Updated -

mobile_app
liveTv

Notice: Undefined index: author in /home/jaipurtimes/public_html/news-category.php on line 129

IPL नीलामी में ये खिलाडी करोड़ो में बिक़े

जयपुर। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के बीते सीजन की नीलामी में सबसे महंगे बिकने वाले बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट लीग के आगामी सीजन की नीलामी में भी सबसे ज्यादा रकम हासिल करने में सफल रहे हैं। 

उन्हें हालांकि इस बार वरुण चक्रवर्ती से कड़ी प्रतिस्पर्धा मिली। दोनों को मंगलवार को नीलामी में 8.4 करोड़ रुपये मिले हैं। भारत की विश्व कप-2011 जीता का अहम हिस्सा रहे युवराज सिंह को नीलामी के शुरुआती चरण में किसी ने नहीं खरीदा था, लेकिन अंत में वह मुंबई इंडियंस के हिस्से बेस प्राइस एक करोड़ में गए। 

उनादकट को पिछले साल राजस्थान रॉयल्स ने खरीदा था। नीलामी से पहले राजस्थान ने उन्हें रिटेन न करने का फैसला किया था, लेकिन इस साल राजस्थान ने एक बार फिर उन्हें अपने साथ जोड़ा है। 

वहीं वरुण अपने पहले आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब की जर्सी में दिखेंगे। पंजाब ने उनके लिए भारी भरकम रकम अदा करने का जोखिम उठाया है। पंजाब ने इंग्लैंड के हरफनमौला खिलाड़ी सैम कुरैन के भी अच्छी खासी कीमत अदा की है। हाली ही में भारत के इंग्लैंड दौरे पर बल्ले और गेंद से धमाल माचने वाले इस हरफनमौला खिलाड़ी के लिए पंजाब ने 7.2 करोड़ रुपये दिए हैं। 

कोलिन इंग्राम भी अच्छी खासी कीमत लेने में सफल रहे हैं। उन्हें दिल्ली कैपिटल्स ने 6.4 करोड़ रुपये में खरीदा है। दिल्ली ने ही हरफनमौला खिलाड़ी अक्षर पटेल के लिए पांच करोड़ रुपये दिए हैं। 

मुंबई के लिए रणजी ट्रॉफी में सोमवार को लगातार पांच छक्के मारने वाले बल्लेबाज शिवम दुबे को भी पांच करोड़ की अच्छी खासी रकम मिली है। वह विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के साथ आईपीएल पदार्पण करेंगे। 

वेस्टइंडीज की टी-20 टीम के कप्तान कार्लोस ब्राथवेट कोलकाता नाइट राइडर्स में पांच करोड़ की कीमत के साथ गए हैं। बीते सीजन पंजाब द्वारा रिटेन किए जाने वाले हरफनमौला खिलाड़ी अक्षर पटेल इस सीजन में दिल्ली की जर्सी में दिखेंगे। नए नाम से उतरने वाली दिल्ली ने अक्षर के लिए पांच करोड़ रुपये दिए हैं। मौजूदा विजेता चेन्नई सुपर किंग्स ने मोहित शर्मा के लिए पांच करोड़ दिए हैं। 

मोहित को अपने साथ जोडऩे से पहले चेन्नई मोहम्मद शमी के लिए बोली लगा रही थी लेकिन शमी उसके साथ नहीं आ सके। पंजाब ने शमी के लिए 4.8 करोड़ रुपये खर्च किए हैं। शमी पिछले सीजन दिल्ली के लिए खेले थे। 

हाल ही में भारत में खेली गई टी-20 सीरीज में बल्ले से अच्छा प्रदर्शन करने वाले वेस्टइंडीज के शिमरोन हेटमायेर विराट की कप्तानी वाली बेंगलोर के लिए खेलते नजर आएंगे पहले खिताब की आस में बैठी बेंगलोर ने इस बल्लेबाज के लिए अपनी जेब से 4.2 करोड़ रुपये की राशि दी है। हेटमायेर की हमवतन निकोलस पूरन इतनी ही रकम में पंजाब के साथ आईपीएल पदार्पण करेंगे। बेंगलोर ने एक और युवा खिलाड़ी पर दांव खेलते हुए अक्षदीप नाथ को 3.6 करोड़ रुपये में अपने साथ जोड़ा है। अक्षदीप शुरुआती चरण में नहीं बिके थे लेकिन इसके बाद बेंगलोर ने नीलामी के अंत में उन्हें अपने साथ जोड़ा। 

तीन बार की विजेता मुंबई इंडियंस ने बाएं हाथ के तेज गेंदबाज बरिंदर सिंह सरण के लिए 3.4 करोड़ खर्च किए हैं। श्रीलंका के लसिथ मलिंगा एक बार फिर मुंबई इंडियंस के साथ दिखेंगे। मुंबई ने इस गेंदबाज को उनकी बेस प्राइस दो करोड़ में अपने साथ जोड़ा है। 

सनराइजर्स हैदराबाद ने इंग्लैंड के जॉनी बेयरस्टो को 2.2 करोड़ रुपये में अपने साथ जोडक़र बल्लेबाजी मजबूत की है। दिल्ली ने शेन रदरफोर्ड के ऊपर दो करोड़ रुपये का दांव खेला है। 



 


Notice: Undefined index: author in /home/jaipurtimes/public_html/news-category.php on line 129

स्पेनिश लीग :रियल मेड्रिड ने रायो वालेकानो को 1-0 से हराया

फ्रांस के स्टार फॉरवर्ड खिलाड़ी एंटोनी ग्रीजमैन के दो गोलों की बदौलत स्पेनिश फुटबॉल क्लब एटलेटिको मेड्रिड ने लीग के 16वें दौर के मुकाबले में यहां रियल वालाडोलिड को 3-2 से शिकस्त दी। इस जीत के बाद एटलेटिको 31 अंकों के साथ तालिका में तीसरे पायदान पर पहुंच गई है, जबकि वालाडोलिड 20 अंकों के साथ 12वें स्थान पर काबिज है। एटलेटिको ने मैच की दमदार शुरुआत की और 26वें मिनट में ही क्रोएशिया के फॉरवर्ड खिलाड़ी ने गोल करके मेहमान टीम को बढ़त दिला दी। 

एटलेटिको ने अपने आक्रमण को जारी रखा। पहले हाफ के इंजरी टाइम (46वें मिनट) में वीएआर के जरिए मेहमान टीम को पेनल्टी दी गई जिसे गोल में बदलकर ग्रीजमैन ने मैच का अपना पहला गोल किया। दूसरे हाफ में मेजबान टीम ने शानदार वापसी की। वालाडोलिड ने आक्रमण किया और 57वें मिनट में डिफेंडर फर्नान्डो कोलेरो ने हेडर के जरिए गोल करके मेजबान टीम की मैच में वापसी करा दी। 

पहले गोल से मेजबान टीम का आत्मविश्वास बढ़ा और उसने आक्रामक खेल जारी रखा। 63वें मिनट में साउल निगुएज के ओन गोल ने वालाडोलिड को बराबरी दिला दी। हालांकि, एटलेटिको दो गोल खाने के बाद भी पीछे नहीं हटी और 80वें मिनट में ग्रीजमैन ने मैच का अपना दूसरा गोल करके मेहमान टीम को जीत दिला दी।
 


Notice: Undefined index: author in /home/jaipurtimes/public_html/news-category.php on line 129

आईपीएल में क्रिकेट की मंडी में बिकने को तैयार हैं 346 खिलाड़ी

जयपुर। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण की नीलामी मंगलवार को होगी, जहां कई दिग्गज खिलाडिय़ों की बोली लगेगी। इस नीलामी में इस बार इसी सत्र से घरेलू क्रिकेट में शामिल किए गए नौ नए राज्यों के खिलाड़ी भी नीलामी का हिस्सा होंगे। इनमें अरुणाचल प्रदेश, बिहार, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, सिक्किम, उत्तराखंड और पुडुचेरी शामिल हैं। इसी साल बीसीसीआई ने इन नौ राज्यों को घरेलू क्रिकेट खेलने की अनुमति दी थी। 

इससे पहले, नीलामी के लिए इस बार 1003 खिलाडिय़ों ने अपना नामांकन कराया था लेकिन लीग की आठ टीमों ने छंटनी करके अब 346 खिलाडिय़ों की सूची आईपीएल की कार्यकारी परिषद को सौंप दी है। इन 346 खिलाडिय़ों में नौ ऐसे खिलाड़ी हैं, जिनका बेस प्राइस दो करोड़ रुपए हैं। इनमें ब्रेंडन मैकुलम, क्रिस वोक्स, लसिथ मलिंगा, शॉन मार्श, कोलिन इंग्राम, कोरी एंडरसन, एंजेलो मैथ्यूज, सैम कुरैन और डी आर्की शॉर्ट शमिल हैं। 

भारत के जयदेव उनादकत को पिछली बार 11.5 करोड़ रुपए में राजस्थान रॉयल्स ने खरीदा था। इस बार हालांकि उन्हें फ्रेंचाइजी ने रिटेन नहीं किया है। वहीं, 1.5 करोड़ रुपए के बेस प्राइस वाले खिलाडिय़ों की सूची में 10 खिलाड़ी शामिल हैं, जिसमें एक भारतीय और नौ विदेशी खिलाड़ी हैं। इनमें डेल स्टेन और मोर्ने मोर्कल जैसे खिलाड़ी हैं। एक करोड़ के बेस प्राइस वाले खिलाडिय़ों में चार भारतीय सहित कुल 19 खिलाड़ी नीलामी में उतर रहे हैं। 

युवराज सिंह, अक्षर पटेल और मोहम्मद शमी का बेस प्राइस इस बार एक करोड़ रुपए हैं। युवराज और अक्षर को पंजाब ने इस साल रिटेन नहीं किया है। वहीं दिल्ली ने शमी से नाता तोड़ा लिया है। 75 लाख रुपए की बेस प्राइस सूची में इस बार दो भारतीय सहित कुल 18 खिलाडिय़ों की बोली लगने जा रही है। इनमें भारतीय तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा भी शामिल हैं। इसके अलावा 50 लाख रुपए के बेस प्राइस वालों में कुल 62 खिलाड़ी नीलामी में उतरने जा रहे हैं। इनमें 18 भारतीय और 44 विदेशी खिलाड़ी शामिल हैं।

आईपीएल के 12वें सीजन के लिए सात ऐसे खिलाड़ी हैं जो पहली बार नीलामी में उतरने जा रहे हैं और इनका बेस प्राइस 40 लाख रुपए हैं। ये सातों खिलाड़ी विदेशी हैं। 30 लाख रुपए के बेस प्राइस वालों में कुल आठ खिलाडिय़ों की बोली लगने जा रही है। इन आठ में से पांच भारतीय और तीन विदेशी हैं। ये आठों खिलाड़ी पहली बार नीलामी का हिस्सा बनने जा रहे हैं। वहीं, 20 लाख रुपए के बेस प्राइस वालों की सूची में कुल 213 खिलाड़ी हैं जो पहली बार लीग के लिए नीलामी में बिकने जा रहे हैं। इन 213 खिलाडिय़ों में 196 भारतीय और 17 विदेशी हैं। 
 


Notice: Undefined index: author in /home/jaipurtimes/public_html/news-category.php on line 129

पर्थ टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया से हारा भारत ,विराट ने ये बतया कारण


पर्थ टेस्ट में भारत को ऑस्ट्रेलिया के हाथों 146 रनों से हार का सामना करना पड़ा। भारत के सामने अपनी दूसरी पारी में 287 रनों का लक्ष्य था लेकिन पांचवें दिन पूरी टीम 140 रन बनाकर आउट हो गई। मैच के बाद कप्तान विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलियाई टीम की तारीफ की। मैच के बाद जब टीम चयन को लेकर कोहली से पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि उन्हें अपने 4 फास्ट बोलरों से बेहतर करने की उम्मीद थी और इसीलिए उन्होंने स्पिन गेंदबाज रविंद्र जडेजा के चयन पर विचार ही नहीं किया। मैच के बाद कप्तान कोहली ने कहा, 'कोहली ने कहा कि हम कुछ हिस्सों में अच्छा खेले और इस बात से सीख लेकर हम अगले मैच में उतरेंगे।' कोहली ने विपक्षी टीम की तारीफ करते हुए कहा, 'ऑस्ट्रेलिया ने हमसे बेहतर क्रिकेट खेला और वह जीतना डिजर्व करते थे।' 

यहां पढ़ें: पर्थ टेस्ट में 146 रन से हारा भारत- मैच रिपोर्ट 
भारतीय कप्तान ने माना कि अगर लक्ष्य 30-40 कम होता तो अच्छा रहता। उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई टीम ने बेहतर प्रदर्शन किया और बोर्ड पर स्कोर खड़ा किया। कोहली अपने गेंदबाजों के प्रदर्शन से खुश नजर आए। 

उन्होंने कहा, 'हमारे गेंदबाजों ने जिस तरह का प्रदर्शन किया वह वाकई काबिले-तारीफ है। खास तौर पर दूसरी पारी में हमारे गेंदबाजों का प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा।'
  
कोहली से जब पूछा गया कि क्या इस पिच पर जडेजा को मौका दिया जाना चाहिए था तो इस पर उन्होंने कहा कि पिच देखने के बाद उन्हें ऐसा नहीं लगा। कोहली ने कहा, 'जब हमनें पहली बार पिच देखी तो हमें लगा तेज गेंदबाज काफी होंगे। लेकिन नाथन लायन ने इस विकेट पर काफी अच्छी गेंदबाजी की। 

टीम में भुवनेश्वर कुमार के स्थान पर उमेश यादव को तरजीह देने पर बात करते हुए विराट ने कहा, 'भुवी ने हाल ही में कुछ ज्यादा टेस्ट मैच नहीं खेले हैं। उमेश यादव ने अपने पिछले टेस्ट मैच में 10 विकेट लिए थे और वह अच्छी लय में दिख रहे थे, तो हमने उन्हें चुना। अगर अश्विन फिट होते तो हम उनके नाम पर विचार कर सकते थे। ईमानदारी से कहूं तो हमने कभी स्पिन विकल्प के बारे में नहीं सोचा।'भारतीय कप्तान ने कहा कि अब वह अगले मैच के बारे में विचार कर रहे हैं। 


Notice: Undefined index: author in /home/jaipurtimes/public_html/news-category.php on line 129

न्यूजीलैंड के खिलाफ श्रीलंका वनडे-टी20 टीम का एलान

 श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने शुक्रवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ आगामी वन-डे और टी-20 सीरीज के लिए 17 सदस्यीय स्क्वाड का एलान कर दिया है। बता दें कि इस दोनों सीरीज के लिए कप्तानी की जिम्मेदारी टीम के स्टार तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा को दी गई है। वहीं, टीम का उप-कप्तान विकेटकीपर बल्लेबाज निरोशन डिकवेला को बनाया गया है।बता दें कि टेस्ट टीम का एलान पहले ही हो गया था। 15 दिसंबर से शुरू हो रहे इसी दौरे की शुरुआत टेस्ट सीरीज के साथ होगी। दोनों टीमों के बीच पहला टेस्ट 15 दिसंबर से, जबकि दूसरा टेस्ट 26 दिसंबर से खेला जाएगा।

वहीं, 3 जनवरी 2019 से तीन मैचों की वन-डे सीरीज का पहला मैच खेला जाएगा, जबकि 8 जनवरी को वन-डे सीरीज का आखिरी मैच खेला जाएगा। इसके बाद दोनों टीमों के बीच एकमात्र टी-20 मैच 11 जनवरी को खेला जाएगा।

श्रीलंकाई टीमः
लसिथ मलिंगा (कप्तान), निरोशन डिकवेला (उप कप्तान), एंजेलो मैथ्यूज, दनुष्का गुणाथिलिका, कुसल परेरा, दिनेश चांदीमल, असेला गुणारत्ने, कुसल मेंडिस, धनंजया डी सिल्वा, थिसारा परेरा, दसुन शानका, लक्षण संदकन, सीकूजे प्रसन्ना, दुष्मांथा चमीरा, कसुन रंजिता, नुवान प्रदीप, लाहिरू कुमारा।


Notice: Undefined index: author in /home/jaipurtimes/public_html/news-category.php on line 129

अमेरिका की बीवन झांग को हराकर बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स के सेमीफाइनल में किया प्रवेश

चीन । भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने शुक्रवार को अमेरिका की बीवन झांग को हराकर बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया। रियो ओलम्पिक की रजत पदक विजेता सिंधु ने महिला एकल के मैच में झांग को 35 मिनट में 21-9, 21-15 से मात दी। सिंधु ने शुरुआत से ही अमेरिकी खिलाड़ी पर अपना दबदबा कायम रखते हुए आसान जीत अपने नाम कर ली। वहीं, पुरुष एकल वर्ग के मैच में समीर वर्मा ने थाईलैंड के कांटाफोन वेंगचारीओन को 21-9, 21-18 से हराकर नाकआउट चरण में प्रवेश किया।

समीर ने 45 मिनट तक चले मुकाबले में पहला गेम आसानी से 21-9 से जीत लिया। हालांकि दूसरे गेम में उन्हें विपक्षी खिलाड़ी से कड़ी चुनौती मिली। लेकिन आखिरी में समीर ने 21-18 से दूसरा गेम और मैच भी जीत लिया। 


Notice: Undefined index: author in /home/jaipurtimes/public_html/news-category.php on line 129

भारत ने रचा इतिहास, ऑस्ट्रेलिया को हराया

भारत और ऑस्ट्रेलियाके बीच पहले टेस्‍ट मैच में भारतीय टीम ने 31 रन से  जीत हासिल की. चेतेश्‍वर पुजारा को मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया. विराट कोहली  की कप्तानी में टीम इंडिया ने पहले टेस्ट में शानदार प्रदर्शन किया. विकेट के पीछे ऋषभ पंत  ने भी एमएस धोनी और ऋद्धिमान साहा  जैसे विकेटकीपर की जरूरत महसूस नहीं होने दी. उन्होंने विकेट के पीछे शानदार खेल दिखाया और ऐसा रिकॉर्ड बना लिया. जिसको एमएस धोनी भी नहीं कर सके. यहां तक कि उन्होंने ऋद्धिमान साहा को भी पीछे छोड़ दिया है.
टेस्ट मैच में सबसे ज्यादा कैच लेकर वो टॉप पर आ गए हैं. इससे पहले ऋद्धिमान साहा ने 10 डिसमिसल किए थे. उन्होंने 2018 में केप टाउन में साउथ अफ्रीका के खिलाफ ये कारनामा किया था. तो वहीं 2014 में मेलबर्न में एमएस धोनी ने 9 डिसमिसल किए थे. ऋषभ पंत अब इनके आगे निकल चुके हैं.ऋषभ पंत टॉप पर आ चुके हैं. एडिलेड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वो 11 कैच ले चुके हैं. ऐसा करने वाले इंग्लैंड के जैक रसल और साउथ अफ्रीका के एबी डिविलियर्स हैं. दोनों ने 11-11 कैच लिए हैं. पंत अब इनके साथ खड़े हो गए हैं. बॉब टेलर, एडम गिलक्रिस्ट और ऋद्धिमान साहा ने 10 कैच लिए.
 ऋषभ पंत को एमएस धोनी का उत्तराधिकारी माना जा रहा है. कप्तान विराट कोहली भी ऋषभ पंत पर पूरा भरोसा करते हैं और उनको चांस देते हैं. टी-20 में अच्छा परफॉर्म करने के बाद उन्हें टेस्ट में मौका दिया गया. ऋद्धिमान साहा चोटिल होने की वजह से बाहर हैं इसलिए उन्हें मौका दिया गया. 

भारतीय टीम ने पहली पारी में 250 रन बनाए थे जिसके जवाब में ऑस्‍ट्रेलिया टीम की पहली पारी 235 रन पर समाप्‍त हुई थी. भारत ने दूसरी पारी में 307 रन बनाए थे. पहली पारी के आधार पर भारतीय टीम को मिली 15 रन की बढ़त को मिलाने के बाद ऑस्‍ट्रेलिया के सामने मैच में जीत के लिए 323 रन का लक्ष्‍य दिया. पहले टेस्ट में चेतेश्वर पुजारा ने शानदार परफॉर्म किया. पहली इनिंग में शानदार शतक जड़कर भारत को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया. दूसरी इनिंग में भी उन्होंने शानदार परफॉर्म किया.


Notice: Undefined index: author in /home/jaipurtimes/public_html/news-category.php on line 129

पूल के आखिरी मैच में कनाडा से भिड़ेगा भारत

ओडिशा हॉकी विश्व कप टूर्नामेंट में ग्रुप-सी में चार अंकों के साथ सबसे ऊपर है लेकिन अगर उसे क्वार्टर फाइनल की राह तय करनी है, तो उसे कनाडा के खिलाफ शनिवार को खेले जाने वाले आखिरी ग्रुप मैच में जीत हासिल करनी होगी और यहीं मानना है टीम के मुख्य कोच हरेंद्र सिंह का. हरेंद्र का कहना है कि उनकी टीम कनाडा के खिलाफ एक भी गोल नहीं खाना चाहती है और ग्रुप-सी में शीर्ष पर रहते हुए अंतिम-8 में पहुंचना चाहती है.

भारत ने इस टूर्नामेंट की शुरुआत अच्छी की थी. उसने दक्षिण अफ्रीका को पहले मैच में 5-0 से हराया था. हालांकि, बेल्जियम के खिलाफ उसका मैच 2-2 से ड्रॉ हुआ था. ग्रुप-सी में शामिल कनाडा एक मैच में हार और एक मैच ड्रॉ होने के साथ तीसरे स्थान पर है, वहीं बेल्जियम भी चार अंकों के साथ दूसरे स्थान पर है. भारतीय टीम गोल अंकों के आधार पर सबसे आगे है. ऐसे में कनाडा के खिलाफ ड्रॉ मैच भी उसे क्वार्टर फानइल तक पहुंचा देगा, लेकिन हरेंद्र को जीत से कम कुछ मंजूर नहीं.

मैच से पहले एक संवाददाता सम्मेलन में हरेंद्र ने कहा, "बेल्जियम के खिलाफ मैच के बाद मिले ब्रेक के बाद भारतीय टीम फिर से तरोताजा महसूस कर रही है और अगले मैच के लिए पूरी तरह से तैयार है. टीम पूल-सी में शीर्ष स्थान पर रहते हुए क्वार्टर फाइनल में प्रवेश करना चाहती है. हम नहीं चाहते कि भारतीय डिफेंडर कनाडा के खिलाफ मैच में एक भी गोल खाएं."

कोच हरेंद्र की यह बात सही है कि अगर भारतीय टीम ने कनाडा के खिलाफ मैच में अधिक गोल खाए और हार का सामना किया, तो क्वार्टर फाइनल में पहुंचने के उसके अवसर अन्य दो टीमों के मैच के परिणाम पर निर्भर करेंगे, जो हित में हो यह संभव नहीं. इसके लिए सबसे जरूरी है भारतीय टीम का पेनाल्टी कॉर्नर के अवसर का सही इस्तेमाल करना.
पेनाल्टी कॉर्नर पर जोर देते हुए कोच हरेंद्र ने कहा, "भारतीय टीम ने पेनाल्टी कॉर्नर पर बहुत मेहनत की है. मेरा मानना है कि सही पुश और ट्रैप के साथ ही हम अच्छा ड्रैग फ्लिक कर गोल हासिल कर सकते हैं." भारतीय टीम ने हॉकी विश्व कप के पिछले 13 संस्करणों में से केवल एक में खिताबी जीत हासिल की है. 1975 में पाकिस्तान को कड़े मुकाबले में 2-1 से हराकर उसने विश्व कप अपने नाम किया था और एक बार फिर इस पल को जीने के लिए और खिताब के करीब एक और कदम बढ़ाने के लिए वह कनाडा के खिलाफ हर हाल में जीत के इरादे से मैदान पर उतरेगी.पूल के आखिरी मैच में कनाडा से भिड़ेगा भारत


Notice: Undefined index: author in /home/jaipurtimes/public_html/news-category.php on line 129

IPL 2019: अब नए नाम से जानी जाएगी

इंडियन प्रीमियर लीग की फ्रेंचाइजी ​टीम दिल्ली डेयरडेविल्स ने अपना नाम और लोगो बदल लिया है। अब आईपीएल के 12वें संस्करण में दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम नए नाम 'दिल्ली कैपिटल्स' के साथ उतरेगी। फ्रेंचाइजी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर इस बात की जानकारी देते हुए लिखा, 'दिल्लीवासियों, दिल्ली कैपिटल्स को हैलो कहो!' टीम ने अपने नए लोगो को भी जारी कर दिया है। 'दिल्ली कैपिटल्स' के लोगो में तीन टाइगर्स नजर आ रहे हैं। गौरतलब है कि आईपीएल के 12वें सीजन के लिए नीलामी 18 दिसंबर को जयपुर में होगी। इससे पहले आईपीएल के 11 संस्करणों की नीलामी प्रक्रिया का आयोजन बेंगलुरु में होता रहा है। लेकिन बीसीसीआई ने इस बार आईपीएल नीलामी के स्थान में भी परिवर्तन किया है। आईपीएल 2019 के लिए सिर्फ 70 खिलाड़ियों को नीलामी प्रक्रिया में जगह दी गई है, जिनमें 50 भारतीय और 20 विदेशी खिलाड़ी शामिल हैं। आठ टीमों के पास नीलामी में बोली लगाने के लिए कुल 145 करोड़ 25 लाख रुपये की राशि है। नीलामी से पूर्व पिछले महीने टीमों ने रीटेन किए हुए खिलाड़ियों के नामों की घोषणा की और इस दौरान कुछ बड़े नामों को रिलीज किया। किंग्स इलेवन पंजाब ने युवराज सिंह, जबकि दिल्ली कैपिटल्स ने गौतम गंभीर को रिलीज किया है। वहीं, सनराइजर्स हैदराबाद ने ना चाहते हुए भी वित्तिय कारणों से शिखर धवन को ​रिलीज किया। अब शिखर धवन 12वें सीजन में दिल्ली कैपिटल्स के लिए खेलेंगे। इस बात की भी संभावना है कि लोकसभा चुनावों के साथ तारीखों के टकराव की स्थिति में आईपीएल 2019 के कुछ हिस्से या पूरे टूर्नमेंट का आयोजन भारत के बाहर हो सकता है। इससे पहले भी साल 2009 में लोकसभा चुनावों की वजह से इंडियन प्रीमियर लीग के दूसरे संस्करण का आयोजन दक्षिण अफ्रीका में किया गया था। इस बार भी लोकसभा के चुनाव अप्रैल-मई में संभावित हैं।

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 2019 में होने वाले 12वें संस्करण की जयपुर में 18 दिसंबर को आयोजित नीलामी के लिये 232 विदेशी खिलाड़ियों सहित 1003 खिलाड़ियों ने अपना पंजीकरण कराया है। आईपीएल की बुधवार को जारी विज्ञप्ति के अनुसार मंगलवार को खिलाड़ी पंजीकरण समाप्ति की आखिरी तारीख थी।नीलामी के लिये 232 विदेशी खिलाड़ियों सहित 1003 खिलाड़ियों ने अपना पंजीकरण कराया है। नीलामी जयपुर में 18 दिसंबर को होगी जिसमें आठ फ्रेंचाइजी टीमें 70 स्थानों के लिये अपना दांव लगायेंगी। पंजीकृत खिलाड़ियों में 200 कैप्ड खिलाड़ी, 800 अनकैप्ड खिलाड़ी और एसोसिएट देशों से तीन खिलाड़ी शामिल हैं। 800 अनकैप्ड खिलाड़यिों में 746 भारतीय हैं। 

आईपीएल के इतिहास में पहली बार नौ राज्यों अरूणाचल प्रदेश, बिहार, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, सिक्किम, उत्तराखंड और पुड्डुचेरी से क्रिकेटरों ने इस उम्मीद से अपना पंजीकरण कराया है कि उन्हें बेशुमार दौलत से भरपूर इस टूर्नामेंट में खेलने का मौका मिलेगा।


Notice: Undefined index: author in /home/jaipurtimes/public_html/news-category.php on line 129

मशहूर क्रिकेटर गौतम गंभीर ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास का किया ऐलान

मशहूर क्रिकेटर गौतम गंभीर ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है। उनके इस तरह अचानक संन्यास के फैसले से फैंस भी सकते में हैं। गंभीर आईपीएल में शाहरुख खान की टीम कोलकाता नाइटराइडर्स की ओर से खेलते आए हैं। उनकी कप्तानी में शाहरुख की टीम ने साल 2012 और 2014 में आईपीएल का खिताब अपने नाम किया था। अब ऐसे में अपनी टीम के बड़े खिलाड़ी के इस तरह संन्यास लेने से शाहरुख भी इमोशनल हो गए।शाहरुख ने ट्विटर पर लिखा कि 'प्यार और कप्तानी के लिए आपका धन्यवाद मेरे कप्तान। आप हमेशा स्पेशल हैं। अल्लाह हमेशा आपको खुश रखे और आपको थोड़ा ज्यादा मुस्कुराना चाहिए।'शाहरुख के वर्क फ्रंट की बात करें तो उनकी अपकमिंग फिल्म जीरो है। इसका नया गाना 'इश्कबाजी' मंगलवार को रिलीज हो गया है। खास बात यह है कि इस गाने में शाहरुख खान और सलमान खान एक साथ ठुमके लगाते नजर आ रहे हैं। इससे भी दिलचस्प बात तो यह है कि गाने के आखिर में किंग खान सलमान की गोद में चढ़कर झूमने लगते हैं।इश्कबाजी गाने के शुरुआत में दिखाया जाता है कि शाहरुख खान को कैटरीना कैफ किस करती हैं। इस बात से किंग खान इतना खुश होते हैं कि वह नाचने को मजबूर हो जाते हैं। इस दौरान 'शाहरुख खान कहते हैं कि ओ दुनिया वालों तुम लोगों ने कभी मेरी इज्जत नहीं की, हमेशा कहा कि देखो वो बुरा आ रहा है। आज इसी बुरे को बबीता कुमारी ने किस किया है।' शाहरुख खान को थिरकता देख सलमान खान खुद को रोक नहीं पाते हैं। फिर गमछा लेकर सलमान खान भी मंच पर पहुंच जाते हैं और शाहरुख खान के साथ नाचने लगते हैं।आनंद एल राय के निर्देशन में बनी जीरो में सलमान खान कैमियो रोल में हैं, जबकि शाहरुख खान, अनुष्का शर्मा और कैटरीना कैफ लीड भूमिका में नजर आएंगे। फिल्म जीरो क्रिसमस के मौके पर 21 दिसंबर को सिनेमाघरों में रिलीज होगी।


Notice: Undefined index: author in /home/jaipurtimes/public_html/news-category.php on line 129

मोहम्मद हफीज ने किया टेस्ट क्रिकेट से संन्यास की घोषणा

पाकिस्तान के बैटिंग आॅलराउंडर और टेस्ट ओपनर मोहम्मद हफीज ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी है। गौरतलब है कि हफीज ने लगभग दो साल के लंबे अंतराल के बाद आॅस्ट्रेलिया के साथ यूएई में खेली गई टेस्ट सीरीज से पाकिस्तान क्रिकेट टीम में वापसी की थी। उन्होंने, अपने वापसी मैच में शानदार शतकीय पारी खेली थी। उस एक मैच के बाद मोहम्मद हफीज का बल्ला एक बार फिर खामोश हो गया। जिसके बाद उन्होंने न्यूजीलैंड के साथ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के अबुधाबी में खेले जा रहे आखिरी मुकाबले के बाद टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी है।
इस 38 वर्षीय बल्लेबाज ने दो साल बाद पाकिस्तान की टेस्ट टीम में वापसी करते हुए पिछले महीने आॅस्ट्रेलिया के साथ दुबई में हुए टेस्ट मैच में शतक जमाया था। लेकिन इसके बाद वह 7 टेस्ट पारियों में केवल 66 रन ही बना पाए हैं। मोहम्मद हफीज ने कराची में 2003 में बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया और अबुधाबी में न्यूजीलैंड के साथ चल रहा टेस्ट मैच उनके करियर का 55वां टेस्ट मैच है। उन्होंने अब तक 3644 रन बनाए हैं जिसमें दस शतक और 12 अर्धशतक शामिल हैं। हफीज ने कहा, 'मुझे लगता है कि अब समय आ गया है। मैं संन्यास की घोषणा कर रहा हूं और मुझे खुशी है कि मैंने अपने करियर में कड़ी मेहनत की।'


Notice: Undefined index: author in /home/jaipurtimes/public_html/news-category.php on line 129

ये खिलाड़ी दिलाएंगे टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया में ऐतिहासिक जीत!

विराट कोहली ने साउथ अफ्रीका में रन बनाए लेकिन टीम इंडिया ने टेस्ट सीरीज गंवाई. विराट कोहली ने इंग्लैंड में रन बनाए, लेकिन भारत फिर सीरीज हारा. अब बारी ऑस्ट्रेलिया की है और यकीन मानिए सिर्फ विराट कोहली के रन बनाने से यहां भी टीम इंडिया को जीत नहीं मिलने वाली. अब सवाल ये है कि जीत मिलेगी कैसे? हम आपको बताते हैं कि टीम इंडिया कैसे इतिहास रच सकती है. ऑस्ट्रेलिया में जीत की चाभी है टीम इंडिया के गेंदबाज, जो कि 20 विकेट लेकर सीरीज भारत की झोली में डाल सकते हैं. हालांकि इसके लिए टीम इंडिया के बल्लेबाजों को भी अच्छा प्रदर्शन करना होगा, ताकि गेंदबाजों को 20 विकेट लेने का आधार मिल सके.

क्या कहते हैं एक्सपर्ट?

के श्रीकांत ने न्यूज 18 हिंदी के खेल संपादक विमल कुमार से खास बातचीत में इसी बात का जिक्र किया है. 'परंपरा रही है कि हम ऑस्ट्रेलिया में अच्छे प्रदर्शन के लिए अपने बल्लेबाजों पर निर्भर रहे हैं. हालांकि अब तस्वीर बदल गई है. अब ऑस्ट्रेलिया में जीत की कड़ी गेंदबाजी होगी.'
वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान कार्ल हूपर ने भी विमल कुमार से यही बात कही. उन्होंने बयान दिया, 'भारतीय बल्लेबाजों ने इंग्लैंड में निराशाजनक प्रदर्शन किया था. मैं 600-700 रनों की बात नहीं कर रहा हूं लेकिन टीम इंडिया के बल्लेबाजों को पहली पारी में कम से कम 400-500 रन बनाने होंगे ताकि गेंदबाज 20 विकेट लेकर आपको टेस्ट मैच जिता सकें.'भारत ने ऑस्ट्रेलिया में कभी सीरीज नहीं जीती है. उसे ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर 44 टेस्ट मैचों में से 28 में हार मिली है. जबकि उसने सिर्फ 7 मैच ड्रॉ कराए हैं और महज 5 टेस्ट में उसे जीत मिली है. इनमें से भी दो जीत तब मिली थी जब उनके बेस्ट खिलाड़ी कैरी पैकर में खेल रहे थे और पूर्व कप्तान बॉम सिम्पसन को 41 साल की उम्र में कप्तानी के लिए कहा गया था.
पिछले दो दौरों पर एक भी जीत नहीं
ऑस्ट्रेलियाई धरती पर टीम इंडिया ने पिछले दो दौरों पर एक भी जीत हासिल नहीं की है. साल 2011-12 में टीम इंडिया का 0-4 से क्लीन स्वीप हुआ. वहीं साल 2014-15 में टीम इंडिया ने दो मैच गंवाए और दो मुकाबले ड्रॉ रहे. हालांकि ये डरावना इतिहास इस दौरे पर बदल सकता है. पिछले 10 सालों में ऑस्ट्रेलिया को उसकी धरती पर 3 बार हराकर साउथ अफ्रीका ने इस भ्रम को तोड़ दिया है कि ऑस्ट्रेलिया को उसके घर पर नहीं हराया जा सकता. मतलब भारतीय टीम के पास भी ऑस्ट्रेलिया में पहली बार तिरंगा लहराने का मौका है