Updated -

mobile_app
liveTv

जीत के बाद कोहली ने कहा, जोहानसबर्ग में हुए तीसरे टेस्ट के बाद से ही..

पोर्ट एलिजाबेथ। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीतकर इतिहास रचने वाली भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली का कहना है कि उनकी टीम सीरीज को 5-1 से जीतना चाहती है। पोर्ट एलिजाबेथ में मंगलवार को खेले गए छह वनडे मैचों की सीरीज के पांचवें मैच में 73 रनों से जीत हासिल कर भारत ने इस सीरीज को 4-1 से अपने नाम कर लिया है। 

इस जीत से खुश कप्तान कोहली ने कहा कि यह इतिहास रचा गया है और इसके लिए टीम के सभी खिलाडिय़ों ने कड़ी मेहनत की है। कोहली ने कहा कि मैं इस जीत से बहुत खुश हूं। टीम का एक और शानदार प्रदर्शन। यह इतिहास रचा गया है और इसके लिए सभी खिलाडिय़ों ने कड़ी मेहनत की है। जोहानसबर्ग में खेले गए तीसरे टेस्ट के बाद से ही परिस्थितियां हमारे लिए अच्छी रही हैं। इस सीरीज के बाद हम तसल्ली से बैठकर यह सोचेंगे कि हमें कहां अपने खेल में सुधार करना है।

कप्तान एडेन मार्कराम ने कहा, मैं शुरुआत खुद से ही करना चाहूंगा

पोर्ट एलिजाबेथ। दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम के कप्तान एडेन मार्कराम का कहना है कि मंगलवार को खेले गए मैच में जीत का श्रेय भारतीय टीम को जाता है। पोर्ट एलिजाबेथ में खेले गए पांचवें मैच में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 73 रनों से हरा दिया। इस मैच में जीत हासिल करने के साथ ही भारतीय टीम ने छह वनडे मैचों की सीरीज में 4-1 से जीत हासिल कर ली है। 

दोनों टीमों के बीच अंतिम मैच सेंचुरियन में 16 फरवरी को खेला जाएगा। मार्कराम ने कहा, यह मुश्किल था। जीत का सारा श्रेय भारत को जाता है। हमारी बल्लेबाजी अच्छी नहीं थी। जब आप विकेट गंवाते हो, तो आपको लय में आने के लिए संघर्ष करना पड़ता है। मार्कराम ने कहा, खिलाडिय़ों की ओर से कुछ गलतियां हुई थीं और मैं शुरुआत खुद से ही करना चाहूंगा। 

लेकिन मैं फिर भी यह मानता हूं कि इस सीरीज में हमने भारतीय स्पिन गेंदबाजों का सामना अच्छे से किया। यह अनुभव हासिल करने की प्रक्रिया है। हम वापसी जरूर करेंगे और इस सीरीज का समापन सकारात्मक रूप में करेंगे।

भारत के खिलाफ आखिरी तीन वनडे के लिए टीम में लौटे डिविलियर्स

जोहान्सबर्ग। अब्राहम डिविलियर्स भारत के खिलाफ खेली जा रही छह वनडे मैचों की सीरीज के आखिरी तीन मैचों के लिए दक्षिण अफ्रीकी टीम में लौट आए हैं। वह उंगली में चोट के कारण शुरुआती तीन मैचों में नहीं खेले थे। मेजबान टीम इस समय भारत से 0-3 से पीछे है। बेवसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो की रिपोर्ट के मुताबिक, इस शानदार बल्लेबाज का शनिवार को होने वाले मैच में खेलना हालांकि शुक्रवार को होने वाले अभ्यास सत्र पर निर्भर करेगा। 

संकट में पड़ी मेजबान टीम के लिए यह एक अच्छी खबर है। डिविलियर्स के बाद फाफ डु प्लेसिस और क्विंटन डी कॉक के बाहर हो गए थे और दक्षिण अफ्रीका की टीम पूरी तरह से बैकफुट पर आ गई थी। डु प्लेसिस की गैरमौजूदगी में एडिन मार्कराम को टीम का कप्तान बनाया गया था। अब डिविलियर्स के आने से मेजबान टीम को मजबूती मिलेगी। 
 

38 स्वर्ण के साथ टॉप पर रहा हरियाणा

नई दिल्ली। हरियाणा ने गुरुवार को समाप्त खेलो इंडिया स्कूल गेम्स के पहले संस्करण में 38 स्वर्ण पदकों के साथ पदक तालिका में पहला स्थान हासिल किया। महाराष्ट्र ने सबसे अधिक 111 पदक हासिल किए लेकिन वह स्वर्ण की दौड़ में हरियाणा से पिछड़ गया। महाराष्ट्र ने 36 स्वर्ण जीते। दिल्ली 25 स्वर्ण के साथ तीसरे और कर्नाटक 16 स्वर्ण के साथ चौथे स्थान पर रहा। हरियाणा ने तालिका में महाराष्ट्र से एक स्वर्ण कम से गुरुवार की शुरुआत की लेकिन उसके मुक्केबाजों ने कुल 26 में से 10 स्वर्ण जीतते हुए पासा ही पलट दिया। हरियाणा ने विभिन्न खेलों में अंतिम दिन 15 स्वर्ण जीते।
केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर की मौजूदगी में मैसनाम मीराबाई ने बैडमिंटन फाइनल में 16-21, 21-14, 21-18 की जीत के साथ इन खेलों का अंतिम स्वर्ण पदक जीता। मणिपुर के मैसनाम ने फाइनल में उत्तर प्रदेश के आकाश यादव को हराया और इस खेल में श्रेष्ठ अंडर-17 खिलाड़ी बनकर उभरे। बैडमिंटन में लड़कियों का एकल वर्ग का स्वर्ण मालविका बांसोद ने जीता। बांसोद ने महाराष्ट्र की आकर्षी कश्यप को 21-12, 21-10 से हराया।

कोहली का फैन बना अब यह पाकिस्तानी स्टार

टेस्ट सीरीज 1-2 से गंवाने के बाद भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीकी धरती पर छह मैच की वनडे सीरीज में जोरदार वापसी की है। भारत शुरुआती तीनों वनडे जीतकर 3-0 से आगे हो गया है और यह तय हो गया है कि वह कम से कम यह सीरीज नहीं गंवाएगा।

भारत ने बुधवार को केपटाउन में खेले गए तीसरे वनडे में जोरदार खेल का प्रदर्शन करते हुए 124 रन से जीत दर्ज की। कप्तान विराट कोहली जीत के हीरो रहे। कोहली ने शिखर धवन का साथ लेकर भारत को 303 रन के मजबूत स्कोर तक पहुंचाया। 

कोहली ने 159 गेंदों का सामना करते हुए 12 चौकों और दो छक्कों की मदद से नाबाद 160 रन जुटाए। मौजूदा दौर के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार किए जाने वाले कोहली के कदरदानों में एक और नाम जुड़ गया है। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद ने उनकी दिल खोलकर तारीफ की है।

तीसरा वनडे : दक्षिण अफ्रीका ने टीम इंडिया को दिया पहला झटका

केपटाउन। दक्षिण अफ्रीका के कप्तान एडेन मार्कराम ने बुधवार को न्यूलैंडस क्रिकेट मैदान पर भारत के खिलाफ खेले जा रहे तीसरे वनडे में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। अंतिम समाचार मिलने तक भारत के 2 ओवर में 4/1 रन हो गए थे। शिखर धवन (4) व कप्तान विराट कोहली (0) क्रीज पर हैं। रोहित शर्मा (0) को कागिसो रबाडा ने पैवेलियन लौटा दिया। 

भारत छह वनडे मैचों की सीरीज में 2-0 से आगे है और इस मैच में उसकी कोशिश जीत हासिल करते हुए अपराजेय स्थिति हासिल करने की है। वहीं, मेजबान टीम वापसी की पूरी कोशिश करेगी। दक्षिण अफ्रीका ने लुंजी एनजिडी और हेइनरिक क्लासेन को वनडे पदार्पण करने का मौका दिया है। वहीं मोर्ने मोर्केल को बाहर जाना पड़ा है। स्पिन गेंदबाज तवरेज शम्सी के स्थान पर आंदिले फेहुलकवायो को अंतिम एकादश में जगह मिली है। भारतीय टीम में कोई बदलाव नहीं हुआ है।

भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, अजिंक्य रहाणे, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), केदार जाधव, हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल।

दक्षिण अफ्रीका : एडेन मार्कराम (कप्तान), हाशिम अमला, हेइनरिक क्लासेन , खाया जोंडो, जीन पॉल डुमिनी, डेविड मिलर, क्रिस मौरिस, कागिसो रबाडा, लुंजी एनजिडी, आंदिले फेहुलकवायो, इमरान ताहिर।

भारतीय फुटबॉल टीम के कोच स्टीफन कांस्टेनटाइन का बढ़ा करार

मुंबई। अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) द्वारा बुधवार को भारतीय फुटबॉल टीम के कोच स्टीफन कांस्टेनटाइन के करार को बढ़ा दिया गया। इंग्लैंड के 55 वर्षीय कांस्टेनटाइन वर्ष 2015 से भारतीय फुटबॉल टीम के कोच हैं। उन्होंने भारत को फरवरी 1996 के बाद से सर्वश्रेष्ठ फीफा रैंकिंग हासिल करने में मदद की। जुलाई 2017 में भारत फीफा रैंकिंग में 96वें स्थान पर पहुंच गया था। एआईएफएफ ने एक बयान में बताया कि श्याम थापा की अध्यक्षता में आज (7 फरवरी 2018) एआईएफएफ तकनीकी समिति की मुंबई में हुई बैठक में स्टीफन कांस्टेनटाइन के प्रदर्शन के आधार पर सर्वसम्मति से उनके करार को बढ़ाने की पेशकश की गई। बयान में कहा गया कि सदस्यों ने महसूस किया कि भारतीय फुटबॉल टीम ने हाल ही में एएफसी एशियन कप 2019 के लिए क्वालीफाई करके और फीफा रैंकिंग में एशियाई देशों में लगातार शीर्ष 15 में जगह बनाकर एआईएफएफ द्वारा तय किए गए लक्ष्यों को हासिल किया है। इसके आधार पर एआईएफएफ ने कांस्टेनटाइन के करार को बढ़ाने की पेशकश की।

इंडीज करेगा पहले डे-नाइट टेस्ट की मेजबानी, मिलेगी चुनौती

सेंट किट्स (एंटिगा)। 80 के दशक तक क्रिकेट जगत पर राज करने वाला वेस्टइंडीज 23 जून से अपने देश में पहले दिन-रात टेस्ट मैच की मेजबानी करेगा। यह मैच बारबाडोस में श्रीलंका के खिलाफ खेला जाएगा। 

केनसिंग्टन ओवल में खेला जाने वाला यह मैच श्रीलंका का इस मैदान पर पहला टेस्ट मैच होगा। श्रीलंका और वेस्टंडीज की टीमें तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेंगी, जिसकी शुरुआत छह जून से होगी। यह दिन-रात प्रारूप में गुलाबी गेंद से खेला जाने वाला टेस्ट मैच सीरीज का तीसरा और आखिरी टेस्ट मैच होगा।

वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो की रिपोर्ट के मुताबिक, यह श्रीलंका का पिछले 10 साल में पहला वेस्टइंडीज दौरा होगा। इससे पहले उसने मार्च-2008 में विंडीज का दौरा किया था जहां सीरीज 1-1 से बराबर रही थी। पहला टेस्ट मैच त्रिनिदाद के क्वींस पार्क ओवल में खेला जाएगा जबकि दूसरा मैच सेंट लूसिया के डैरेन सैमी क्रिकेट ग्राउंड में होगा।
 

डेविस कप : अमेरिका ने विश्व ग्रुप में सर्बिया को दी मात

बेलग्रेड। अमेरिका ने डेविस कप के विश्व ग्रुप के पहले दौर के मुकाबले में सर्बिया के खिलाफ अपनी जीत सुनिश्चित कर ली है। डेविस कप रैंकिंग में सातवें स्थान पर काबिज सर्बिया नौवें नबंर की टीम से हार गई। इसकी एक वजह यह भी हो सकती है कि उसके स्टार खिलाड़ी नोवाक जोकोविक, जैंको डिपसारेविक, विक्टर ट्रोइस्की और फिलिप क्राजिनोविक चोट के कारण नहीं खेले।

इसके कारण कोच नेनाड जिमोनजिक की टीम के पास ज्यादा अनुभव नहीं था। शुक्रवार को खेले गए पुरुष एकल वर्ग के पहले मैच में सर्बिया को डजेरे लास्लो को सैम क्वेरी ने 1-3 (6-7, 2-6, 5-7, 4-6) से हराया। वहीं जॉन इश्नेर ने सर्बिया को दुसान लाजोविक को दूसरे मुकाबले में 6-4, 6-7, 6-3, 7-6 से मात दी। 

दूसरे दिन शनिवार को पुरुष युगल वर्ग में निकोला मिलोजेविक और मिलजान जेकिक की जोड़ी को अमेरिका की रयान हैरिसन और स्टीव जॉनसन की जोड़ी ने 3-1 (6-7, 6-2, 7-5, 6-4) से शिकस्त दी। यह मैच तीन घंटे तक चला।

 

कपिल की मीडिया से अपील, सैनिकों की कहानियां दिखाएं न कि सनसनीखेज...

मुंबई। भारत को पहला विश्व कप दिलाने वाले कप्तान कपिल देव ने मीडिया से अपील की है कि वह सैनिकों की कहानियां दिखाएं न कि सनसनीखेज कहानियां। कपिल को 2008 में टेरिटोरियल आर्मी (टीए) में लेफ्टिनेंट की मानद उपाधि मिली थी।
कपिल ने यह बात अर्थव संस्थान की भारतीय सेना को श्रद्धांजलि देने की विशेष पहल के मौके पर कही। इस दौरान महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, विक्रम गोखले, अभिनेता आफताब शिवदसानी, नील नीतिन मुकेश और रोहिनी हाटनगाडी भी मौजूद थे। 
विश्व विजेता कप्तान ने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि यह एक मिशन है जिसे हमें आगे ले जाना है। मेरा यह भी मानना है कि काफी कुछ मीडिया पर भी निर्भर करता है कि वह इस पहल को कितनी तवज्जो देती है और इसे कितना दिखाती है।’’

जब द. अफ्रीका में आशीष नेहरा ने बरपाया था कहर, ये हैं टॉप...

नई दिल्ली। बाएं हाथ के भारतीय तेज गेंदबाज आशीष नेहरा ने पिछले साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। 38 वर्षीय नेहरा ने अपना अंतिम मैच टी20 के रूप में 1 नवंबर 2017 को दिल्ली में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था। वर्ष 1999 में डेब्यू करने वाले नेहरा को आज भी दक्षिण अफ्रीका में उनकी खतरनाक गेंदबाजी के लिए याद किया जाता है। नेहरा ने 26 फरवरी 2003 को डरबन में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए विश्व कप मुकाबले में स्विंग गेंदों से कहर बरपाया था। उनका विश्लेषण 10-2-23-6 रहा था। यह दक्षिण अफ्रीकी धरती पर वनडे में संयुक्त रूप से 5वां सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। नेहरा के ओवरऑल करिअर को देखें तो उनके 17 टेस्ट में 44, 120 वनडे में 157 और 27 टी20 मैच में 34 विकेट हैं।