Updated -

mobile_app
liveTv

कोई ना सोए भूखा इस उद्देश्य से कर रहे जनसेवा

कोई ना सोए भूखा इस उद्देश्य से कर रहे जनसेवा
जयपुर टाइम्स
झालावाड़ (निसं)। जिले के अकलेरा कस्बे में  कलाल समाज के युवाओ द्वारा जरुरतमंदो को छ्ब्बीस मार्च से नियमित रूप से पाँच सौ से अधिक भोजन के पैकेट का वितरण किया जा रहा है समाज के युवाओं द्वारा बाहर से आये मजदूरों हॉस्पिटल में भर्ती मरीजों व उनके परिजनो व शहर में स्थित कच्ची बस्तियों में रह रहे गरीब जरुरतमंदो की दयनीय स्थिति को देखते हुए समाज के युवाओं  द्वारा निर्णय लिया गया की कोई भी जरुरतमंद भूखा ना रहे व इसी सोच के साथ मानव सेवा का बी?ा उठाकर छब्बीस मार्च को कलाल समाज द्वारा युवा समाज सेवा समिति का गठन किया गया समिति के अध्यक्ष एडवोकेट सुनील पारेता अपनी समिति के पदाधिकारियों एडवोकेट भोजराज ,जगदीश (जेपी) पारेता,राजमल पारेता,महेश पारेता , शेखर पारेता,दीपेश वर्मा,रवि पारेता व पप्पू पारेता आदि सभी सदस्यों के साथ मानव सेवा के इस कार्य मे दिन रात लगे हुए है समिति का लक्ष्य है कि इस विपदा की घड़ी में कोई भी जरूरतमंद भूखा ना रह पाए।
पालघर में हिन्दु साधुओ की नृशंस हत्या काण्ड 
को लेकर पीएम को लिखा संदेश
जयपुर टाइम्स
कोटा (निसं)। महाराष्ट्र पालघर में वयोवृद्ध सन्यासी कल्प वृक्ष गिरी जी महाराज व सुशील गिरी महाराज व उनके वाहन चालक की लगभग 200 लोगों की भीड़ द्वारा लोक डाउन के वक्त रात्रि के समय हथियारों से लैस मात्र चंद मिनटों में घात लगा कर योजनाबद्ध रूप से पुलिस प्रशासन की कस्टडी में नृशंस बर्बरता पूर्वक लाठी-डंडों व धारदार हथियारों से हमला कर हत्या कर दी गई इस संदर्भ में ब्राह्मण कल्याण परिषद के संयोजक अनिल तिवारी ने मांग पत्र भेजकर साधुओ के प्रति न्याय दिलाने की मांग की है। मांग पत्र में कहा कि यह सिर्फ दो हिंदू साधु सन्यासी की हत्या नहीं, यह सनातन धर्म पर किया गया हमला है। वहां पर बड़ी तादाद में हिंदुओं का धर्मांतरण होता आया है। वहां के आदिवासियों में हिंदुओं के प्रति वर्शों से लगातार जहर घोला जा रहा है उसी के परिणाम स्वरूप् साधु संतों की हत्याओं से संपूर्ण देष और विष्व के समस्त हिंदू सनातनी साधु संतों में भारी रोश आक्रोष व्याप्त है। ब्राह्मण कल्याण परिषद का कहना है कहा कि इन संतो को अविलंब फास्ंटट्रैक कोर्ट में समुचित न्याय दिलाया जाए वह अपराधियों को तत्काल मृत्युदंड दिया जाए। महाराश्ट्र सरकार इन संतों के साथ न्याय करने में सक्षम व पारदर्षी नहीं है क्योंकि महाराश्ट्र की त्रिषंकु सरकार में एनसीपी का समर्थन भी है। पूरे भारतवर्श को आपसे अविलंब समुचित न्याय की उम्मीद है। यदि ऐसा नहीं होगा तो संपूर्ण हिंदू सनातन साधु संत समाज के साथ ब्राह्मण समाज भी कोटा से महाराश्ट्र सरकार को घेरने के लिए निकलेगा। क्योंकि संतों की व धर्म की रक्षा करने का दायित्व संपूर्ण हिंदू समाज के साथ ब्राह्मण समाज का भी है। आप स्वयं भी महान संत विभूति त्यागी तपस्वी है। दोनों हिंदू साधु और वाहन चालक की जघन्य हत्या कांड का अविलंब न्याय प्रदान करने की अपील की। 
दूरदर्शन एवं आकाशवाणी में नि:शुल्क स्लॉट देने के लिए आमेर विधायक ने लिखा केंद्र को पत्र
जयपुर टाइम्स
जयपुर (कासं)। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष एवं आमेर विधायक डॉ सतीश पूनिया ने राजस्थान माध्यमिक शिक्षा के लिए शिक्षा मंत्री गोविंदसिंह डोटासरा के द्वारा दूरदर्शन एवं आकाशवाणी पर नि:शुल्क स्लॉट मांगे जाने पर केंद्रीय मंत्री अभिशंषा पत्र लिखा है। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को लिखे पत्र में डॉक्टर पुनिया ने विद्यार्थियों के हित में दूरदर्शन एवं आकाशवाणी पर नि:शुल्क स्लॉट दिए जाने की अनुशंषा की है। राजस्थान के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कोरोना महामारी के संक्रमण के चलते विद्यार्थियों की पढ़ाई में हो रहे नुकसान की भरपाई करने के लिए दूरदर्शन एवं आकाशवाणी पर स्लॉट चलाने की योजना बनाई है, ताकि विद्यार्थियों की पढ़ाई का नुकसान नहीं हो।
होम्योपैथिक विभाग ने बांटे दवाई के किट
जयपुर टाइम्स
ब्यावर (निसं)। आयुष मंत्रालय भारत सरकार एवं निदेशालय होम्योपैथीक चिकित्सा वि•ााग राजस्थान  सरकार के आदेशों की पालना में राजकीय होम्योपैथिक चिकित्सालय ब्यावर की ओर से कोरोना ड्यूटी दे रहे कर्मचारियों को होम्योपैथिक रोग प्रतिरोधक दवा के किट का वितरण किया गया। चिकित्सक डॉ.विरेन्द्र रावत एवं विनय जैन, कम्पाउंडर रामराज मीणा ने किट तैयार किए है। डॉ.रावत ने बताया कि दवा के 125 किट नगर परिषद को अधिकारियों, 470 किट सफाईकार्मिको, 75 किट पुलिस कार्मिको को वि•िान्न चैक पॉइंट पर वितरित किए गए। इससे पूर्व 300 किट राजकीय अमृतकौर चिकित्सालय के स्टाफ के लिए वितरित किए गए। इसी प्रकार राजकीय चांदमल मोदी आयुर्वेदिक चिकित्सालय की ओर से बांटे जा रहे रोग प्रतिरोधक क्वाथ (काढे) के पैकेट के तहत मंगलवार को 720 किटो का वितरण किया गया। डॉ.सुरजीत कौर छाबड़ा ने बताया कि डॉ.रमाशंकर पचौरी के निर्देशन में 120 पैकेट सदर थाना, 300 पैकेट महिला एवं बाल विकास तथा 300 पैकेट मिडिया एवं अन्य कोरोना वॉरियर्स को दिए गए है। इस दौरान हुकमसिंह, रविन्द्रसिंह चौहान आदि ने सेवाएं दी।  
11 हजार रूपए की राशि का चैक सौंपा
जयपुर टाइम्स
पावटा (निसं)। समाज सुधार रैगर सभा परगना सत्ताईसा क्षेत्र द्वारा बुधवार को कोरोना बीमारी की रोकथाम के लिए मुख्य मंत्री सहायता कोष के लिए 11 हजार का चैक विधायक इन्द्राज गुर्जर को सौंपाा। सभा अध्यक्ष सूरजमल खुराडिया, कोषाध्यक्ष सन्तोष कुमार भूराडिया व सचिव सुरेन्द्र कुमार मौर्य ने विधायक को चैक भेंट किया। इस अवसर पर विधायक गुर्जर ने कहा कि इस विकट परिस्थिति से जुुझने के लिए भामाशाहों को आगे आने की दरकार है। हम सब को मिल कर इस बीमारी का सामना कर इस पर विजय पाना है।  


 

कोरोना योद्धाओं का स्वागत

जयपुर टाइम्स
सालासर (निसं)। जहाँ देश में एक और कोरोना जैसी महामारी का तांडव चल रहा है जिसमें लोकडाउन लगा हुआ है और सभी लोग अपने घरों में ही रह रहे हैं, वहीं दूसरी चिकित्सा कर्मी, पुलिस महकमा, सफाई कर्मी अपनी जान की बाजी लगाकर दिन रात अपने काम में लगे हुए, भाजपा जिला उपाध्यक्ष धर्मवीर पुजारी, सुजानगढ़ भाजपा देहात मंडल अध्यक्ष मनोज शर्मा (भाणेज) आदित्य पुजारी, राकेश पुजारी,  धोलू पुजारी, दलीप शर्मा व रामचंद्र शर्मा व आनंद पुजारी सहित अनेक लोगों ने राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य के केंद्र पर चिकित्सा कर्मियों, पुलिस थाना, सीकर तिराहा पर तैनात पुलिस के जवानों व मीडियाकर्मियों जैसे  इन कोरोना योद्धाओं का श्री बालाजी महाराज का दुपट्टा ओढाकर स्वागत किया, थानाधिकारी महेन्द्र कुमार सेन ने लोगो से घरों में रहने की अपील की साथ ही कहा कि सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट नहीं डाले और एक दूसरे से दूरी बनाकर रखें।
 ताकि जल्द ही इस महामारी का काबू पाया जा सके ।
फोटो केप्शन सालासर कोरोना योद्धाओं का दुपट्टा ओढाकर स्वागत करते हुए।

बालाजी गौशाला में चिडिय़ों के लिए लगाई दौ सौ घोसलें

जयपुर टाइम्स
सालासर (निसं)। विश्व प्रसिद्ध सालासर बालाजी धाम स्थित श्री बालाजी गौशाला मे गायो की सेवा के साथ-साथ पक्षियों से भी विशेष लगाव व प्रेम रखा जाता है इसी उद्देश्य से पक्षियों के लिए गौशाला अध्यक्ष रविशंकर पुजारी ने पेडों पर 200 घोंसले बांधे जिससे पक्षी घूमफिर कर घोंसले मे विश्राम कर सके वहीं पक्षियों के लिए घोंसले बनाने का मुख्य उद्देश्य गर्मीयो मे धूप से व सर्दियों मे ठंड से बचाना है वहीं पुजारी ने बताया की पक्षियों की सुरक्षा के लिए इस मुहिम मे पूर्व मे भी कई घौंसले पेडों व अनेक स्थानों पर लगाये जा चूके है।
इस मुहिम से लोगों को प्रेरणा लेनी चाहिए तथा गौ सेवा के साथ-साथ पशु पक्षियों की भी सेवा करनी चाहिए जिससे मानव जीवन के कर्तव्यो की पालना हो सके। 
वहीं पुजारी के इस सराहनीय प्रयास की लोगों ने प्रशंसा की। 

8 लाख नए किसान ऋण योजना से जुड़े, अपात्र हुए बाहर

जयपुर टाइम्स
जयपुर (कासं)। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मंशा पर शुरू की गई सहकारी फसली ऋण ऑनलाइन वितरण प्रक्रिया अब अपना रंग दिखा रही है। इस योजना को लागू करने वाला राजस्थान देश में पहला राज्य बना था। पहले ही साल में 8 लाख से ज्यादा नए किसानों को इसका फायदा मिला है। वास्तविक और पात्र किसानों को फसली ऋण का लाभ मिले इस मंशा से एक साल पहले प्रदेश में ऑनलाइन फसली ऋण प्रणाली शुरू की गई थी। इसका मकसद पात्र किसानों की पहचान के साथ ही ज्यादा से ज्यादा नए किसानों को फसली ऋण योजना का लाभ दिया जाना था।
7 लाख किसानों को 1800 करोड़ राशि का ऋण दिया : सहकारिता रजिस्ट्रार नीरज के. पवन का कहना है कि ऑनलाइन आवेदन और बॉयोमीट्रिक आधारित सत्यापन व्यवस्था लागू होने से जो अपात्र किसान योजना का लाभ ले रहे थे वो बाहर हो गए हैं. वहीं 8 लाख ऐसे नए किसानों ने अपना पंजीकरण करवाया है, जिन्हें अभी तक एक बार भी फसली ऋण योजना का लाभ नहीं मिल पाया था. नए रजिस्टर हुए 8 लाख किसानों में से 7 लाख किसानों को 1800 करोड़ राशि का ऋण भी वितरित किया जा चुका है।
मुख्यमंत्री के थे निर्देश : सहकारिता रजिस्ट्रार के मुताबिक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश थे कि सहकारी फसली ऋण वितरण में भेदभाव को समाप्त कर पारदर्शी व्यवस्था को अपनाया जाए ताकि पात्र किसानों को इसका लाभ मिले और उन्हें साहूकारों के चंगुल से भी मुक्ति मिले। इस नई फसली ऋण वितरण योजना में 8 लाख नए किसानों के साथ ही 13 लाख पुराने किसान भी शामिल हैं, जिन्हें 8,244 करोड़ का फसली ऋण वितरित किया गया है।

गलत तरीके से ऋण लेने वाले किसान हुए बाहर
इस बार रबी सीजन में पिछले खरीफ सीजन के मुकाबले किसानों को 25 प्रतिशत ज्यादा राशि का ऋण वितरित किया गया है. पारदर्शी व्यवस्था लागू होने से अब तक गलत तरीके से ऋण ले रहे लाखों किसान फसली ऋण प्रक्रिया से बाहर हो गए हैं. जरुरतमंद लाखों नए और पात्र किसानों को योजना का लाभ मिल पाया. राजस्थान में लागू की गई यह व्यवस्था दूसरे राज्यों के लिए भी एक मिसाल है. 
 

किसान महापंचायत की बैठक का आयोजन

जयपुर टाइम्स
दूदू (निसं)। कस्बे के फागी रोड़ पर स्थित जाट छात्रावास में किसान महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामपाल जाट की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया।जिसमें 9अक्टूबर को होने वाली दूदू से जयपुर पैदल मार्च के बारे में विस्तार से चर्चा की गई।जाट ने पैदल मार्च मे प्रत्येक किसान के घर से एक व्यक्ति के आने की अपील की ! जाट ने बताया कि किसानों के खेत से मूंग, ज्वार,बाजरा, मक्का,उड़द की फसल घर आने को तैयार है।लेकिन अभी तक सरकार ने घोषणा नहीं की है कि हम प्रत्येक ग्राम सेवा सहकारी समिति पर खरीद की व्यवस्था न्यूनतम समर्थन मूल्य पर करेंगे ! इससे किसानों के मध्य सरकार के प्रति गहरा रोष व्याप्त है।जाट ने बैठक मे किसानों को बताया की 11 सितंबर 2019 से राजस्थान हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद के सम्बंध में भारत सरकार व राजस्थान सरकार को पूर्व में आदेश दे चुके हैं,कि  आप किसानों की फसल को न्यूनतम समर्थन मूल्य से नीचे दामों पर नहीं बिकने दे तथा इसकी व्यवस्था करके 11 सितंबर को राजस्थान हाईकोर्ट को बताये ! यह जनहित याचिका किसान महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामपाल जाट ने स्वयं के नाम से हाईकोर्ट मे लगा रखी है।हाईकोर्ट मे इसकी पैरवी भी स्वयं जाट अपनी पारम्परिक वेशभूषा साफे,कुर्ते,धोती पहनकर ही करते है।जाट ने कहा कि अब यह देखना है कि राज्य सरकार ओर केंद्र सरकार किसानों के हित में कैसे फैसला लेती है।यदि किसान की फसल एमएसपी पर खरीद होती है तो हम दोनों सरकारों का स्वागत करेंगे। यदि खरीद की व्यवस्था नहीं होती हैं,  तो हम दोनों ही सरकारों का विरोध करेंगे।
बैठक मे रामेश्वर प्रसाद चौधरी, प्रदेशाध्यक्ष छात्र किसान महापंचायत राजस्थान, बजरंगलाल जाजुन्दा, छीतर बैरवा, जगदीशनारायण खुडियाला, रामेश्वर झाग, भंवर लाल सारण,नरेंद्र चोपड़ा, हरलाल क्रांतिकारी, रामलाल बुरी, हनुमान बिजारणिया सहित अनेक पदाधिकारी व किसान मौजूद रहे।

आज देश से भ्रष्टाचारी, चोर भाग रहे हैं, ये मोदी के नेतृत्व से ही मुमकिन : राठौड़

फुलेरा/जयपुर। लोकसभा चुनाव के नजदीक आते ही सभी राजनीतिक दलों के उम्मीदवार लगातार चुनावी सभाओं में मतदाताओं को संबोधित कर रहे हैं। जयपुर ग्रामीण सीट से बीजेपी के उम्मीदवार राज्यवर्द्धन सिंह लगातार लोगों के बीच जाकर वोट और समर्थन देने की अपील कर रहे हैं। राठौड़ फुलेरा में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। यहां उन्होंने कहा कि पीएम नरेन्द्र मोदी देश को एक नया नेतृत्व प्रदान कर रहे हैं। ऐसे में लोगों को उनसे जुड़ना चाहिये। आज देश से भ्रष्टाचारी और चोर भाग रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैंने देश और सेना के लिये एक ही तरह काम किया है। जैसे सेना में मैंने अपने आप को समर्पित कर दिया। ठीक उसी तरह राजनीति में आकर देश के लिये सेवा कर रहा है। उन्होंने कहा कि ये चुनाव देश की दिशा और दशा तय करेगा। उन्होंने मतदाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी ने देश की तस्वीर बदल दी है। भारत की दिशा हमेशा के लिये बदल के रख दी। कांग्रेस पर हमला बोला। आज पाकिस्तान डरा हुआ है। मोदी जी ने देश को ताकत दी है। ये चुनाव दशहरे की तरह है। अच्छाई पर बुराई की जीत है। मोदी जी ने स्वच्छता के लिये स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत की जिसे देशभर में सराहा गया। उन्होंने जयपुर ग्रामीण के मतदाताओं से कहा कि मेरा आपसे पारिवारिक रिश्ता है। अब जान पहचान बढ़ गई है पिछली बार मैं नया था। इस बार संवाद भी पहले से ज्यादा बढ़ा। गौरतलब है कि जयपुर ग्रामीण सीट से राज्यवर्द्धन सिंह के सामने कांग्रेस की ओर से कृष्णा पूनिया को उतारा है। 

प्रत्येक कार्यालय में खुलेंगे मतदाता जागरुकता मंच

चूरू । निर्वाचन विभाग, राजस्थान के निर्देशानुसार निर्वाचन साक्षरता क्लब के तहत जिले के प्रत्येक सरकारी व गैर सरकारी कार्यालयों में मतदाता जागरुकता फोरम ़़ खोले जावेंगे जिसके द्वारा मतदाता पंजीकरण एवं मतदान प्रक्रिया के संबंध में जागरुकता उत्पन्न की जावेगी। बुधवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक आयोजित कर मतदाता जागरुकता फोरम का शुभारम्भ उप जिला निर्वाचन अधिकारी  रामरतन सौंकरिया द्वारा किया गया। उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि शहरी एवं शिक्षित लोगों में मतदान के प्रति कम रूचि दिखाई देती है इस पर चिन्तन किए जाने की आवश्यकता है।  से जिले में चल रहे लिंगानुपात के अन्तर को दूर करने तथा नव मतदाताओं के पंजीकरण के प्रयास किए जावेंगे। स्वीप के नोडल अधिकारी  नरेन्द्र चौधरी ने बताया कि जिले में चल रहे विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के दौरान 20 जनवरी 2019 को प्रत्येक मतदान केन्द्र पर बीएलओ के माध्यम से विशेष शिविर आयोजित किया जा रहा है, अत: नवमतदाताओं के अधिक से अधिक पंजीकरण में सहयोग प्रदान करें। स्वीप के सहायक नोडल अधिकारी  मोहनलाल त्रिवेदी ने मतदाता जागरुकता फोरम की परिकल्पना, गठन की प्रक्रिया, सहभागी सदस्यों एवं आयोज्य गतिविधियों की जानकारी प्रदान की।
 

जिला कलक्टर ने रूकी पेंशन पुन: चालू करवायी

भरतपुर। सामाजिक सुरक्षा पेंशन के लिए कई माह से कई कार्यालयों के चक्कर काट रहे 4 पेंशनर्स को जिला कलक्टर की जनसुनवाई से राहत मिली है।
जिला कलक्टर डॉ0 आरूषि अजेय मलिक ने बताया कि सेवर निवासी डोरी लाल का बैंक खाता स्टेटस क्लोज्ड था। इसका नया बैंक खाता खुलवाकर पेंशन का भुगतान उसके खाते में कर दिया गया है। नदबई निवासी अनारदेई और अशरफी के बैंक खाते नदबई क्षेत्र से बाहर होने के कारण अक्टूबर, 2017 से इनकी पेंशन बन्द कर दी गयी थी। इनके बैंक खाते गत अक्टूबर में पुन: चालू भी कर दिये गये लेकिन इन खातों में पेंशन जमा नहीं होने पर इन्होंने जिला कलक्टर से गुहार लगायी। जिला कलक्टर के जिला कोष अधिकारी को दिये निर्देश के बाद खातों में पेंशन राशि जमा कर दी गयी है। नदबई निवासी चिरौंजी की पेंशन वार्षिक सत्यापन के अभाव में खाते में जमा नहीं हो रही है। जिला कलक्टर से मिलने के बाद इस समस्या का पता चला है। जिला कलक्टर ने चिरौंजी को ई-मित्र पर जाकर सत्यापन करवाने को कहा है। चिरौंजी की पेंशन 1-2 दिन में उसके खाते में जमा हो जायेगी।
इस सम्बन्ध में जिला कलक्टर ने बताया कि किसी को भी वृद्धावस्था, दिव्यांग या विधवा पेंशन मिलने में दिक्कत आ रही है तो ई-मित्र पर जाकर ऑनलाइन चैक करवायें कि क्या गडबढ है। इसके लिए ई-मित्र को निर्धारित फीस ही देनी है। वहॉं से सन्तुष्ट न हों तो कोष कार्यालय, उपखण्ड अधिकारी या सीधे मुझ से मिलें। डोरीलाल, अनारदेई, अशरफी और चिरौंजी ने समस्या समाधान के लिए जिला कलक्टर का आभार प्रकट किया है।

चूरू में स्वाइन फ्लू से मौत

चूरू। प्रदेश में स्वाइन फ्लू से मौत और नए मरीज सामने आने का सिलसिला जारी है। बाढ़मेर और जोधुपर के बाद अब चूरू में भी स्वाइन फ्लू ने दस्तक दे दी है। चूरू जिले के सादुलपुर, सरदारशहर और बीदासर के बाद स्वाइन फ्लू चूरू शहर में प्रवेश कर चुका है। जिले में अब तक स्वाइन फ्लू के 14 मरीज पॉजिटिव मिले हैं और तीन लोगों की इससे मौत हो चुकी है।

चूरू शहर में राजकीय भरतिया अस्पताल में पैरामिडिकल स्टाफ गोकुल शर्मा सहित दो लोग और स्वाइन फ्लू से पॉजिटिव मिले हैं। दोनों मरीजों के सैंपल पॉजिटिव आने पर चिकित्सा विभाग की टीम सतर्क हो गई है। स्वास्थ्य विभाग की टीम दोनों पॉजिटिव मरीजों के घर पहुंची और अन्य परिजनों की प्राथमिक जांच की। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने करीब 50 घरों का सर्वे किया और 21 स्वाइन फ्लू के लक्षणों वाले लोगों को टेमीफ्लू की दवा दी।

शनि अमावस्या आज, श्रद्धालुओं की भीड़ मेले का आयोजन

सीकर जिले में चाईनीज माझें की ब्रिकी जोरो पर

सीकर । मक र संक्राति का पर्व 14 जनवरी को मनाया जाता है। इस दौरान इससे पूर्व यहा पर पतंगबाजी का दौर लम्बे समय तक चलता है। 
लेकिन पतंगबाजी का यह दौर चले और यह कई पीढिय़ो से चलता आ रहा है। पूर्व मे हमारे बुर्जग पतंग व डोर हाथ से बनाते थे। खासकार मांझे को वे बड़ी मेहनत से तैयार करते थे।उस दौर में बल्वो का चलन था सो वे नये पुराने बल्वो को खरीदते, उनको इक्क्ठा करते व बड़ी मेहनत से मकंर संक्राति के लिए डोर तैयार करते। पर धीरे धीरे वक्त के साथ डोर का बाजार रेडिमेड हो गया। और बरेली सहित और प्रायकर सभी ने मेहनत छोड़ रेडिमेड डोर पर अपना फोकस बना लिया। और उसका उपयोग करने लगे पर समय के साथ युवा वर्ग व बगाों में अधिक पेच काटने व अच्छे माझें की ललक को लेकर अपना रूख किया चाइनीज मांझे की तरफ। शुरूआत मे तो यह मांझा किस तरह का है किसी को समझ मे नही आया। कुछ बर्षो पूर्व से ही यह डोर इतनी तेजी से बाजार में फैला जिसकी कोई कल्पना भी नही की होगी। जगह जगह बड़े से लेेेेकर छोटे दुकानदारो ने चाईनीज मांझे पर अपना ध्यान केन्द्रित कर लिया।
इसके कई मुख्य कारण थे। इनमे प्रमुख थी कि इनकी पैकिंग छोटी आती है। खरीददारो को ज्यादा रकम नही देनी पड़ती है। वही इसके पैसे और डोर से कम है। तथा इसमे बड़े दुकानदारो व छोटे दुकानदारो को मुनाफा ज्यादा है। सो वे अपना सारा ध्यान इसी पर केन्द्रित करने लगे। पर देखे इसके अवगुणो के बारे मे तो इसका पता बड़े दुकानदारो को तो पता था लेकिन उन्होने अधिक मुनाफे के कारण इस राज को नही खोला और अपनी कमाई नजरे गढ़ाई रखी। लेकिन आमजन को बहुत जल्द ही पता चल गयाकि इस चाईनिज मांझे से कितने नुकसान है। बीते कुछ बर्षो की बात करे तो कई बगाों ने अपनी जान गवाई है। इस डोर से यही नही पतंग के कटने के बद जब डोर को खीचंा जाता है तो इसकी चपेट मे कई राहगीर व वाहन चालक भी लपेटै मे आ जाते है। उनको भी कई मौको पर अपनी जान गंवानी पड़ी व शरीर के अंग गवंाने पड़े।
पर अब गौर किया जाये चाईनीज मांझे की ब्रिकी पर तो बड़ी मछलिया इसे लगातार वैसे ही बेच रही है जैसे कि पुर्व मे बेचा करती थी।ये अपना माल मुख्य दुकानो पर न रखक र दुरदराज बने दुकानेा व  गोदामो मे अपना माल रखते है। या अपने आस पास के धरो  से इसकी सप्लाई करते है। पर अब इसके बाद जो भी कारवाई प्रशासन द्वारा की जाती है वो छोटे दुकानदारो पर की जाती है। बड़ो के साथ लक्ष्मी प्रेम होने के कारण इससे जुड़े जो संबधित विभाग है वे उन पर कारवाई नही करते है। अगर कारवाई की बात नौबत आती भी है तो बड़ी मछलियो को पहले ही सूचित कर दिया जाता है। वही कु छ संबधित विभाग के ही कर्मी इसमे यह सूचना लीक करते है तभी तो हम देखे जब जब भी कारवाई हुई हे उसमे छोटै दुकानदार जो मौहगे व गांवो मे रहते है उन पर गाज गिरती है। बड़ो  का बाल भी बांका नही होता।
जबकि छोटै दुकानदार ये चाईनिज यही से खरीदते है और कारवाई भी उन पर ही होती है। अब मकंर संक्र ाति 14 जनवरी को है। इसमे अब बीस दिन शेष है औश्र उससे पूर्व लाखो रूपये का पतंग डोर बाजार मे बिक चुका है। 
पर एक भी कारवाई संबधित विभाग व प्रशासन ने नही की है। केवल अंतिम छणो मे दिखावट के तौर पर यह नजारा हमें पूर्व की तरह देखने को मिलेेगा।
इसमे भी तब जब बड़े दुकानदार अपना सारा स्टाक खत्म कर चुके होगें तब उसके बाद छोटे छोटै व्यापारी इसकी चपेट मे आयेगे ऐसा ही प्रतीत हो रहा है।
 

लॉड्र्स इन्टरनेशनल स्कूल, चूरु में स्पोर्टस मीट, 2018 का समापन

चूरू ,  विद्यालय में आयोजित दो दिवसीय स्पोर्टस मीट, 2018 में विशिष्ट अतिथिगण  बी. एल. मेहरड़ा, एसोसिएट प्रोफेशर, हेमन्त मंगल, एसोसिएट प्रोफेशर, लोहिया कॉलेज, चूरु, डॉ. प्रेम प्रकाश वशिष्ठ एवं बालकिशन राजगढिय़ा, अध्य़क्ष लांयस क्लब, संस्था निदेशक प्रदीप लहरी, सचिव प्रमोद सगतानी ने विजेताओं को स्वर्ण, रजत व कांस्य पदकों से सम्मानित किया। सभी स्तर पर रेस, खो खो, कबड्डी, रस्साकशी, शॉर्टपुट, भाला फेंक, डिस्कस थ्रो, टेबल टेनिस, बेंडमिंटन के सिंगल्स तथा डबल्स प्रतियोगितायें आयोजित की गई। चारों स्तर नर्सरी से जूनियर, मिडिल, सैंकण्डरी व सीनियर सैंकण्डरी में कुल 47 प्रतियोगितायें आयोजित की गई। प्रधानाचार्य अतुल बत्रा ने बताया कि 400 से भी अधिक बालक बालिकाओं ने सभी प्रतियोगितायों में बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। जूनियर लेवल पर रामा हाउस ने 9 मेडल जबकि बुद्वा, वर्धमान व कृष्णा ने 6,7,8 मेडल हासिल किये तथा कक्षा 9 से 12 में बुद्वा व वर्धमान ने 14 पदकों के साथ प्रथम जबकि रामा ने 13 पदक और कृष्णा ने 12 मेडल हासिल किये। सभी प्रतियोगिताओं ने भरसक मनोरंजन भी किया और सभी ने एक दूसरे को क्रिसमस की हार्दिक बधाइयॉ भी दी।