Updated -

जयपुर।

प्रदेश के सबसे पुराने और प्रतिष्ठित विवि, राजस्थान यूनिवर्सिटी के नए कुलपति के नाम को लेकर कयासों का दौर जारी है। विवि के तमाम शिक्षक और कर्मचारियों के साथ ही छात्रों की जुबान पर भी आने वाले कुलपति को लेकर चर्चाएं चल रही हैं।

इस बीच राजस्थान पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय बीकानेर के कुलपति का अतिरिक्त कार्यभार स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय बीकानेर के कुलपति डाॅ. बी. आर. छीपा को सौंप दिया गया। इसको लेकर राजस्थान के कुलाधिपति और राज्यपाल कल्याण सिंह की ओर से आदेश जारी कर दिए गए हैं।

बीकानेर के अलावा राजस्थान विवि, मोहनलाल सुखाड़िया विवि, जोधपुर के कुलपति का भी चयन होना है। राजस्थान विवि के कुलपति के लिए पांच सदस्यों का नाम राज्यपाल के पास भेजे जा चुके हैं। जिनमें से एक का चयन कर हस्ताक्षर के बाद नोटिफिकेशन जारी होने का इंतजार है। बताया जा रहा है कि विवि के कुलपति की दोड़ में राजस्थान विवि के लिए एक पूर्व प्रो. आरके कोठारी का सबसे आगे है। इसके साथ ही दिल्ली विवि की प्रो. कुसुम यादव का नाम भी रेस में माना जा रहा है।

हालांकि राजभवन की ओर से अभी कुलपति के नाम की घोषणा होने के संकेत नहीं मिले हैंं, लेकिन जिस तरह की चर्चाओं ने जोर पकड़ रखा है, उससे साफ जाहिर है कि कभी भी नए वीसी के नाम की घोषणा हो सकती है। इधर, राजस्थान विवि में शिक्षकों के बीच आने वाले कुलपति को लेकर उत्सुकता के साथ चर्चाओं का बाजार गर्म है। छात्र नेताओं के बीच भी नए कुलपति को लेकर खू​ब चर्चा हो रही है।

आपको बता दें कि वर्तमान में राजस्थान विवि के कुलपति का अतिरिक्त कार्यभार संभागीय आयुक्त राजेश्वर सिंह के पास है। उनसे पहले नियमित कुलपति जेपी सिंघल को डिग्री संबंधी विवाद न्यायालय में चले जाने के कारण कार्यकाल पूरा किए बगैर ही इस्तीफा देना पड़ा था। तब से विवि में कार्यवाहक वाइस चांसलर के भरोसे काम किया जा रहा है। शिक्षकोें का मत है कि नियमित वीसी नहीं होने के कारण कई जरुरी कार्य रुके हैं। इसके साथ ही छात्रों की समस्याएं भी लंबित बताई जाती हैं।
                                       -

share on whatsapp

Comments

Leave a comment

Your email address will not be published.

Give Us Rating :