Updated -

mobile_app
liveTv

हिरासत में उमर और फारूक कैसे काट रहे दिन-रात ?

जयपुर टाइम्स
श्रीनगर (एजेंसी)।अनुच्छेद 370 नेशनल कांफ्रेंस के उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला आजकल सुबह साढ़े करीब पांच बजे उठ रहे हैं। सुबह एक घंटे की सैर और शाम को दो घंटे जिम में पसीना बहाने के बाद रात करीब आठ बजे डिनर कर रहे हैं। उन्होंने अपना वजन भी कम किया है। गौरतलब है कि उमर पांच अगस्त से हरि निवास में एहतियातन हिरासत में हैं। अनुच्छेद 370 हटने के बाद कानून व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रमुख नेताओं व कार्यकर्ताओं समेत 1200 लोगों को हिरासत में लिया है। उमर एक माह के दौरान चार बार परिजनों से मिले हैं। वह बहन, भांजों और बुआ सुरैया से मिले हैं। पिता डॉ. फारूक अब्दुल्ला जो घर में नजरबंद हैं, से उमर की सिर्फ टेलीफोन पर ही उनकी बातचीत हुई है। हरि निवास में उनकी देखभाल के लिए नियुक्त हास्पिटैलिटी एंड प्रोटोकाल विभाग के स्टाफ और वहां तैनात सुरक्षाकर्मियों के अनुसार, पूर्व मुख्यमंत्री सुबह साढ़े पांच बजे उठते हैं। जागने के कुछ देर बाद वह नमाज अदा करते हैं। इसके बाद वह काफी या फिर कभी नींबू चाय लेते हैं।
सात बजे कमरे से बाहर निकलते हैं। हरि निवास परिसर के लॉन में एक से डेढ़ घंटे की सैर करते हैं। कभी कभी वह दो घंटे तक दौड़ लगाते हैं। सामान्य तौर पर वह सुबह साढ़े आठ बजे नाश्ता करते हैं जो उनके घर से आता है। इसके बाद कमरे में नोटबुक पर कुछ लिखने में व्यस्त हो जाते हैं या फिर पढ़ते रहते हैं। दोपहर को वह हरि निवास में नियुक्त स्टाफ द्वारा पकाए खाने का स्वाद लेते हैं। उन्हें जब भी खाना दिया जाता है, पहले उसकी जांच होती है। भोजन की जांच एक नियमित प्रक्रिया है। शाम को वह दो घंटे जिम में पसीना बहाते हैं। जिम में उन्हें जेल मैनुअल के मुताबिक कसरत के लिए कुछ उपकरण प्रदान किए गए हैं। रात को वह घर से आया भोजन करते हैं। सोने से पूर्व कुछ समय किताबें पढ़ते हैं या फिर डीवीडी पर फिल्में देखते हैं। पूर्व मुख्यमंत्री ने दाढ़ी बढ़ाई है। वह सलवार कमीज या फिर टी शर्ट और जींस पहनते हैं। लाल और काले रंग की टी-शर्ट उन्हें ज्यादा पसंद हैं। डॉक्टर रोज सुबह शाम उनके स्वास्थ्य की जांच करते हैं। वह उमर के स्वास्थ्य की रिपोर्ट रोजाना गृह विभाग को सौंपते हैं। अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं हुई है। सूत्रों की मानें तो उमर ने वजन कम किया है। स्पेशल सर्विस ग्रुप के जवान सुरक्षा के लिए तैनात जेड प्लस श्रेणी का संरक्षित व्यक्ति होने के नाते हरि निवास में भी स्पेशल सर्विस ग्रुप के जवान व अधिकारी उनकी सुरक्षा का जिम्मा संभालते हैं। उमर वहां स्टाफ के साथ पूरी सहृदयता के साथ पेश आते हैं। कई बार वह उनके साथ हल्का-फुल्का मजाक भी करते हैं। 

भोपाल और विदिशा बारिश से बेहाल, कॉलेज और स्कूल रहेंगे बंद

जयपुर टाइम्स
भोपाल (एजेंसी)। मध्यप्रदेश के नदी-नाले दो दिनों की बारिश के बाद उफान पर हैं। भोपाल और विदिशा में बारिश के कारण कई घरों में पानी घुस गया। मंडला जिले में रिकॉर्ड 134 मिली मीटर बारिश दर्ज की गई। सीहोर में पार्वती नदी उफान पर है। दोनों स्थानों में कॉलेज और स्कूल बंद रहेंगे। बारिश की वजह से जबलपुर में नर्मदा नदी पर बना बरगी बांध पानी से झलकने को तैयार है। 
इस कारण बांध के 21 गेट खोल दिए गए। पूरे मध्य प्रदेश में अगले 3-4 दिनों तक बारिश की चेतावनी है। भोपाल समेत कई जिलों में में आज स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे। 
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल सहित राज्य के कई हिस्सों में हुई जोरदार बारिश के कारण जन-जीवन बुरी तरह प्रभावित हो रहा है। बारिश के कारण निचली बस्तियों में पानी भर गया है, और आवागमन प्रभावित हुआ है। 

जेठमलानी का 95 की उम्र में निधन

नई दिल्ली (एजेंसी )। वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी का 95 साल की उम्र में निधन हो गया। उन्होंने रविवार को सुबह 7.45 बजे दिल्ली स्थित अपने आवास पर अंतिम सांस ली। राम जेठमलानी पिछले दो हफ्ते से गंभीर रूप से बीमार थे। जेठमलानी अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में केंद्रीय कानून मंत्री के अलावा शहरी विकास मंत्री रहे। वर्तमान में बिहार से राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के राज्यसभा सांसद थे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह समेत कई नेताओं ने उनके निधन पर दुख जताया। दैनिक भास्कर को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि राजनीति में धूर्त लोग ज्यादा है। मेरा मकसद राजनीति से भ्रष्टाचार खत्म करना है।

देश नकारात्मकता को स्वीकार करने को तैयार नहीं : मोदी

जेएनएन (एजेंसी )।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत माता की जय के नारेे के साथ अपने भाषण की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि वह ऐसे समय में यहां आए हैं जब उनकी सरकार के सौ दिन हो रहे हैं। जनता के समर्थन से ही सरकार बड़े फैसले ले पाई है। बैंकिंग व्यवस्था को मजबूत करने के लिए महत्वपूर्ण फैसले लिए गए हैं। सौ दिनों में संसद के सत्र में जितने बिल पास हुए उतना आज तक पिछले साठ साल में नहीं हुए थे। बीते सौ दिन में देश और दुनिया ने देखा है कि भारत अब हर चुनौती को चुनौती देता है। फिर चाहे जम्मू-कश्मीर व लद्दाख का मामला हो या गंभीर होता जल संकट। पीएम ने कहा कि सात सितंबर को रात एक बजकर 50 मिनट पर पूरा देश टीवी पर नजरें गाड़कर बैठा था। चंद्रयान-दो की खुशखबरी के लिए देश-दुनिया देख रही थी। बाद के सौ सेकेंड में मैंने एक और साक्षात्कार किया। एक घटना ने पूरे देश को सौ सेकेंड में जगा दिया। पूरे हिंदुस्तान को जोड़ दिया। अब हिंदुस्तान में इसरो स्प्रिट। देश नकारात्मकता को स्वीकार करने को तैयार नहीं। देश पुरुषार्थ की पूजा करता है। 

वायुसेना 83 लड़ाकू विमान का ऑर्डर एचएएल को देगी

युसेना ने दो साल पहले इन लड़ाकू विमानों को लेकर टेंडर जारी किया था
सरकार और वायुसेना के बीच कीमत को लेकर मामला अटका था
पहले यह कीमत 50 हजार करोड़ रु. थी, जिसे बाद में कम किया गया
लाइट कॉम्बेट एयरक्राफ्ट (एलसीए) तेजस लड़ाकू विमान का एडवांस वर्जन है
जयपुर टाइम्स
नई दिल्ली (एजेंसी)। भारतीय वायुसेना अगले दो सप्ताह में हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को 45,000 करोड़ रुपए का ऑर्डर देगी। एचएएल इस राशि से वायुसेना को 83 लड़ाकू विमान बनाकर देगी। इस कदम से रक्षा उत्पादन के सेक्टर को मजबूती मिलेगी। 
सूत्र के मुताबिक इस डील की 65 प्रतिशत राशि देश में ही रहेगी। इसके उत्पादन से देश में रोजगार के नए विकल्प भी पैदा होंगे। दरअसल, वायुसेना ने दो साल पहले 83 लड़ाकू विमानों का टेंडर जारी किया था। मगर सरकार और वायुसेना के बीच इसकी कीमत को लेकर मामला अटक गया था, क्योंकि एचएएल के द्वारा बताई गई कीमत ज्यादा थी।
 

वायुसेना प्रमुख धनोआ का कमांडर्स को निर्देश- सतर्क रहें और एयरबेस पर पूरी तैयारी रखें

धनोआ ने कहा- सेना के ऑपरेशनल इन्फ्रास्ट्रक्चर को विकसित करने जरूरत
उन्होंने सफलतापूर्वक सर्जिकल स्ट्राइक करने के लिए वेस्टर्न एयर कमांड की सराहना की
जयपुर टाइम्स
नई दिल्ली (एजेंसी)। सीमा पार से किसी संभावित गतिविधि को देखते हुए वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने शुक्रवार को अपने सभी कमांडरों को अधिक सतर्क रहने और एयरबेस में तैयारियां पूरी रखने के निर्देश दिए। दो दिवसीय वेस्टर्न एयर कमांड के कमांडरों के सम्मेलन में एयर चीफ मार्शल ने यह बात कही। वायुसेना प्रमुख ने कहा, सेना के ऑपरेशनल इन्फ्रास्ट्रक्चर को विकसित करने और इसके मानव संसाधन को लगातार चलायमान रखने की आवश्यकता है। इसके साथ ही वायुसेना को अधिक ताकतवर बनने और एक स्थान से त्वरित आगे बढऩे के लिए नई तकनीक को अपनाने की भी जरूरत है। वायुसेना प्रमुख ने कहा कि भविष्य में किसी भी संभावित संघर्ष और आम लोगों तक सहायता पहुंचाने को लेकर वेस्टर्न एयर कमांड की बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका होगी। उन्होंने सफलतापूर्वक सर्जिकल स्ट्राइक करने के लिए कमांड की त्वरित प्रतिक्रिया और कार्रवाई की सराहना की। उन्होंने कमांडरों को सलाह दी कि वे अपने ऑपरेशनल योजनाओं और ट्रेनिंग को लगातार दोहराएं और विभिन्न अभ्यासों तथा हालिया अभियानों के दौरान सीखी गई बातों को भी याद रखें। 

जयपुर टाइम्स लाहौर (एजेंसी)। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने 2019-20 सीजन के लिए छह घरेलू टीमों को चुना है। ये चुनी हुई टीमें अब 14 सितंबर से शुरू होने वाली कायदे आजम ट्रॉफी में भाग लेंगी। द नेशन की रिपोर्ट के अनुसार, स्थानीय प्रशिक्षकों और जूनियर चयनकर्ताओं न

जयपुर टाइम्स
गुरूग्राम (एजेंसी)। देश की राजधानी दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरुग्राम में संचालित देश की निजी क्षेत्र की पहली मेट्रो सेवा आर्थिक संकट के कारण अपनी सेवा आगे जारी रखने में सक्षम नहीं हो पा रही है। वित्तीय संकट से जूझ रही इसे चलाने वाली कंपनी आइएल एंड एफएस इंफ्रास्ट्रक्चर के प्रवक्ता के मुताबिक, कंपनी ने हरियाणा सरकार को लिखा है कि कंपनी नौ सितंबर सेवा को आगे नहीं जारी रख सकती है। उन्होंने कहा कि रैपिड मेट्रो के अधिग्रहण के लिए हमने हरियाणा सरकार से आग्रह किया है और सरकार के जवाब की प्रतिक्षा कर 
रहे हैं।
गुरुग्राम मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी (जीएमडीए) के सीईओ वी. उमाशंकर ने कहा कि यह मामला नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल में लंबित है। जब तक एनसीएलटी कोई निर्णय नहीं देता तब तक जीएमडीए के पास मेट्रो को लेने की कोई गुंजाइश नहीं है। गुरुग्राम में रैपिड मेट्रो रेल सेवा दो चरणों में संचालित हो रही है। पहले चरण में कंपनी ने 5.1 किलोमीटर का ट्रैक बनाया था, जो शंकर चौक से सिकंदरपुर डीएमआरसी स्टेशन तक राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 8 को जोड़ते हुए छह स्टेशनों को कवर करता है। 1,450 करोड़ रुपये की लागत से तीन वर्षों में निर्मित यह सेवा नवंबर 2013 में जनता के लिए खोली गई थी। रैपिड मेट्रो से सबसे अधिक यात्री गुरुग्राम कॉरपोरेट कंपनियों में काम करने वाले करते हैं। यहां पर बता दें कि रैपिड मेट्रो हरियाणा के गुरुग्राम शहर में संचालित एक मेट्रो प्रणाली है। यह प्रणाली सिकंदरपुर मेट्रो स्टेशन पर दिल्ली मेट्रो की येलो लाइन के साथ इंटरचेंज प्रदान करती है। रैपिड मेट्रो की कुल लंबाई 11.7 किलोमीटर है। इस रूट पर कुल 11 स्टेशन हैं।

पूरी मेट्रो प्रणाली में स्टैण्डर्ड गेज ट्रैक का इस्तेमाल हुआ है और पूरी तरह से एलिवेटेड है। रैपिड मेट्रो गुडग़ांव के वाणिज्यिक क्षेत्रों को जोड़ता है। साथ ही दिल्ली मेट्रो के लिए फीडर लिंक के रूप में कार्य करता है।

रैपिड मेट्रो गुडग़ांव लिमिटेड (आरएमजीएल) द्वारा निर्मित और संचालित यह मेट्रो प्रणाली दुनिया की पहली ऐसी प्रणाली है, जो पूरी तरह से निजी स्त्रोतों द्वारा वित्तपोषित है। कहने का मतलब इस उद्यम में केंद्र सरकार, हरियाणा सरकार या किसी भी सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम से कोई निवेश नहीं है। रैपिड मेट्रो सेवाएं रोजाना छह बजे से शुरू होकर रात 12 बजे तक चलती है। सभी ट्रेनों में तीन कोच हैं। 

सीआरपीएफ के जवान मोटापा, बीपी, शुगर और दिल की बीमारी से जूझ रहे

बस्तर में काम करने वाले जवानों के एनुअल मेडिकल एग्जामिनेशन में खुलासा
स्ट्रेस और कैंपों में उचित व्यवस्था नहीं होना भी बीमारियों की वजह, इलाज के इंतजाम नहीं
जयपुर टाइम्स
जगदलपुर (एजेंसी)। छत्तीसगढ़ के बस्तर में नक्सल मोर्चे पर तैनात केंद्रीय अर्धसैनिक बल (सीआरपीएफ) के सैकड़ों जवान बीमार हैं। वे वजन बढऩे, बीपी, शुगर जैसी बीमारी से जूझ रहे हैं। कई जवानों को बढ़ते वजन की चलते हड्डियों में भी परेशानी हो रही है, इनमें घुटनों का दर्द प्रमुख है। 
बीमारियों से घिर रहे जवान नक्सल मोर्चे पर काम करने के लिए फिट नहीं हैं। छत्तीसगढ़ में सीआरपीएफ की 22 बटालियन तैनात हैं और अलग-अलग बटालियन में बीमार जवानों की संख्या एक बटालियन के बराबर हो रही है। बस्तर के अलग-अलग कैंपों में रहने वाले 894 जवान तो ऐसे हैं जो लो मेडिकल कैटेगरी यानी शारीरिक रूप से पूरी तरह से अस्वस्थ हैं। इसके अलावा सैकड़ों जवान ऐसे हैं जो मानसिक या शारीरिक रूप से फिट नहीं हैं। जवानों के बीमार होने की जानकारी खुद सीआरपीएफ के अफसरों को नहीं थी लेकिन कुछ समय पहले पूरे इलाके में तैनात जवानों का एनुअल मेडिकल एग्जामिनेशन करवाया गया।  

चिदंबरम को ईडी से जुड़े मामले में अग्रिम जमानत नहीं

जयपुर टाइम्स
नई दिल्ली (एजेंसी)। आईएनएक्स मीडिया केस में गिरफ्तार कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं मिली। उन्होंने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) से जुड़े मामले में दिल्ली हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत नहीं मिलने को शीर्ष अदालत में चुनौती दी है। गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने उनकी अर्जी खारिज करते हुए कहा कि मनी ट्रेल को उजागर करना जरूरी है। ईडी के दावे से सहमत हैं कि आरोपी को गिरफ्तार कर पूछताछ जरूरी है। जमानत देने से जांच पर असर पड़ सकता है। दूसरी ओर, चिदंबरम की सीबीआई रिमांड भी आज खत्म हो रही है। इस पर विशेष सीबीआई अदालत सुनवाई करेगी।
चिदंबरम की याचिका पर सुनवाई के दौरान बेंच ने कहा- अग्रिम जमानत को किसी को उसके अधिकार के तौर पर नहीं दिया जा सकता। ये मामलों पर निर्भर करता है। हमने प्रवर्तन निदेशालय की केस डायरी देखी है और मनी ट्रेल को उजागर करना जरूरी है।
ईडी के दावे से सहमत हैं कि मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर पूछताछ जरूरी है। ईडी ने सीलबंद लिफाफे में कुछ दस्तावेज दिए थे। लेकिन हमने उन्हें नहीं देखा। 

मोदी-आबे की तीसरी मुलाकात

जयपुर टाइम्स
मॉस्को (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ईस्टर्न इकोनॉमिक समिट (ईईएफ) में हिस्सा लेने दो दिन के दौरे पर व्लादिवोस्तोक (रूस) पहुंचे हैं। गुरुवार को यहां उन्होंने जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे से मुलाकात की। 
बीते दो महीने में मोदी दो बार ओसाका, जापान (28-29 जून, जी-20 समिट) और बियारिट्ज, फ्रांस (26 अगस्त, जी-7 समिट) में आबे से मिल चुके हैं।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया, ''मोदी और आबे के बीच आर्थिक, सुरक्षा, रक्षा, स्टार्ट अप और 5जी जैसे मुद्दों पर चर्चा हुई।दोनों नेताओं ने क्षेत्रीय हालात पर भी विचार साझा किए। विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया कि जापान-भारत की सालाना बैठक दिसंबर में दिल्ली में हो सकती है। तारीखों का ऐलान बाद में होगा। इसके बाद मोदी ने मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद और मंगोलिया के राष्ट्रपति खाल्तमागिन बतुल्गा से भी मुलाकात की।

 

आजम खां के बचाव में उतरे मुलायम सिंह, बोले-भीख मांगकर उन्होंने यूनिवर्सिटी बनाई

उरण में ओएनजीसी के प्लांट में भीषण आग

जयपुर टाइम्स
मुंबई (एजेंसी)। नवी मुंबई के उरण स्थित ओएनजीसी के प्लांट में आज सुबह 7 बजे भीषण आग लग गई। हादसे में दो लोगों की मौत की पुष्टि हुई है, जबकि 3 जख्मी हो गए। फायर ब्रिगेड के कर्मचारी आग पर काबू पाने की कोशिश में जुटे हैं। करीब 25 लोगों को सुरक्षित निकाला गया। 
नवी मुंबई के पुलिस कमिश्नर संजय कुमार ने कहा कि आग वाटर ड्रेनेज सिस्टम से भड़की। आग लेवल-3 की है। इसके कारणों का पता नहीं चल पाया है। प्लांट में अभी कई लोग फंसे हो सकते हैं। कई दमकल की गाडिय़ां मौके पर मौजूद हैं। वहीं, ओएनजीसी ट्वीट कर बताया कि प्लांट से गैस की सप्लाई रोकी गई है। इसे हजीरा प्लांट के लिए डायवर्ट कर दिया गया है। एहतियातन आसपास के इलाके को खाली कराया जा रहा है।