Updated -

mobile_app
liveTv

26/11 आतंकी हमले पर बनी फिल्म में डायरेक्टर एंथनी मरास ने किया वर्जनल डायलॉग्स का इस्तेमाल

मुंबई में हुए 26/11 आतंकवादी हमले पर बनी फिल्म 'होटल मुंबईÓ में वर्जनल डायलॉग्स इस्तेमाल किया गया है। फिल्म के डायरेक्टर एंथनी मरास ने तकरीबन एक साल तक इस पर रिसर्च किया। उन्होंने घटना के वक्त पुलिस, होटल ताज के स्टाफ और सरवाइवर्स के बीच फोन पर हुई वास्तविक बातचीत को हासिल कर को-राइटर जॉन कोली के साथ मिलकर फिल्म के डायलॉग्स लिखे हैं। मरास कहते हैं, "इस फिल्म से मेरा जुडऩा इमोशनली था। मैंने यह सोचकर फिल्म डायरेक्ट की कि अगर उस स्थिति मैं होता, तब लोगों के लिए क्या कर सकता था। मैं फिल्म की कहानी टीवी और न्यूज रिपोर्ट के जरिए मिली जानकारी के आधार पर नहीं, बल्कि वास्तविक बातचीत और इमोशन को लेकर बनाना चाहता था। इसकी मुख्य वजह सरवाइवर्स और आतंकियों की मानसिक स्थिति को बखूबी दर्शाना था। मरास ने अपनी रिसर्च के बारे में बताया, होटल मुंबई बनाने के लिए काफी रिसर्च की जरूरत थी, जिसमें एक साल का वक्त लगा। मैंने कई सरवाइवर्स और ताज होटल के स्टॉफ से बातचीत की। फोन ट्रांसक्राइव की बातचीत हासिल करना आसान नहीं था। फिर भी मेहनत-मशक्कत करके इसे प्राप्त किया और इसी के जरिए डायलॉग्स बनाते हुए उन्हें फिल्म में इस्तेमाल किया। बकौल मरास, मैं लोगों के सामने सही घटना को लाना चाहता था।  यही वजह है कि फिल्म में वर्जनल डायलॉग्स को शामिल किया, ताकि यह लोगों के दिल को छू सके। अनुपम खेर और देव पटेल स्टारर यह फिल्म 22 नवंबर को रिलीज होगी।  

आलिया के लिए दाल-चावल है बेस्ट

बॉलीवुड अभिनेत्री आलिया भट्ट का मानना है कि घर में पकाए गए भोजन की बात ही कुछ और होती है, ये सबसे स्वादिष्ट होते हैं, इतना ही नहीं आलिया को हमेशा से ही दाल-चावल खाना बेहद पसंद है। आलिया ने (26) आईएएनएस लाइफ को बताया, घर का खाना सबसे अच्छा है। मुझे याद है कि जब भी मेरी मां मेरे लिए पास्ता बनाती थीं, मैं उनसे दाल-चावल मांगा करती थी। एक व्यंजन के तौर पर मैं हमेशा से ही दाल-चावल के काफी करीब रही हूं और मुझे यह काफी पसंद है। आलिया ने अपने कम्फर्ट फूड के तौर पर खिचड़ी को चुना। उन्होंने कहा, मेरा कम्फर्ट फूड खिचड़ी, फ्रेंच फ्राइज और दाल-चावल है। एक हेल्थ फूड के तौर पर मुझे सब्जियों और कार्बोहाइड्रेट्स का एक संतुलित मात्रा लेना होता है। इनके अलावा, मुझे फल भी पसंद है। खुद को फिट कैसे रखती हैं? इस सवाल के जवाब में आलिया ने कहा, "मेरी दिनचर्या में कई तरह की चीजें शामिल हैं। मैं कभी पायलेट्स करती हूं तो कभी स्विमिंग या बैडमिंटन खेलती हूं। मेरा मानना है कि हर रोज शारीरिक तौर पर सक्रिय रहना बेहद आवश्यक है। जब कभी व्यस्त शेड्यूल में से वक्त निकालना मुश्किल हो तब भी यह जरूरी है।

दबंग 3 से सुदीप का फस्र्ट लुक, सलमान ने लिखा- विलेन जितना बड़ा हो, भिडऩे में उतना ही मजा आता है

अपकमिंग फिल्म दबंग 3 से किच्चा सुदीप का पहला पोस्टर रिलीज हो गया है। फिल्म के लीड रोल चुलबुल पांडे निभा रहे सुपरस्टार सलमान खान ने ट्विटर पर इसे शेयर करते हुए लिखा है, विलेन जितना बड़ा हो, उससे भिडऩे में उतना ही मजा आता है। पेश हैं दबंग 3 में बाली के रोल में किच्चा सुदीप। पोस्टर में सुदीप सूटबूट में गुस्से में देखते नजर आ रहे हैं। उनके बैकग्राउंड में आग का सीन दिखाई दे रहा है। फिल्म की शूटिंग पूरी हो चुकी है। इसकी जानकारी भी सलमान ने ट्विटर के जरिए दी थी। उन्होंने एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें वे दिवंगत अभिनेता विनोद खन्ना को याद कर रहे थे। सलमान ने इस वीडियो में कहा था कि  दबंग 3 की शूटिंग वीके सर (विनोद खन्ना साहब) के जन्मदिन पर पूरी हुई। सलमान ने यह भी कहा कि दबंग 3 ने विनोद के भाई प्रमोद खन्ना उनके पिता का रोल कर रहे हैं। प्रभुदेवा के डायरेक्शन में बनी यह फिल्म 20 दिसंबर को रिलीज होगी।  

सायना ने अपनी बायोपिक पर परिणीति को दी शुभकामनाएं

हमेशा सच्चे प्यार की तलाश रही है : श्रुति हासन

अभिनेत्री श्रुति हासन ने अपनी निजी जिंदगी का खुलासा करते हुए कहा है कि उन्हें हमेशा से ही एक सच्चे प्यार की तलाश रही है। वूट के फीट अप विद द स्टार्स तेलुगू के सेट पर श्रुति ने शो की मेजबान लक्ष्मी मांचू से बात की। इस दौरान श्रुति ने अपने संबंधों और निजी जीवन के बारे में खुलासा किया। लक्ष्मी ने श्रुति को बताया, आपके कुछ संबंध रह चुके हैं। इस पर श्रुति ने कहा, केवल एक। इसके बाद लक्ष्मी ने कहा, हम सभी के रिलेशनशिप होते हैं और दिल भी टूटता है, लेकिन करियर की शुरुआत में प्यार और रिलेशन के बारे में आपके क्या विचार थे? श्रुति ने जवाब देते हुए कहा, मैं कूल टाइप थी। मैं बेहद मासूम थी और हर कोई मुझ पर अपना शासन चलाता था। मैं बहुत ईमोशनल हूं और इस वजह से वे हावी हो पाते थे। मैं कहूंगी कि यह मेरे लिए एक बहुत अच्छा अनुभव था। श्रुति ने आगे कहा, आज भी इसका कोई फॉर्मूला नहीं है। अच्छे लोग अच्छे वक्त पर अच्छे रहते हैं और वक्त के साथ यही लोग बुरे भी हो जाते हैं, लेकिन मुझे कोई खेद नहीं है, मेरे लिए यह एक अच्छा अनुभव रहा। मैंने काफी कुछ सीखा और यह सीखने का एक अच्छा अनुभव था, लेकिन मुझे हमेशा से एक अच्छे प्यार की तलाश रही है और मुझे यह ऐलान करते हुए खुशी होगी कि ये वो एक चीज है जिसका मुझे हमेशा से इंतजार रहा है।

सैफ बोले- तैमूर की फोटो खिंचाने में दिलचस्पी नहीं

सैफ अली खान और करीना कपूर के बेटे तैमूर की फोटो अक्सर सोशल मीडिया पर वायरल होती रही हैं। एयरपोर्ट, प्ले स्कूल से लेकर सैफ-करीना के घर के बाहर तक फोटोग्राफर्स को उनकी फोटो के इंतजार में घंटों तक खड़े होते खूब देखा गया है। लेकिन सैफ की मानें तो अब उनके बेटे की फोटो खिंचाने में ज्यादा दिलचस्पी नहीं है और उन्होंने इसके लिए इनकार करना सीख लिया है। उन्होंने यह खुलासा एक इंटरव्यू में किया। दरअसल, कुछ दिनों पहले सैफ के पड़ोसियों ने शिकायत की थी कि उनके घर के बाहर फोटोग्राफर्स की भीड़ जमा होने से उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ता है। जब मामले में पुलिस घर तक पहुंच गई तो सैफ ने फोटोग्राफर्स से बात की और वे ज्यादा देर तक उनके घर के बाहर खड़े न होने के लिए तैयार हो गए। एक इंटरव्यू में सैफ ने इस बात की पुष्टि की और कहा कि वे फोटोग्राफर्स के इस फैसले बहुत खुश हैं। सैफ के मुताबिक, तैमूर भले ही फोटोग्राफर्स को देखने के बाद उनके साथ फ्रेंडली हो जाते हैं। लेकिन फोटो खिंचाने में उनकी बेहद कम दिलचस्पी है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि अब तैमूर ने फोटोग्राफर्स को नो पिक्चर प्लीज (कृपया फोटो न खींचे) कहना सीख लिया है। वर्क फ्रेंट की बात करें तो सैफ को वेब प्लेटफॉर्म पर सीरीज सेक्रेड गेम्स में देखा जा सकता है। बड़े पर्दे पर वे आखिरी बार बाजार (2018) में दिखे थे और उनकी अगली फिल्म लाल कप्तान 18 अक्टूबर को रिलीज हो रही है। इसके अलावा, वे तीन अन्य फिल्मों दिल बेचारा, जवानी जानेमन और तानाजी : द अनसंग वॉरियर में भी नजर आएंगे। 

वहीदा रहमान को मिलेगा किशोर कुमार अलंकरण, खराब सेहत के चलते नहीं होंगी समारोह में शामिल

वयोवृद्ध अभिनेत्री वहीदा रहमान को वर्ष 2018-19 के किशोर कुमार अलंकरण से सम्मानित किया जाएगा। हालांकि वे यह अलंकरण लेने खंडवा नहीं आ पाएंगी। 81 वर्षीय वहीदा रहमान ने उम्र का हवाला दिया है। इसलिए समिति मुंबई जाकर उन्हें इस अलंकरण से सम्मानित करेगी। वहीं, 13 अक्टूबर को होने वाले कार्यक्रम में वर्ष 2017-18 के किशोर कुमार अलंकरण से फिल्म डायरेक्टर प्रियदर्शन को सम्मानित किया जाएगा। पिछले साल प्रियदर्शन के नाम की घोषणा की गई थी, लेकिन विधानसभा चुनाव की आचार संहिता के कारण कार्यक्रम निरस्त कर दिया गया था। संस्कृति विभाग के सुनील मिश्रा ने बताया वहीदा रहमान का स्वास्थ्य खराब है। फ्लाइट से इंदौर फिर खंडवा आने में असमर्थता जताई है। इसलिए अलंकरण उन्हें मुंबई में दिया जाएगा। इससे पहले भी अभिनेता देव आनंद को मुंबई जाकर ही सम्मान दिया गया था। 1955 में तेलुगु फिल्म के जरिए अभिनय की दुनिया में कदम रखने वाली वहीदा रहमान ने संभवत: कभी भी किशोर कुमार के साथ कोई फिल्म लीड रोड में नहीं की। न ही वे इससे पहले कभी खंडवा आई हैं। हालांकि उनकी फिल्मों में किशोर कुमार ने कई गीत गाए हैं। 
यह पहला मौका था जब वे खंडवा आने वाली थीं, लेकिन वे नहीं आ पाएंगी।

भोपाल से संचालित कार्यक्रम
किशोर कुमार अलंकरण का कार्यक्रम संस्कृति विभाग भोपाल से संचालित होता है। इसके लिए टेंट, माइक, संचालक और एक हजार कार्ड भी वहीं से छपकर आते हैं। कार्यक्रम में 8 दिन शेष हैं, लेकिन अभी तक कार्ड छपकर खंडवा नहीं भेजे गए हैं।
यह मिलेगा सम्मान में
पुलिस लाइन मैदान पर होने वाले कार्यक्रम में डायरेक्टर प्रियदर्शन को ताम्रपत्र के साथ दो लाख का चैक, शॉल-श्रीफल भेंट कर अलंकरण से सम्मानित किया जाएगा। 

भूमि पेडनेकर ने जीता ‘फेस ऑफ एशिया’ अवॉर्ड, 24वें बुसान फिल्म फेस्टिवल में डॉली किटी का हुआ प्रीमियर

भूमि पेडनेकर संभवत: पहली इंडियन एक्ट्रेस बन गई हैं, जिन्होंने बुसान में ‘फेस ऑफ एशिया’ अवॉर्ड जीत लिया है। भूमि, 24वें बुसान फिल्म फेस्टिवल में ‘डॉली किट्टी और वो चमकते सितारे’ के लिए गईं थीं। फिल्म वहां के कॉम्पटीशन कैटेगरी में है।  भूमि को ‘फेस ऑफ एशिया’ का अवॉर्ड कोरिया की प्रॉमिनेंट फैशन मैगजीन ने दिया है। फिल्म फेस्टिवल में तकरीबन 150 मेकर्स जमा हुए थे। अवॉर्ड एक्सेप्ट करते हुए भूमि ने कहा-  मैं स्तब्ध हूं। यह मेरी पहली अंतरराष्ट्रीय जीत है। इस पर मुझे गर्व है। इसने मेरे दिल को छुआ है। भूमि आगे कहती हैं - मैंने लगातार ऐसी फिल्मों में काम करते रहने की कोशिश की, जो समाज में बदलाव लाने वाली बड़ी चीज कह रही हों। उन सब्जेक्ट्स का चयन मैं बड़ी संजीदगी से करती रही। उनमें परफॉरमेंस भी दिल लगाकर करती रही हूं। मैं उम्मीद करती हूं कि आगे भी ब्रिलिएंट सिनेमा का हिस्सा फ्यूचर में बनती रहूं। मैं डायरेक्टर अलंकृता श्रीवास्तव, प्रोड्यूसर एकता और रुचिका कपूर समेत पूरी कास्ट का तहेदिल से शुक्रिया अदा करना चाहती हूं। ये सभी बुसान में एक साथ नजर आईं थीं।  

मेरा परिवार क्रिकेट प्रेमी है : प्रियंका चोपड़ा

अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा का कहना है कि वह क्रिकेट की बहुत बड़ी प्रशंसक हैं। प्रियंका ने कहा, मेरे पिता को क्रिकेट पसंद था, इसलिए जब कभी कोई टूर्नामेंट रहता था, तब हम इसे साथ में देखा करते थे और अगर मैं मैच के दौरान उठी और उस वक्त किसी भारतीय खिलाड़ी ने छक्का मारा तो मुझे कुछ देर के लिए खड़ा कर रखा जाता था। क्रिकेट का हमारे परिवार में बहुत महत्व था। मेरे चाचा ने रणजी क्रिकेट खेला है इसलिए क्रिकेट के लिए हमारे परिवार में पागलपन था। प्रियंका ने अपनी शादी के दिनों में दुल्हन की टीम और दूल्हे की टीम के बीच खेले गए क्रिकेट मैच को भी याद किया। हाल ही में स्टार स्पोर्ट्स के क्रिकेट लाइव में आईं प्रियंका ने उस वक्त कहा, मेरे कजिन्स क्रिकेट के फैन हैं इसलिए मेरी शादी के वक्त भी हमने लोगों को दुल्हन की टीम और दूल्हे की टीम में बांटकर क्रिकेट मैच खेला। निक एक बेहतरीन बेसबॉल खिलाड़ी हैं, लेकिन ये दोनों स्पोर्ट्स अलग हैं इसलिए स्वाभाविक रूप से दुल्हन की टीम को मैच में जीत हासिल हुई। फिल्मों में काम की बात करें तो आने वाले समय में प्रियंका, शोनाली बोस की फिल्म द स्काई इज पिंक में नजर आएंगी जो 11 अक्टूबर को रिलीज हो रही है।

हमें बेटियों का मान बढ़ाना चाहिए : भूमि पेडनेकर


बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर अपनी आगामी फिल्म सांड की आंख की रिलीज की तैयारी में व्यस्त हैं। भूमि का मानना है कि महिलाओं के प्रति असमानता का मुद्दा आज भी एक ज्वलंत वास्तविकता है। हालांकि भूमि को उम्मीद है कि बेटियों का मान बढ़ाने और जिस हिसाब से लोग बेटियों के बारे में सोचते हैं उसे कुछ हद तक यह फिल्म बदल पाएगी। भूमि ने कहा, सांड की आंख महिलाओं के प्रति समानता की तह तक बात करता है। जब से हम याद कर सकते हैं तब से महिलाएं देश में असामनता का सामना कर रही हैं। हमारे देश में इस रूढ़िवादी सोच को कुछ साहसी और दृढ़ महिलाओं ने खत्म किया है। इन महिलाओं ने एक क्रांति शुरू की। उन्होंने आगे कहा, और कुछ ऐसा ही तोमर बहनों ने किया। अनजाने में, वह एक ऐसी प्रणाली का हिस्सा थे जो उन्हें किसी भी तरह का कोई अवसर प्रदान नहीं करती थी क्योंकि ये समाज भलाई नहीं चाहती थी, लेकिन वे ऐसा अपनी बेटियों और पोतियों के लिए नहीं चाहती थी।

आखिरकार इतने सालों के बाद मिलने लगे अच्छे रोल : संजय कपूर

द जोया फैक्टर में अपनी भतीजी सोनम कपूर के रील लाइफ पिता बने संजय कपूर का कहना है कि आखिरकार इतने सालों के बाद उन्हें अच्छी भूमिका मिलने लगी है। संजय ने आईएएनएस से कहा, मैं जब युवा था और नब्बे की दशक में शुरुआत कर रहा था, तो सिनेमा की मुख्यधारा की फिल्मों के ज्यादातर किरदार स्टेरियोटाइप थे। इसलिए तब मैंने उन सभी अवसरों को भुनाया जो मेरे सामने आए। हालांकि, मैं यह बताना चाहता हूं कि एक कलाकार के तौर पर इतने सालों के बाद अब जाकर मुझे मनपसंद की भूमिका मिलने लगी है। 1995 से फिल्मी करियर की शुरुआत करने वाले संजय ने प्रेम, राजा, सिर्फ तुम, औजार, मोहब्बत और कोई मेरे दिल से पूछे जैसी फिल्में की हैं। उन्होंने आगे कहा, नब्बे की दशक में करीब-करीब हर कलाकार के साथ टाइपकास्टिंग की जाती थी। अब हमारे पास अपनी विविधता का प्रदर्शन करने लिए उससे बेहतर अवसर हैं।

फोटोग्राफर्स पर भड़कीं आलिया भट्ट गुस्से में बोलीं 'सब लोग 5 कदम पीछे रहो

बॉलीवुड एक्ट्रेस आलिया भट्ट हाल ही में मुंबई के वाडिया हॉस्पिटल पहुंची थीं। यहां उन्होंने दिल की बीमारी से जूझ रहे बच्चों से मुलाकात की और उनकी हौसला अफज़ाई की। लेकिन हॉस्पिटल में आलिया फोटो जर्नलिस्ट्स पर भड़क गईं और उन सबसे चुप रहने को कहा। आलिया को वैसे आपने बहुत कम आपने गुस्से में देखा होगा, वो हमेशा काफी मस्ती के मूड में दिखती हैं। लेकिन इस वीडियो में साफ नजर आ रहा है कि आलिया फोटोग्राफर्स की भीड़ से परेशान हो गई हैं और उन्हें चुप रहने की हिदायत दे रही हैं। वीडियो में दिख रहा है, आलिया भट्ट पहले फोटोग्राफर्स से पीछ हटने को कहती हैं। उसके बाद कहती हैं मैं कहीं नहीं जा रही हूं मैं यहीं खड़ी हूं आप लोग प्लीज थोड़ा पीछे हट जाओ। इसके बाद लिया जोर से चिल्लाती हैं और कहती हैं 'जैसे स्कूल में साइलेंस होता है वो सब साइलेंस ये हॉस्पिटल है यहां हम चिल्ला नहीं सकते। इसके बाद सब वहां शांत हो जाते हैं। इससे पहले भी आलिया का एक गुस्से वाला वीडियो वायरल हुआ था। जिसमें आलिया अपने बॉडीगार्ड से गुस्से में बात करती दिख रही थीं। उस वीडियो में दिख रहा था कि आलिया अपनी कार से उतरतीं तभी बॉडी उनके साथ-साथ आगे बढ़ता, इस बात पर आलिया तेवर दिखाते हुए कहती हैं जाइए आप ही आगे जाइए। एक्ट्रेस के इस व्यवहार के लिए उन्हें काफी ट्रोल भी किया गया था। लोगों ने उनके एटीट्यूड को बहुत खराब बताया था। एक्ट्रेस के वर्क फ्रंट की बात करें तो आलिया हाल ही में मल्टी स्टारर फिल्म कलंक में दिखी थीं। हालांकि फिल्म बुरी तरह फ्लॉप रही थी। अब आलिया रणबीर कपूर के साथ ब्रह्मास्त्र में नजर आने वाली हैं। फिलहाल फिल्म की शूटिंग चल रही है।