Updated -

mobile_app
liveTv

सिडनी: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रही टेस्ट सीरीज के आखिरी टेस्ट के तीसरे दिन के अंतिम सत्र में संकट में फंसी ऑस्ट्रेलिया टीम को बारिश ने ऑलआउट होने से बचा लिया. ऑस्ट्रेलिया की टीम भारतीय स्पिनर्स के जाल में ऐसी उलझी की अब उसके लिए फॉलोऑन बचाना मुश्किल हो गया है. दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 6 विकेट गंवाते हुए 236 रन बना लिए थे और वह टीम इंडिया से 386 रन पीछे थी.

अभी दिन के 16 ओवर ही बाकी थे कि बारिश होने के कारण मैच रोक देना पड़ा और ऑस्ट्रेलियाई टीम ऑल आउट होने से बच गई. उससे पहले टीम इंडिया के लिए कुलदीप यादव और रवींद्र जडेजा ने शानदार गेंदबाजी की. दोनों ने पिच से ज्यादा मदद नहीं मिलने के बाद भी ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों को जमने नहीं दिया और वे नियमित अंतराल पर विकेट निकालते गए. 
तीसरे सत्र के पहले ओवर में ही बोल्ड हुए टिम पेन
तीसरे सत्र की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया के लिए अच्छी नहीं रही. सत्र के पहले ओवर में ही कुलदीप यादव ने मेजबान टीम के कप्तान टिम पेन को बोल्ड कर दिया. इसके बाद हैंड्सकॉम्ब ने पैट कमिंस के साथ मिलकर 38 रनों की साझेदारी की जिसके बाद बारिश ने टीम को बचा लिया. ऑस्ट्रेलिया के लिए मार्कस हैरिस ने सबसे ज्यादा 79 रन बनाए. भारत के लिए कुलदीप यादव ने तीन और रवींद्र जडेजा ने दो विकेट लिए. मोहम्मद शमी को एक सफलता मिली.
पहले सत्र में मजबूत रही ऑस्ट्रेलिया
ऑस्ट्रेलिया ने दिन के पहले सत्र का अंत एक विकेट के नुकसान पर 122 रनों के साथ किया. उसने पहले सत्र में उस्मान ख्वाजा (27) के रूप में अपना पहला विकेट गंवााया. पहले सत्र में केवल एक विकेट लेने के बाद भारत ने दूसरे सत्र में वापसी करते हुए मेजबान ऑस्ट्रेलिया को संकट में डाल दिया. ऑस्ट्रेलिया ने चायकाल तक अपनी पहली पारी में 198 रन बनाते हुए अपने 5 विकेट गंवा दिए. मेजबान बल्लेबाज दूसरे सत्र में अपनी सफलता जारी नहीं रख सके और विकेट खोते चले गए.

जडेजा ने खतरा बने हैरिस को किया चलता
इस सीरीज के एडिलेड में खेले गए पहले टेस्ट मैच से पदार्पण करने वाले मार्कस हैरिस अपना पहला शतक पूरा नहीं कर पाए. दूसरे सत्र के तीसरे ओवर में ही रवींद्र जडेजा ने उन्हें पवेलियन वापस भेज दिया. जडेजा की बाहर जाती गेंद पर हैरिस कट मारने गए और गेंद उनके बल्ले का अंदरूनी किनारा लेकर विकेट पर जा लगी. शानदार बल्लेबाजी कर रहे हैरिस दुर्भाग्यशाली रहे और 120 गेंदों पर 79 रन बनाकर आउट हो गए. उनकी पारी में आठ चौके शामिल रहे.
जडेजा ने ऑस्ट्रेलिया के भरोसेमंद बल्लेबाज शॉन मार्श (8) को भी टिकने नहीं दिया और 144 के कुल स्कोर पर उन्हें स्लिप में खड़े अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच कराया. 
जडेजा के बाद मोहम्मद शमी ने ऑस्ट्रेलिया की एक और उम्मीद पर पानी फेर दिया. उन्होंने मार्नस लैबुशेन को 152 के कुल स्कोर पर रहाणे के हाथों की कैच कराया. शमी ने लैबुशेन के पैर पर गेंद फेंकी जिसे उन्होंने फ्लिक किया और रहाणे ने शॉर्ट स्क्वायर पर शानदार कैच पकड़ ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज की संयम भरी पारी का अंत किया. लैबुशेन ने 95 गेंदों पर सात चौकों की मदद से 38 रन बनाए. 
34 रनों के भीतर तीन विकेट खोने के बाद मेजबान टीम संकट में आ चुकी थी. वहीं लग रहा था कि दूसरे सत्र का खेल खत्म होते-होते भारतीय गेंदबाज एक-दो विकेट और निकाल लेंगे. ट्रेविस हेड (20) और हैंड्सकॉम्ब ने हालांकि उनके इंतजार को कुछ देर के लिए बढ़ा दिया. दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 40 रन जोड़े. कुलदीप यादव ने हेड को अपनी ही गेंद पर लपक भारत को पांचवीं सफलता दिलाई.

इससे पहले, भारत ने चेतेश्वर पुजारा (193), ऋषभ पंत (नाबाद 159), रवींद्र जडेजा (81) और मंयक अग्रवाल (77) की बेहतरीन पारियों के दम पर भारत ने दूसरे दिन अपनी पहली पारी सात विकेट के नुकसान पर 622 रनों पर घोषित की थी.

Searching Keywords:

facebock whatsapp

Similar News