Updated -

mobile_app
liveTv

जापान के केई निशिकोरी ने किया हिसाब बराबर , दिया अपना शानदार प्रदर्शन

ब्रिस्बेन। जापान के केई निशिकोरी ने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए रूस के दानिल मेदवेदेव को हराकर ब्रिस्बेन इंटरनेशनल टेनिस टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया है। ईएसपीएन की रिपोर्ट के अनुसार, दूसरी सीड निशिकोरी ने रविवार को खेले गए पुरुष एकल के फाइनल में मेदवेदेव को 6-4, 3-6, 6-2 से मात दी। इस जीत के साथ ही उन्होंने मेदवेदेव से पिछले साल टोक्यो में मिली हार का बदला भी चुकता कर लिया है।

जापानी खिलाड़ी का यह 12वां एटीपी टूर खिताब है। उन्होंने दो घंटे और चार मिनट में यह खिताब अपने नाम किया। वे ब्रिस्बेन इंटरनेशनल का खिताब जीतने वाले पहले जापानी खिलाड़ी बन गए हैं। इस खिताबी जीत से निशिकोरी को 250 एटीपी रैंकिंग प्वाइंट और 90990 अमेरिकी डॉलर की इनामी राशि प्राप्त हुई। वहीं, उपविजेता मेदवेदेव को 150 एटीपी रैंकिंग प्वाइंट और 49025 अमेरिकी डॉलर की इनामी राशि मिली। 

वल्र्ड नंबर-9 निशिकोरी ने फरवरी 2016 में अपना पिछला खिताब जीता था। उन्हें दो साल पहले ही यहां फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था। वे चोट के कारण पिछले साल ऑस्ट्रेलियन ओपन में हिस्सा नहीं ले पाए थे। निशिकोरी ने जीत के बाद कहा, आखिरकार मैं खिताब जीतने में सफल रहा और मैं इससे बहुत खुश हूं। शानदार फाइनल रहा। पिछले साल मुझे जापान में फाइनल में मेदवेदेव से हार का सामना करना पड़ा था लेकिन अब मैंने उस हार का हिसाब पूरा कर लिया है और मैं इससे खुश हूं।

ऐसे बनया विराट कोहली ने पत्नी संग जीत का जश्न

सिडनी। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेला गया चौथा व अंतिम टेस्ट ड्रॉ रहा। मैच के अंतिम दिन सोमवार को बरसात के कारण एक भी गेंद नहीं डाली जा सकी। हालांकि भारत ने यह सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली। भारत की इस खुशी में कप्तान विराट कोहली की पत्नी एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा भी शरीक हुई। दोनों ने मैदान पर घूमकर जीत का जश्न मनाया। 

फोटोग्राफर्स ने भी इस मौके को खूब भुनाया और इस सेलेब्रिटी जोड़ी की खूब तस्वीरें लीं। अनुष्का क्रिसमस और नए साल पर भी कोहली के साथ ऑस्ट्रेलिया में थीं। अनुष्का ने मैदान पर टीम के सभी सदस्यों को जीत की बधाई दी। कोहली और अनुष्का ने फैंस का अभिवादन स्वीकारा। उल्लेखनीय है कि कोहली-अनुष्का ने दिसंबर 2017 में लंबे अफेयर के बाद शादी की थी। 

वर्ष 2015 में वनडे विश्व कप के दौरान भी अनुष्का स्टेडियम में नजर आई थीं। तब भारत सेमीफाइनल में मेजबान ऑस्ट्रेलिया से हार गया था और विराट कोहली 1 रन ही बना सके थे। इसके बाद सोशल मीडिया पर फैंस ने कोहली के इस प्रदर्शन के लिए अनुष्का को जिम्मेदार ठहराया था।

टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया में रचा इतिहास

भारत ने चौथे टेस्ट मैच में चेतेश्वर पुजारा (193) और ऋषभ पंत (159) की शतकीय पारियों के दम पर आस्ट्रेलिया के खिलाफ अपनी पहली पारी सात विकेट के नुकसान पर 622 रनों के विशाल स्कोर पर घोषित कर दी थी। 

इस पारी में आस्ट्रेलिया के लिए नाथन लॉयन ने सबसे अधिक चार विकेट लिए थे, वहीं जोश हेजलवुड को दो सफलताएं मिली। मिशेल स्टॉर्क एक विकेट लेने में सफल रहे। 

इसके बाद, भारत ने कुलदीप यादव (5/99) की शानदार गेंदबाजी के दम पर आस्ट्रेलिया की पहली पारी 300 रनों पर समाप्त कर दी। इस पारी में मोहम्मद शमी और रवींद्र जडेजा ने दो-दो विकेट लिए, वहीं जसप्रीत बुमराह को एक सफलता हाथ लगी। 

आस्ट्रेलिया के लिए पहली पारी में मार्कस हैरिस (79) ने सबसे अधिक रन बनाए। इसके अलावा, मार्नस लाबुसचाग्ने 38 और पीटर हैंड्सकॉम्ब ने 37 रनों का योगदान दिया। इस पारी में भारत ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ 322 रनों की बढ़त हासिल की थी।

आस्ट्रेलिया के खिलाफ उसी के घर में किसी टेस्ट मैच में यह भारत की रनों के हिसाब से सबसे बड़ी बढ़त है। कुल मिलाकर आस्ट्रेलिया के खिलाफ रनों के मुताबिक दूसरी सबसे बड़ी बढ़त है। इससे पहले भारत ने 1988 में ईडन गार्डन्स में खेले गए टेस्ट मैच में 400 रनों की बढ़त ली थी। 

 

भारत और ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट सीरीज में तीसरे दिन बारिश के कारण जल्द बंद हुआ खेल

सिडनी: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रही टेस्ट सीरीज के आखिरी टेस्ट के तीसरे दिन के अंतिम सत्र में संकट में फंसी ऑस्ट्रेलिया टीम को बारिश ने ऑलआउट होने से बचा लिया. ऑस्ट्रेलिया की टीम भारतीय स्पिनर्स के जाल में ऐसी उलझी की अब उसके लिए फॉलोऑन बचाना मुश्किल हो गया है. दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 6 विकेट गंवाते हुए 236 रन बना लिए थे और वह टीम इंडिया से 386 रन पीछे थी.

अभी दिन के 16 ओवर ही बाकी थे कि बारिश होने के कारण मैच रोक देना पड़ा और ऑस्ट्रेलियाई टीम ऑल आउट होने से बच गई. उससे पहले टीम इंडिया के लिए कुलदीप यादव और रवींद्र जडेजा ने शानदार गेंदबाजी की. दोनों ने पिच से ज्यादा मदद नहीं मिलने के बाद भी ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों को जमने नहीं दिया और वे नियमित अंतराल पर विकेट निकालते गए. 
तीसरे सत्र के पहले ओवर में ही बोल्ड हुए टिम पेन
तीसरे सत्र की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया के लिए अच्छी नहीं रही. सत्र के पहले ओवर में ही कुलदीप यादव ने मेजबान टीम के कप्तान टिम पेन को बोल्ड कर दिया. इसके बाद हैंड्सकॉम्ब ने पैट कमिंस के साथ मिलकर 38 रनों की साझेदारी की जिसके बाद बारिश ने टीम को बचा लिया. ऑस्ट्रेलिया के लिए मार्कस हैरिस ने सबसे ज्यादा 79 रन बनाए. भारत के लिए कुलदीप यादव ने तीन और रवींद्र जडेजा ने दो विकेट लिए. मोहम्मद शमी को एक सफलता मिली.
पहले सत्र में मजबूत रही ऑस्ट्रेलिया
ऑस्ट्रेलिया ने दिन के पहले सत्र का अंत एक विकेट के नुकसान पर 122 रनों के साथ किया. उसने पहले सत्र में उस्मान ख्वाजा (27) के रूप में अपना पहला विकेट गंवााया. पहले सत्र में केवल एक विकेट लेने के बाद भारत ने दूसरे सत्र में वापसी करते हुए मेजबान ऑस्ट्रेलिया को संकट में डाल दिया. ऑस्ट्रेलिया ने चायकाल तक अपनी पहली पारी में 198 रन बनाते हुए अपने 5 विकेट गंवा दिए. मेजबान बल्लेबाज दूसरे सत्र में अपनी सफलता जारी नहीं रख सके और विकेट खोते चले गए.

जडेजा ने खतरा बने हैरिस को किया चलता
इस सीरीज के एडिलेड में खेले गए पहले टेस्ट मैच से पदार्पण करने वाले मार्कस हैरिस अपना पहला शतक पूरा नहीं कर पाए. दूसरे सत्र के तीसरे ओवर में ही रवींद्र जडेजा ने उन्हें पवेलियन वापस भेज दिया. जडेजा की बाहर जाती गेंद पर हैरिस कट मारने गए और गेंद उनके बल्ले का अंदरूनी किनारा लेकर विकेट पर जा लगी. शानदार बल्लेबाजी कर रहे हैरिस दुर्भाग्यशाली रहे और 120 गेंदों पर 79 रन बनाकर आउट हो गए. उनकी पारी में आठ चौके शामिल रहे.
जडेजा ने ऑस्ट्रेलिया के भरोसेमंद बल्लेबाज शॉन मार्श (8) को भी टिकने नहीं दिया और 144 के कुल स्कोर पर उन्हें स्लिप में खड़े अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच कराया. 
जडेजा के बाद मोहम्मद शमी ने ऑस्ट्रेलिया की एक और उम्मीद पर पानी फेर दिया. उन्होंने मार्नस लैबुशेन को 152 के कुल स्कोर पर रहाणे के हाथों की कैच कराया. शमी ने लैबुशेन के पैर पर गेंद फेंकी जिसे उन्होंने फ्लिक किया और रहाणे ने शॉर्ट स्क्वायर पर शानदार कैच पकड़ ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज की संयम भरी पारी का अंत किया. लैबुशेन ने 95 गेंदों पर सात चौकों की मदद से 38 रन बनाए. 
34 रनों के भीतर तीन विकेट खोने के बाद मेजबान टीम संकट में आ चुकी थी. वहीं लग रहा था कि दूसरे सत्र का खेल खत्म होते-होते भारतीय गेंदबाज एक-दो विकेट और निकाल लेंगे. ट्रेविस हेड (20) और हैंड्सकॉम्ब ने हालांकि उनके इंतजार को कुछ देर के लिए बढ़ा दिया. दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 40 रन जोड़े. कुलदीप यादव ने हेड को अपनी ही गेंद पर लपक भारत को पांचवीं सफलता दिलाई.

इससे पहले, भारत ने चेतेश्वर पुजारा (193), ऋषभ पंत (नाबाद 159), रवींद्र जडेजा (81) और मंयक अग्रवाल (77) की बेहतरीन पारियों के दम पर भारत ने दूसरे दिन अपनी पहली पारी सात विकेट के नुकसान पर 622 रनों पर घोषित की थी.

गुरप्रीत सिंह संधू ने टूर्नामेंट को लेकर कही ये बात

अबु धाबी। संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में पांच जनवरी से शुरू हो रहे एएफसी एशियन कप में भाग लेने जा रही भारतीय फुटबॉल टीम के गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू का कहना है कि इस टूर्नामेंट में टीम को काफी समझदारी के साथ खेलना होगा। भारत को थाईलैंड, बहरीन और मेजबान यूएई के साथ ग्रुप में रखा गया है। 

अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) ने संधू के हवाले से बताया, मैं समझता हूं कि सभी टीमों के खिलाफ खेलना मुश्किल होगा। कोई भी टीम बिना तैयारी के एशियन कप में हिस्सा नहीं लेती और मुझे यकीन है कि विपक्षी टीम भी हमें हल्के में नहीं लेगी। 

संधू ने कहा, तीनों टीमों का सामना करना हमारे लिए बहुत बड़ी चुनौती है और हमें समझदारी के साथ खेलना होगा। हमें एक बार में एक मैच पर ध्यान केंद्रित करने की जरूरत है। हमें पहले मैच में बेहतरीन नतीजा हासिल करने पर ध्यान देना होगा और उसके मुताबिक अगले मैच के लिए अपनी रणनीति बनानी होगी।

INDvsAUS: मैच में भारत ऑस्ट्रेलिया से आगे

सिडनी: ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया के सात विकेट पर 622 रन पारी समाप्त घोषित के विशाल स्कोर के जवाब में चौथे और अंतिम टेस्ट क्रिकेट मैच के दूसरे दिन शुक्रवार को यहां अपनी पहली पारी में बिना किसी नुकसान के 24 रन बनाए. ऑस्ट्रेलिया अब भी भारत से 598 रन पीछे है. दिन का खेल खत्म होने के समय मार्कस हैरिस 19 और उस्मान ख्वाजा पांच रन पर खेल रहे थे. 

इससे पहले भारतीय क्रिकेट टीम ने अपनी पहली पारी सात विकेट गंवाकर 622 रनों के विशाल स्कोर पर घोषित कर दी. टीम इंडिया दिन के तीसरे सत्र में शानदार बल्लेबाजी कर रही थी और भारतीय बल्लेबाज ऋषभ पंत (159) नाबाद रहे. भारत ने चायकाल तक छह विकेट के नुकसान पर 491 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा कर लिया था. इसके बाद तीसरे सत्र में पंत ने रवींद्र जडेजा के साथ मिलकर सातवें विकेट के लिए 204 रनों की शानदार दोहरी शतकीय साझेदारी कर टीम को 622 के स्कोर तक पहुंचाया. 

भारतीय बल्लेबाजों द्वारा सातवें विकेट के लिए की गई यह दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी है. इस सूची में पूर्व भारतीय बल्लेबाजों वीवीएस लक्ष्मण और अजय रात्रा द्वारा वेस्टइंडीज के खिलाफ 2002 में सातवें विकेट के लिए की गई 217 रनों की साझेदारी पहले स्थान पर है. इसी स्कोर पर नाथन लॉयन ने जडेजा को बोल्ड कर भारतीय टीम का सातवां विकेट गिराया और इसी स्कोर पर मेहमान टीम ने अपनी पहली पारी घोषित कर दी. पंत ने 189 गेंदें खेली और 15 चौके एवं एक छक्का लगाया, वहीं जडेजा ने 114 गेंदें खेलते हुए सात चौके और एक छक्का लगाया. 

ऑस्ट्रेलिया के सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर भारतीय टीम द्वारा बनाया गया यह दूसरा सबसे बड़ा स्कोर है. 2004 में भारत ने इसी मैदान पर सात विकेट पर 705 रन बनाकर अपनी पारी घोषित की थी. 
इसके अलावा पंत की पारी किसी एशियाई विकेटकीपर द्वारा उप-महाद्वीप के बाहर बनाई गई सबसे बड़ी पारी है. इससे पहले पिछले साल 2017 में वेलिंग्टन में बांग्लादेश के विकेटकीपर मुश्फिकुर रहीम ने 159 रनों की पारी ही खेली थी. लेकिन वह आउट हुए थे और पंत इसी पारी पर नाबाद लौटे.ऑस्ट्रेलिया के लिए इस पारी में नाथन ने सबसे अधिक चार विकेट लिए, वहीं जोश हेजलवुड को दो विकेट हासिल हुए. मिशेल स्टॉर्क को एक सफलता हाथ लगी. 

चौथा टेस्ट : इन के बदौलत भारत की स्थिति मजबूत

सिडनी। चेतेश्वर पुजारा (130) की नाबाद शतकीय पारी के दम पर भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जारी पहले टेस्ट मैच के पहले दिन गुरुवार का खेल समाप्त होने तक अपनी पहली पारी में चार विकेट के नुकसान पर 303 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा किया है। सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर जारी इस मैच में भारतीय बल्लेबाज पुजारा के साथ हनुमा विहारी (39) नाबाद लौटे हैं। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने पहले सत्र के समापन तक लोकेश राहुल (9) के रूप में एकमात्र विकेट गंवाकर 69 रनों का स्कोर बनाया। 

राहुल को जोश हैजलवुड ने पवेलियन की राह दिखाई। पुजारा और मयंक अग्रवाल (77) नाबाद रहे। इसके बाद, दूसरे सत्र में पुजारा और मयंक ने दूसरे विकेट के लिए 116 रनों की साझेदारी कर टीम को 126 के स्कोर तक पहुंचाया लेकिन इसी स्कोर पर नाथन लियोन ने मयंक को पवेलियन का रास्ता दिखाया। मयंक लंबा शॉट मारने की कोशिश में मिशेल स्टॉर्क के हाथों लपके गए। उन्होंने इस पारी में 112 गेंदों पर सात चौके और दो छक्के लगाए। 

पुजारा ने इसके बाद कप्तान विराट कोहली (23) के साथ दूसरे सत्र के समापन तक बिना कोई विकेट गंवाए टीम को 177 के स्कोर तक पहुंचाया। तीसरे सत्र में भारतीय टीम के लिए मैदान पर मौजूद पुजारा और कोहली ने तीन ही रन जोड़े थे कि हैजलवुड ने कोहली को आउट कर भारत को दिन का तीसरा झटका दिया। वे विकेट के पीछे खड़े कप्तान और विकेटकीपर टिम पेन के हाथों लपके गए। पिच के एक छोर पर भारतीय पारी को संभाले खड़े पुजारा का साथ देने आए अजिंक्य रहाणे (18) को स्टार्क ने अधिक समय तक मैदान पर टिकने नहीं दिया। वे भी पेन के हाथों लपके गए।
 

इस देश ने विराट को बनाया अपनी इस वनडे टीम का कप्तान

मेलबर्न: ऑस्ट्रेलिया दौरे पर स्थानीय दर्शक भले ही विराट कोहली को निशाना बना रहे हों, लेकिन मेजबान क्रिकेट बोर्ड (CA) भारतीय कप्तान को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ कप्तान मानता है. ऐसा इसलिए कहा जा सकता है क्योंकि उसने 2018 की जो बेस्ट वनडे टीम बनाई है, उसका कप्तान विराट को ही बनाया है. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने साल की सर्वश्रेष्ठ टेस्ट टीम भी घोषित की है. भारत के विराट कोहली और जसप्रीत बुमराह को इस टीम में भी जगह मिली है, लेकिन कप्तानी न्यूजीलैंड के केन विलियम्सन को सौंपी गई है. विराट कोहली ने 2018 में सिर्फ 14 वनडे मैच खेले. उन्होंने इन मैचों में 1200 से अधिक रन बनाए. इस दौरान उनका औसत 133.55 रहा. कोहली ने 2018 में छह शतक और तीन अर्धशतक बनाए. उनके इसी प्रदर्शन ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की साल की बेस्ट वनडे टीम में उन्हें ना सिर्फ जगह दिलाई, बल्कि कप्तानी भी दिलाई. रोहित-बुमराह-कुलदीप भी प्लेइंग XI में सीए की 2018 की सर्वश्रेष्ठ वनडे टीम में विराट कोहली के अलावा तीन और भारतीय शामिल हैं. इनमें ओपनर रोहित शर्मा, तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और स्पिनर कुलदीप यादव शामिल हैं. कुलदीप ने 2018 में 4.64 की औसत से 45 विकेट झटके. वहीं, जसप्रीत बुमराह ने 3.62 की औसत से 22 विकेट लिए. रोहित शर्मा ने 2018 में 73.57 की औसत से 1,030 रन बनाए. राशिद खान, मुस्तफिजुर और हेटमायर भी टीम में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की इस टीम में इंग्लैंड के जॉनी बेयरस्टो, जो रूट और जोस बटलर शामिल हैं. टीम के चार अन्य खिलाड़ी वेस्टइंडीज के शिमरोन हेटमायर, श्रीलंका के थिसारा परेरा, अफगानिस्तान के राशिद खान और बांग्लादेश के मुस्तफिजुर रहमान हैं ऑस्ट्रेलिया-पाकिस्तान का एक भी खिलाड़ी नहीं क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की इस टीम में छह देश के खिलाड़ी शामिल हैं. दिलचस्प बात यह है कि इसके बावजूद इस टीम में ऑस्ट्रेलिया के ही एक भी खिलाड़ी को जगह नहीं दी गई है. इसके अलावा पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका और न्यूजीलैंड का भी एक भी खिलाड़ी इस टीम में जगह नहीं बना सका है. टेस्ट खेलने वाले 12 देशों में शामिल आयरलैंड, जिम्बाब्वे के खिलाड़ी भी साल की इस बेस्ट वनडे टीम में शामिल नहीं किए गए हैं. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की वनडे टीम ऑफ द ईयर: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, जॉनी बेयरस्टो, जो रूट, शिमरोन हेटमायर, जोस बटलर, (विकेटकीपर), थिसारा परेरा, राशिद खान, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह और मुस्तफिजुर रहमान. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट टीम ऑफ द ईयर: केन विलियम्सन (कप्तान), विराट कोहली, कुशल मेंडिस, टॉम लाथम, एबी डिविलियर्स, जोस बटलर (विकेटकीपर), जेसन होल्डर, कगिसो रबाडा, नाथन लायन, मोहम्मद अब्बास और जसप्रीत बुमराह..

एक बार फिर छाए सौरभ चौधरी

नई दिल्ली: एशियाई खेलों और युवा ओलंपिक खेलों के चैम्पियन सौरभ चौधरी ने रविवार को यहां डॉ कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में दूसरी ट्रायल प्रतियोगिता की 10 मीटर एयर पिस्टल ट्रायल्स में पुरूषों और जूनियर लड़कों के वर्ग में जीत दर्ज की. सौरभ ने शनिवार को पहली ट्रायल प्रतियोगिता की दोनों स्पर्धाओं में जीत हासिल की थी और एक में वे मौजूदा विश्व रिकार्ड स्कोर से ऊपर रहे थे. 

रविवार को उन्होंने 243.3 अंक के स्कोर से पुरूषों का फाइनल जीता और पंजाब के अर्जुन सिंह चीमा को पछाड़ा जो 239.8 अंक से दूसरे स्थान पर रहे. जूनियर लड़कों के फाइनल में सौरभ ने 246 अंक से अपने जूनियर विश्व रिकार्ड से ज्यादा का स्कोर बनाया. उन्होंने सेना के दीपक धारीवाल को पछाड़ा जो 241.2 अंक से दूसरे स्थान पर रहे. 
इस साल सौरभ ने शानदार प्रदर्शन किया. उनकी खासियत यह रही कि वे साल के अंत तक अपने प्रदर्शन में निरंतरता कायम रख सके. सौरभ ने एशियाई खेलों से 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में सोने पर सफल निशान लगाया. वे एशियाई खेलों में सबसे कम उम्र में स्वर्ण पदक जीतने वाले खिलाड़ी बने थे. सौरभ यहीं नहीं रूके. इसके बाद उन्होंने कई जूनियर स्पर्धाओं में सोने का तमगा हासिल किया. 
एशियाई खेलों की सफलता के बाद कोई बड़ा मंच सौरभ के सामने आया तो वह था यूथ ओलम्पिक. जाट परिवार से आने वाले इस युवा ने यहां भी अपने अभियान को जारी रखा और सोना जीता. इस जीत ने सौरभ का नाम एक बार और इतिहास में लिखवा दिया था. वे यूथ ओलम्पिक में स्वर्ण पदक जीतने वाले भारत के पहले निशानेबाज बने. 

मेले में गुब्बारे पर निशाना साधने से की थी शुरुआत
सौरभ ने अपनी निशानेबाजी की शरुआत गांव के मेले में गुब्बारे पर निशाना साधने से की थी. वे उस समय भी एक दिन ओलंपिक निशानेबाजी में छाने का सपना देखा करते थे. सौरभ कंधे पर एयर रायफल लटकाए जब नीले, पीले और लाल रंग के गुब्बारों पर निशॉना साधते थे, उन्हें लगता था कि वे अभिनव बिंद्रा हैं. इसके बाद सौरभ रात-दिन निशानेबाजी करने लगे और अंतर विद्यालय और अंतर राज्यीय प्रतिस्पर्धाओं में हिस्सा लेने लगे. उनका यह शौक धीरे धीरे जुनून में बदल गया और एक दिन वह राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में खेलने लगे. 

टीम इंडिया के ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा के घर आई ,ये खुशी

नई दिल्ली: भारतीय टीम के स्टार क्रिकेटर रोहित शर्मा के घर नए साल से ठीक पहले खुशियां दोगुनी हो गई हैं. ‘हिटमैन’ के नाम से मशहूर रोहित शर्मा पिता बन गए हैं. रोहित की पत्नी रीतिका ने प्यारी सी बेटी को जन्म दिया है. रोहित शर्मा के पिता बनने की यह खबर मेलबर्न में भारत के तीसरा टेस्ट मैच जीतने के कुछ घंटे बाद ही आई. उस वक्त टीम इंडिया जीत की खुशी में डूबी हुई थी. 

रोहित शर्मा पहली बार पिता बने हैं. वे ऑस्ट्रेलिया से अपने घर के लिए रवाना हो गए हैं और 3 जनवरी से शुरू हो रहे सीरीज के अंतिम टेस्ट मैच में नहीं खेल सकेंगे. सीरीज का चौथा और अंतिम टेस्ट सिडनी (Sydney Test) में खेला जाएगा. भारत चार मैचों की इस सीरीज (India vs Australia) में अभी 2-1 से आगे है. 

रोहित शर्मा ने मेलबर्न टेस्ट (Melbourne Test) में 63 रन की शानदार पारी खेली थी. उनकी इस पारी की बदौलत ही भारत 400 से बड़ा स्कोर बनाकर ऑस्ट्रेलिया पर दबाव बना सका था. हालांकि, वे दूसरी पारी में सफल नहीं हो पाए थे और महज पांच रन बनाकर आउट हो गए थे. रोहित शर्मा ने पहले टेस्ट की दो पारियों में 37 और एक रन बनाए थे. वे दूसरे टेस्ट में चोट के कारण नहीं खेल पाए थे. 
भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने यह साफ कर दिया है कि रोहित शर्मा अब सिडनी में होने वाले चौथे टेस्ट में नहीं खेलेंगे. उनकी जगह टीम में किसी को शामिल नहीं किया गया है. यानी, ऑस्ट्रेलिया में मौजूद खिलाड़ियों में से ही किसी एक को प्लेइंग इलेवन में जगह मिलेगी. माना जा रहा है कि ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या को टीम में शामिल किया जा सकता है. रोहित शर्मा वनडे सीरीज से पहले टीम इंडिया से जुड़ जाएंगे. 

कैच प्रैक्टिस के दौरान फटी शॉन पोलक की पैंट, ऐसे छुपाकर बचाते रहे इज्जत

नई दिल्ली: क्रिकेट मैच के दौरान मैदान में कई बार खेल से इतर कुछ ऐसी घटनाएं घट जाती हैं, जो लोगों का ध्यान खींच लेती हैं. ऐसी ही एक घटना दक्षिण अफ्रीका और पाकिस्तान के बीच खेले गए टेस्ट मैच में देखने को मिला. सेंचुरियन में खेले गए मैच में ब्रेक के दौरान पूर्व क्रिकेटर एक्सपर्ट के रूप में मैच पर बातें कर रहे थे. इसी दौरान दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान शॉन पोलक स्लिप में कैच पकड़ने के तरीके के बारे में बता रहे थे. पोलक कैच लेने के लिए जैसे ही झुके उनकी पैंट फट गई. इस दौरान पोलक के बगल में दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ भी मौजूद थे.पैंट फटने का अहसास होते ही पोलक ने अपने हाथ से पीछे के हिस्स को ढक लिया. फिर वह जैसे-तैसे हाथों से फटी हुई पैंट को छुपाते हुए मैदान के बाहर चेंज करने चले गए. दिलचस्प बात यह है कि पोलक के साथ जब यह घटना घटी उस वक्त टीवी चैनल पर इसका लाइव प्रसारण हो रहा था.पूरा घटनाक्रम देखकर वहां मौजूद दूसरे क्रिकेटर और ग्राउंड स्टॉफ के लोग जोर-जोर से हंसते देखे गए. वहीं शॉन पोलक के चेहरे पर शर्मिंदगी साफ तौर से दिख रही थी. शॉन पोलक ने ट्वीट कर फटी हुई पैंट की तस्वीर शेयर की है. तस्वीर में साफ तौर से दिख रहा है कि पैंट पीछे से काफी फट गई है. चेंजिंग रूम की तरफ से मिल पायजामे के लिए उन्होंने शुक्रिया कहा है. साथ ही उन्होंने पायजामे में अपनी तस्वीर भी शेयर किया है.मालूम हो कि दक्षिण अफ्रीका ने पाकिस्तान को छह विकेट से हरा दिया है. मैच की पहली पारी में पाकिस्तान ने 181 रन बनाए थे. दक्षिण अफ्रीका ने पहली पारी में 223 रन बनाए. दूसरी पारी में पाकिस्तान 190 रनों पर ढेर हो गई. 151 रनों के लक्ष्य को दक्षिण अफ्रीका ने 4 विकेट खोकर हासिल कर लिया. दक्षिण अफ्रीका के ओपनर डेन एल्गर ने चौथी पारी में 50 रनों की पारी खेली.मालूम हो कि दक्षिण अफ्रीका ने पाकिस्तान को छह विकेट से हरा दिया है

तीसरा टेस्ट : ऑस्ट्रेलिया से आगे भारत

मेलबोर्न। मेजबान ऑस्ट्रेलिया यहां मेलबोर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) पर भारत के खिलाफ जारी तीसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन शनिवार को हार की तरफ बढ़ता दिख रहा है। 399 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने चायकाल के बाद अंतिम समाचार मिलने तक 61.3 ओवर में 176/7 रन बना लिए थे। रवींद्र जडेजा ने 3, जसप्रीत बुमराह ने 2 और ईशांत शर्मा व मोहम्मद शमी ने 1-1 विकेट लिया है।

भारत ने आज सुबह अपनी दूसरी पारी 54/5 रन से आगे बढ़ाई और 106/8 रन पर घोषित कर दी। भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट के नुकसान पर 443 रन पर घोषित की थी और ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी में 151 रन पर ढेर कर दिया था। एडिलेड में खेला गया पहला टेस्ट भारत ने 31 रन से और पर्थ में हुआ दूसरा टेस्ट ऑस्ट्रेलिया ने 146 रन से जीता था।