत मन की पहचान है। श्री श्री ने कहा था कि अयोध्या विवाद नही सुलझा तो देश सीरिया बन जाएगा। 

एआईएमआईएम नेता और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने इस बयान को भडक़ाऊ बताते हुए श्री श्री पर केस दर्ज करने की मांग की। ओवैसी ने कहा, इससे स्पष्ट होता है कि इन्हें संविधान पर भरोसा ही नहीं है। संविधान, कोर्ट और कानून पर भरोसा ना करने वाले ऐसे इंसान के खिलाफ एफआईआर दर्ज करके जेल में बंद कर देना चाहिए। वह खुलेआम लोगों को हिंसा के लिए उकसा रहे हैं और डर और हिंसा का माहौल बना रहे हैं। अगर इनके खिलाफ कोई ऐक्शन नहीं लिया जाता तो यह बहुत दुर्भाग्यशाली होगा। 

आपको बता दें कि कोर्ट से बाहर अयोध्या विवाद का हल तलाशने की कोशिश में जुटे आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर ने सोमवार को कहा था कि अगर अयोध्या विवाद नहीं सुलझा, तो सीरिया में भारत बदल जाएगा। उन्होंने कहा था कि इस देश के भविष्य को ऐसे चंद लोग, जो संघर्ष पर ही अपना अस्तित्व समझते हैं, उनके हवाले मत करिये. यहां शांति रहने दीजिए। हमारे देश को सीरिया जैसा नहीं बनना चाहिए। ऐसी हरकत यहां हो जाए, तो सत्यानाश हो जाएगा।

Searching Keywords:

facebock whatsapp

Similar News