Updated -

mobile_app
liveTv

शास्त्रों की मानें तो कुछ एेसे बुरे काम बताए गए हैं जो लंबे समय तक किसी से छिपाए नही जा सकते। आजकल के समय में चाहे कोई कितना भी इन कामों को छिपाने की कोशिश करे, फिर भी किसी न किसी तरह से समाज को इन कामों के बारे में पता लग ही जाता है। जब ये काम घर-परिवार और समाज में सभी को मालूम हो जाते हैं तो स्त्री हो या पुरुष, दोनों को ही अपमानित होना पड़ता है और कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। यहां जानिए महाभारत, रामायण और गरुड़ पुराण में बताए गए 5 कामों के बारें में।

 

झूठ बोलना
सभी जानते हैं कि एक झूठ को छिपाने के लिए सौ झूठ और बोलना पड़ते हैं, फिर भी झूठ अधिक समय तक छिप नहीं सकता है। महाभारत में कर्ण ने परशुराम से झूठ बोला था कि वह ब्राह्मण है। परशुराम में कर्ण को ब्राह्मण समझकर उसे सभी प्रकार के अस्त्र-शस्त्र का ज्ञान दिया, लेकिन एक दिन परशुराम को ये सच्चाई मालूम हो गई कि कर्ण ब्राह्मण नहीं है। इसके बाद परशुराम ने शाप दे दिया था कि कर्ण को जिस समय इन अस्त्र-शस्त्र की सबसे ज्यादा आवश्यकता होगी, उसी समय वह इन्हें चलाना भूल जाएगा। इसी शाप के कारण कर्ण महाभारत युद्ध में अर्जुन के सामने इन शक्तियों को भूल गया था और अर्जुन के बाण से मारा गया था। इसीलिए हमें भी झूठ बोलने से बचना चाहिए।


धोखा देना 
महाभारत युद्ध दुर्योधन और मामा शकुनि के धोखे और कपट का भी परिणाम था। कौरवों ने पांडवों के साथ कई बार कपट किया था और अंत में पांडवों के हाथों सभी कौरव मारे गए। भगवान भी कपटी लोगों की मदद नहीं करते हैं। इसीलिए कपट से बचना चाहिए। कपट भी लंबे समय तक छिप नहीं सकता है। दूसरों को धोखा देना पाप है और इस पाप की सजा अवश्य मिलती है।

 

हत्या करना
ये ऐसा पाप है, जिसकी सजा अवश्य मिलती है। शास्त्रों के अनुसार किसी की भी हत्या करना अक्षम्य पाप है। अक्षम्य यानी जिसके लिए क्षमा नहीं किया जा सकता है। हत्या कभी भी छिप नहीं सकती है। हमारे सामने इस संबंध में कई उदाहरण आते रहते हैं, जहां ये बात साबित हो जाती है कि कितनी भी पुख्ता योजना क्यों न हो, हत्या सामने आ ही जाती है। हत्या के दोषी को देर से सही पर सजा जरूर मिलती है। इस पाप को छिपाने की सभी कोशिशें असफल हो जाती हैं।

Searching Keywords:

facebock Whats App

Comments

Leave a comment

Your email address will not be published.