Real Time Web Analytics

Updated -

कार्यालय संवाददाता
जयपुर। जनक्रांति मंच की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूजा छाबड़ा सोमवार को अलवर जिले के भीकमपुरा स्थित तरुण आश्रम पहुंची। जहां छाबड़ा ने भीकमपुरा में चल रहे तीन दिवसीय सामाजिक कार्यकर्ता नेतृत्व निर्माण शिविर के समापन समारोह में हिस्सा लिया। समारोह में मौजूद सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश समेत कई समाज सुधारकों ने राजस्थान में पूजा छाबड़ा की ओर शराबबंदी के लिए चलाई जा रही मुहीम की प्रशंसा की तथा शराबबंदी की मुहीम को आगे बढ़ाने के लिए हरसंभव सहयोग का वादा किया। स्वामी अग्निवेश ने कहा कि शराब मुक्त राजस्थान के निर्माण के लिए पूजा छाबड़ा गांव गांव जाकर जो अलख जगा रही है, वह अनुकरणीय मिसाल है। वे पूजा छाबड़ा की इस मुहीम में साथ है। उन्होंने बिहार का उदाहरण देते हुए कहा कि जिस प्रकार बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने सत्ता संभालते ही शराबबंदी लागू की उसी प्रकार राजस्थान में भी उन राजनेताओं की जरुरत है जो शराबबंदी को लागू कर सके। आने वाले समय में शराबबंदी राजनैतिक मुद्दा बनेगा।
जीवन बचाओ आंदोलन के संयोजक नितेन्द्र मानव ने कहा कि शराब सेवन से खोखले हो रहे समाज को बचाने के लिए आज जरूरी है कि शराब पर एक राष्ट्रीय सोच कायम हो ताकि इस बुराई से जड़ से छुटकारा पाया जा सके। युवाओं में शराब के बढ़ते उपयोग से नई पीढ़ी का शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य इस कदर दुष्प्रभावित हो गया है कि युवा पीढ़ी का करियर भी प्रभावित हो रहा है। जनक्रांति मंच की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूजा छाबड़ा ने कहा कि राजस्थान को शराब मुक्त प्रदेश बनाने का जो सपना शहीद गुरुशरण छाबड़ा ने देखा था उसे पूरा करने के लिए वे अपने प्राणों को न्यौछावर भी कर देंगी। इस मौके पर तरुण भारत संघ के संयोजक राजेन्द्र सिंह, एकता परिषद् के संयोजक पीवी राजगोपाल, आईपीएस पीके सिद्धार्थ, मनोहर मानव समेत कई समाज सुधारक मौजूद रहे।

share on whatsapp

Comments

Leave a comment

Your email address will not be published.

Give Us Rating :