Updated -

 पादरी गिरोह के तीन शातिर बदमाश गिरफ्तार 

जयपुर (कासं.) । खोह-नागोरियान एवं ट्रांसपोर्ट नगर थाना पुलिस ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए सूने मकानों से नकबजनी करने वाले पादरी गिरोह का पर्दाफाश करते हुए तीन शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने चोरी, नकबजनी, जेब कटाने सहित दर्जनों आपराधिक वारदात करने की बात कबूल की है।  गिरफ्तार आरोपी अम्बर (२०), बब्बर सिंह उर्फ कालू (२२) व पुरषोत्तम (२०) है। सभी आरोपी कनेरा थाना धरनावदा जिला गुना मध्यप्रदेश के रहने वाले है। डीसीपी ईस्ट कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि क्षेत्र में नकबजनी की घटनाओं को मध्येनजर रखते हुए प्रभावी गश्त करने एवं संदिग्धों पर नजर रखने के लिए सभी थानाधिकारियों को निर्देश प्रदान किए गए थे। रविवार देर रात को गश्त के दौरान खोह-नागोरियान थाने के पुलिस जवानों को टनल के पास में तीन लोग संदिग्ध नजर आए। इस बीच तीनों पुलिस को देखकर भागने लगे। इस पर पुलिस ने तीनों सदिग्धों का पीछा कर उन्हें पकड़ लिया और थाने लाकर सख्ती से पूछताछ की तो तीनों आरोपियों ने जयपुर शहर के कई इलाकों में चोरी, नकबजनी और जेबकटने की की दर्जनों वारदातें कबूल कर ली। पुलिस ने बताया कि इस गिरोह जयपुर के अलावा दिल्ली के भी विभिन्न इलाकों में नकबजनी, जेब कटने एवं ट्रेनों से अटैची चुराने की दर्जनों वारदात करना कबूल किया है। ये लोग रात के दौरान इलाके में अन्य नकबजनी की वारदात करने की फिराक में घूम रहे थे। 
बस-ट्रेन से पहुंचते है शहर और उसके बाद करते है रैकी
पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वह बस या ट्रेन से किसी भी बड़े शहर में आते है और यहां कुछ दिन तक ऑटो से शहर के बाहरी इलाके में सूने मकानों और दुकानों की रैकी करते है। रैकी करने के लिए ये बदमाश कूड़ा बीनने वाले भी बन जाते हैं। चोरी की वारदात करने के बाद ये बदमाश सीधे ही रेल या बस से वापस अपने घर चले जाते है। इसके बाद चोरी के माल जैसे जेवरात एवं अन्य सामानों को बाजार में बेचकर रुपयों का आपस में बंटवारा कर लेते है। 
पुलिस ने बताया कि पादरी गिरोह के ये बदमाश चोरी करने से पहले मकान में पूजा-पाठ करते हैं या शौच करके जाते हैं। यह उनके लिए शुभ होता है। गिरोह ने जून और जुलाई के महीने में खो-नागोरियान में ही तीन नकबजनी की वारदात करना कबूल किया है। वहीं एक वारदात सीकर में करना बताया है। पुलिस ने बताया कि गिरोह का आपराधिक रिकॉर्ड संबंधित थानों से प्राप्त किया जा रहा है। पूछताछ में अन्य वारदातों का खुलासा होने की संभावना है।

बुर्जुगों का दर्द मिटाने के लिए निकालते थे उनका खून

जयपुर (कासं.)। श्याम नगर थाना पुलिस ने इलाज के नाम पर रकम हड़पने वाले दो शातिर ठगों को सोमवार दोपहर गिरफ्तार किया है। पुलिस आरोपितों से पूछताछ करने में जुटी है। गिरफ्तार आरोपी मोहम्मद जमीन (50) और मोहम्मद अजाज (20) मूलत: अंताबाया बस्सी बारा हाल शिवदासपुरा रेलवे स्टेशन के पास शिवदासपुरा के रहने वाले है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ गत फरवरी में श्याम नगर निवासी एस.एस.मेहता ने इलाज के नाम पर एक लाख रुपए की ठगी करने का मुकदमा दर्ज कराया था। इस पर पुलिस ने एक विशेष टीम का गठन कर आरोपी की तलाश कर थी। इस दौरान पुलिस को मुखबिर से श्याम नगर इलाके में दोनों शातिरों के घूमने की सूचना मिली। इसके बाद पुलिस ने दबिश देकर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने इलाज के नाम पर लोगों से रुपए ठगने की बात कबूल की है। 
ऐसे देते है लोगों को झांसा
पुलिस ने बताया कि दोनों आरोपित सार्वजनिक स्थानों, सब्जी मण्डी, पार्क आदि जगहों पर बुजुर्ग लोगों को अपना शिकार बनाते है। खासकर जो लगड़ाकर चलते हो। उन्हे अपनी बातों में फंसाकर अपने किसी डॉक्टर से इलाज करवाने की कहकर ठीक करवाने की कहते। बातों में आने पर मिठी गोलियां दवा के रूप में देकर मोटी रकम हड़प लेते थे। यही नहीं ये बदमाश उनके दर्द वाले हिस्से से खून निकलते और उसके एक कागज पर एक-एक बूंद करने टपकाते और उसके बाद प्रति बूंद दो हजार रुपए के हिसाब से रुपए वसूलते है। इस प्रकार से आरोपियों ने कई वारदात कर कई लोगों के साथ ठगी की है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ करने में जुटी है। 

दो शातिर नकबजन गिरफ्तार, चोरी का माल बरामद 

जयपुर (कासं.)। बजाज नगर थाना पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए नकबजन गिरोह का पर्दाफाश करते हुए दो शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनके कब्जे से चोरी का कीमती सामान भी बरामद किया है। गिरफ्तार आरोपी रवि और अमरकांत मूलत: यूपी हाल सांागानेर में किराए के मकान में रहते है। डीसीपी ईस्ट कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि बजाज नगर इलाके की जय जवान कॉलोनी में अमेरिका की रहने वाली मेघन ओदवास आर्टिफिशियल ज्वैलरी का व्यवसाय करती है। इस दौरान ३ अगस्त को पीडि़ता अमेरिका गई हुई थी। पीछे से बदमाश मकान में आए और ताला तोड़कर दो गैस सिलेण्डर और आर्टिफिशियल ज्वैलरी समेत कई कीमती सामान चुरा कर ले गए। इस पर पीडि़ता की ओर से बजाज नगर थाना में मामला दर्ज कराया गया। 

पुलिस ने बताया कि आरोपियों को पकडऩे के लिए विशेष टीम का गठन किया गया। टीम को मुखबिर से सूचना मिली थी कि अमरकांत और रवि नाम के दो युवक चोरी का कीमती सामान बेचने की फिराक में हैं। इस पर पुलिस ने उन्हें दबोच लिया। पुलिस ने आरोपियों से आर्टिफिशियल ज्वैलरी समेत अन्य कीमती सामान भी बरामद कर लिया।
आधा दर्जन से अधिक नकबजनी की वारदात कबूली
पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने जवाहर सर्किल और सांगानेर इलाके में करीब आधा दर्जन नकबजनी की वारदातों को अंजाम देना कबूल किया। आरोपियों की निशानदेही से पुलिस ने ६३० ग्राम आर्टिफिशियल ज्वैलरी, सैमी प्रीशियस स्टोन, तीन मोबाइल फोन, तीन हाथ घड़ी और दो एलईडी, एक लैपटॉप समेत एक एंटिक घड़ी बरामद की। पुलिस ने बताया कि आरोपियों से और भी वारदातें खुलने की संभावनाएं हैं।

छात्रा ने लगाया फंदा

जयपुर (कासं.)। महेश नगर इलाके में स्वेज फार्म स्थित एसबी विहार कॉलोनी में एक छात्रा ने चुनी से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पुलिस पहुंची पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सुपुर्द कर दिया। मृतका शील महावर (२३) पुत्री योगेश महावर मूलत: जवाहर नगर सिविल लाइन अजमेर हाल में अपनी बड़ी बहन पायल के साथ एसबी विहार स्वेज फार्म रामनगर विस्तार में किराए से रहकर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रही थी। पुलिस ने बताया कि पायल नीरजा मोदी स्कूल में साइकोलॉजी की टीचर है। रोज की तरह वह सोमवार सुबह पायल के स्कूल जाने के बाद शील ने चुनी से पंखे पर फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। घरवालों ने दिन में शील के मोबाइल पर फोन किया तो उसने रिसीव नहीं किया। उसके बाद बड़ी बहन स्कूल से घर पहुंची तो देखा कि वह फंदे पर लटकी हुई मिली। 
इस पर उसने शोर मचाकर इसकी सूचना मकान मालिक और आसपास के लोगों को दी। मकान मालिक की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को फंदे से नीचे उतरा। पुलिस को घटनास्थल से एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उसने लिखा कि मेरे को कोई पंसद नहीं करता है। मैं कुछ कर नहीं पाई। मैं लूजर हूं इसलिए आत्महत्या कर रही हूं। आई एम सॉरी। बड़ी बहन के लिए लिखा मम्मी-पापा का ध्यान रखना। पुलिस ने मौके पर एफएसएल टीम को बुलाकर साक्ष्य जुटाए है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए एसएमएस हॉस्पिटल के मुर्दाघर में रखवाया है। मकान मालिक हरीश अग्रवाल ने पुलिस को बताया कि पायल व शील ने करीब २० दिन पहले ही रहने लगी थी। शील के पिता अजमेर में फोटो स्टूडियो चलाते है।

विश्व फार्मासिस्ट दिवस पर प्रदेश स्तरीय महा रक्तदान शिविर आयोजित

कार्यालय संवाददाता
जयपुर। राजस्थान स्टेट फार्मासिस्ट एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष सर्वेश्वर शर्मा के नेतृत्व में पूरे प्रदेश में विश्व फार्मासिस्ट दिवस बड़े हर्ष ओर उल्लास से मनाया गया।  विश्व फार्मासिस्ट दिवस पर प्रदेश के प्रत्येक जिला मुख्यालय पर रक्तदान शिविर आयोजित हुए। शिविरों में करीब 737 यूनिट रक्त एकत्र हुआ। इस दौरान प्रत्येक जिला मुख्यालय पर आम जनता के लिए फार्मासिस्ट का महत्व बताने के लिए  जागरूकता रैली निकाली गई। फार्मासिस्ट चिंतन शिविर ओर वरिष्ठ फार्मासिस्ट का सम्मान किया गया। सभी फार्मासिस्ट द्वारा अपना दवा लाइसेंस किराए पर नहीं देने की शपथ ली गई। चितौडग़ढ़ में रक्तदान शिविर ओर रोगियों को फल वितरण का शुभारंभ  प्रदेशाध्यक्ष सर्वेश्वर शर्मा ने सांवलिया चिकित्सालय से किया। इस मौके पर संगठन के चित्तौड़ जिला प्रभारी गौतम विजयवर्गीय, जिलाध्यक्ष दिनेश शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष सुरेश देव, प्रदेश कोषाध्यक्ष शिव कुमार, प्रदेश सचिव विरेंद्र सैनी मौजूद थे। इसी क्रम में राजस्थान स्टेट फार्मासिस्ट एसोसिएशन के जयपुर जिला प्रभारी ब्रजमोहन कुमावत एवं जिलाध्यक्ष अरविंद गौड़ ने एपेक्स स्वास्थ्य ब्लड बैंक में रक्तदान शिविर का आयोजन किया।

जयपुर एयरपोर्ट पर डेढ़ किलो सोना पकड़ा

जयपुर (कासं.)। राजधानी के सांगानेर एयरपोर्ट पर सोमवार को कस्टम विभाग ने कार्रवाई करते हुए दो यात्रियों से करीब डेढ़ किलो सोना बरामद किया है। जानकारी के अनुसार रविवार को एयर अरेबिया की इंटरनेशनल लाइट से दुबई से जयपुर एयरपोर्ट पर उतरे दो यात्री उतरे। शक होने पर कस्टम विभाग के अधिकारियों ने दोनों को रोकर उनकी तलाशी ली। इस दौरान उनके बैग में सोने के वायर लगे हुए मिले। सोने के वायर को निकाल कर उनका वजन करने पर वह एक किलो चार सौ ग्राम के बैठे। इस पर दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। कस्टम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि दोनों नागौर के रहने वाले है और बैग में सोने के वायर लगाकर लाए थे। बरामद सोने की कीमत करीब चालीस लाख रुपए आंकी जा रही है। 

क्रिकेट पर सट्टा लगाता दुकानदार गिरफ्तार 

जयपुर (कासं.)। विश्वकर्मा थाना पुलिस ने क्रिकेट मैच पर सट्टा लगाते एक दुकानदार को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपित के कब्जे से सट्टïा पर्ची, नकदी व मोबाइल बरामद किया है। 
पुलिस ने बताया कि रविवार रात मुखबिर से सूचना मिली कि शिव विहार कॉलोनी के पास रोड नंबर-5 पर आशीष स्टेशनर्स एण्ड कम्यूनिकेशन नाम की दुकान में भारत-आस्ट्रेलिया के बीच खेल जा रहे क्रिकेट मैच पर सट्टïा लगाया जा रहा है। सूचना पर पुलिस ने कार्रवाई कर दुकान में दबिश दी, जहां क्रिकेट मैच पर सट्टा लगाते दुकान मालिक आशीष महाजन (29) निवासी शिव विहार कॉलोनी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपित के कब्जे से सट्टïा पर्ची, 15 हजार 200 रुपए, दो मोबाइल बरामद किए है।

हुलिया बदलकर काट रहा था फरारी, ४० साल बाद चढ़ा पुलिस के हत्थे

कुराबड़ में मतदान जारी, भाजपा-कांग्रेस में सीधी टक्कर

उदयपुर (कासं.)। जिले के कुराबड़ पंचायत समिति के वार्ड 2 के उपचुनाव के लिए आज सुबह से मतदान शुरू हो गया है। वार्ड 2 से पंचायत समिति सदस्य सुनीता कंवर की दुर्घटना में मौत हो जाने के बाद पंचायत समिति सदस्य की सीट खाली हुई थी। जिसके बाद जिला निर्वाचन अधिकारी की ओर से मतदान प्रक्रिया को करवाने के निर्देश जारी हुआ था। भारतीय जनता पार्टी की तुलसा कंवर और कांग्रेस की ओर से किरण सिंह में सीधी टक्कर होने से उपचुनाव पर सभी की नजरें टिकी हुई हैं। पूरे जिले में पंचायत समिति सदस्य के एक ही जगह चुनाव होने से दोनों ही पार्टियां अपना पूरा जोर लगा रही हैं। आपको बता दें कि पूर्व पंचायत समिति सदस्य के कांग्रेस पार्टी से होने से कांग्रेस को उम्मीद है की वह फिर से यहां पर फिर अपना परचम लहराएगी। वहीं, भारतीय जनता पार्टी ने इस बार लोगों से अपील की है कि उपचुनाव में कड़ी से कड़ी जुड़ती है तो क्षेत्र का विकास होगा। अब देखना यह होगा की मतदान के बाद 25 सितंबर को होने वाली मतगणना में जीत किसकी होती है। कुराबड़ में सुबह 8:00 बजे से शुरू हुई मतदान की प्रक्रिया शाम को 5:00 बजे तक जारी रहेगी। इस उपचुनाव में 2 मतदान केंद्रों पर कुल 5,885 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। उपचुनाव के बहाने ही दोनों ही पार्टियों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है।
 

वालीबॉल पुरूष वर्ग में जयपुर पुलिस कमिश्नरेट की टीम जीती

कार्यालय संवाददाता
जयपुर। पुलिस वालीबॉल प्रतियोगिता के पहले दिन गुरूवार को बालीबॉल पुरूष वर्ग में पुलिस कमिश्नरेट जयपुर की टीम ने जयपुर रेंज टीम को सीधे सेटों में २५-१८, २५-१८ से हराया। वहीं आरएसी ने जोधपुर रेंज को २५-१०, २५-२० से और बीकानेर रेंज ने उदयपुर को २५-१८, २५-१७ से हराया। वहीं बास्केटबॉल महिला वर्ग में अजमेर रेंज ने बीकानेर रेंज को २४ पोइंट से हराया, इनका स्कोर २४-० रहा। बास्केटबॉल पुरूष वर्ग में कोटा रेंज ने उदयपुर रेंज को ८ पोइंट से हराया।  इनका स्कोर ३९-३१ रहा। आरएसी ने जयपुर रेंज को २१ पोंइट से हराया, इनका स्कोर ५४-३३ रहा। जोधपुर रेंज ने अजमेर रेंज को २० पोइंट से हराया। शुक्रवार को बास्केटबॉल पुरूष वर्ग में जयपुर कमिश्नरेट व कोटा रेंज, बीकानेर रेंज व जयपुर रेंज, अजमेर रेंज व भरतपुर रेंज, उदयपुर रेंज व जयपुर कमिश्नरेट, आरएसी व बीकानेर रेंज, जोधपुर रेंज व भरतपुर रेंज की बीच मैच होंगे। इसी प्रकार बास्केटबॉल महिला वर्ग में जयपुर कमिश्नरेट व जयपुर रेंज, बीकानेर व जयपुर रेंज, अजमेर रेंज व भरतपुर रेंज, उदयपुर रेंज व जयपुर कमिश्नरेट, आरएसी व बीकानेर रेंज, जोधपुर रेंज व भरतपुर रेंज के बीच मैच होंगे।  इसी प्रकार वालीबॉल पुरूष वर्ग में जोधपुर रेंज व कोटा रेंज, उदयपुर रेंज व अजमेर रेंज, जयपुर रेंज व भरतपुर रेंज, आरएसी व कोटा रेंज, बीकानेर रेंज व अजमेर रेंज, जयपुर कमिश्नरेट व भरतपुर रेंज के बीच मैच होंगे। वालीबॉल महिला वर्ग में जयपुर कमिश्नरेट व कोटा रेंज, जोधपुर रेंज व बीकानेर रेंज के बीच मैच होंगे।

अनियंत्रित होकर पलटी स्कूल बस, एक दर्जन बच्चे घायल

कार्यालय संवाददाता
जयपुर। राजस्थान के बारां में स्कूल की बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई, जिसमें दर्जन भर बच्चे घायल हो गए। जानकारी के मुताबिक एक निजी स्कूल की बस अचानक ही अनियंत्रित हो गई, जिसके बाद वो सड़क पर ही पलट गई। सभी घायल बच्चों को पास के ही एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, बस की रफ्तार तेज थी तभी अचनाक ही चालक का संतुलन बिगड़ गया। जिसके बाद बस अनियंत्रित होकर पलट गई। जिसमें एक दर्जन बच्चे घायल हो गए। सूचना मिलते ही स्कूल प्रशासन ने दूसरी बस का इंतजाम किया, जिससे बच्चों को पास के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। जहां बच्चों का इलाज किया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक दुर्घटना में कुछ बच्चों के हाथ और पैर में फ्रेक्चर हुआ है जबकि कुछ को मामूली चोटें आई है। सूचना मिलने के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। जिसके बाद उसने जांच शुरू कर दी है। वहीं अब तक स्कूल प्रशासन के तरफ से इस घटना पर कोई अधिकारिक बयान नहीं आया है। 

बस को ट्रेलर ने टक्कर मारी, बस में सवार 10 जायरीन घायल हो गए।

कार्यालय संवाददाता
जयपुर। जयपुर-दिल्ली नेशनल हाईवे पर आज सुबह सड़क किनारे खड़ी बस को एक ट्रेलर ने पीछे से टक्कर मार दी। हादसे में बस सवार 10 जायरीन घायल हो गए। बस में सवार जायरीन मध्यप्रदेश से अजमेर जा रहे थे। पुलिस ने घायलों को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद सभी को छुट्टी दे दी गई। जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश के रीवा से 40 जायरीन अजमेर दरगाह शरीफ जा रहे थे। जयपुर-दिल्ली नेशनल हाईवे स्थित भावरू गांव के दादोसा होटल पर इनकी बस रुकी। ये लोग चाय-पानी के लिए बस से उतर गए। बस में कम ही लोग थे। वहां से एक ट्रेलर गुजर रहा था। ट्रेलर अचानक अनियंत्रित हो गया और बस को पीछे से टक्कर मार दी जिससे बस में सवार 10 जायरीन मामूली घायल हो गए। होटल पर मौजूद लोग मदद को आए तथा पुलिस को सूचना दी। सूचना पर हाईवे पेट्रोलिंग एवं पुलिस वहां पहुंची। घायलों को हाईवे पुलिस ने सरकारी अस्पताल पहुंचाया। हादसे के बाद घटनास्थल पर बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हो गये।

...तो जयपुर में भी हो जाता रेयान स्कूल जैसा हादसा

कार्यालय संवाददाता
जयपुर। शहर के एक नामी गिरामी स्कूल में पढऩे वाली छह साल की मासूम गुरुग्राम के रेयान स्कूल जैसे हादसे की शिकार हो जाती यदि राजस्थान विश्वविद्यालय के छात्र उसे नहीं बचाते। सी स्कीम स्थित नामी गिरामी स्कूल में पढऩे वाली छह साल की बालिका को उसी के स्कूल में पढऩे वाला किशोर जमकर मारता रहा। बालिका बस में चिल्लाती रही लेकिन किसी ने उसकी मदद नहीं की। यहां तक कि बस चालक भी बस को दौड़ाता रहा। आखिर में राजस्थान यूनिवसिर्टी के पास बस से बालिका के चिल्लाने की आवाज सुनकर कुछ युवक भागे और बस को बड़ी मुश्किल से रुकवाया। यहां तक कि बस को रोकने के लिए उन्हें बस के शीशे तोडऩे पड़ गए। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार ये छात्र बस को नहीं रुकवाते तो किशोर मासूम बालिका की जान ले सकता था। डरी सहमी बालिका दो दिन से स्कूल नहीं जा रही है। खास बात यह रही है कि जब बालिका के पिता गांधीनगर थाने शिकायत करने पहुंचे तो थाना प्रभारी ने यह कह कर टरका दिया कि नाबालिग के खिलाफ मुकदमा दर्ज नहीं हो सकता। उसे थाने भी नहीं बुलाया जा सकता। आखिर में थक हार कर बालिका के पिता ने अब मामले को पुलिस कमिश्नर के सामने ले जाने का फैसला किया है। इस मामले में अभी तक जयपुर के इस नामी गिरामी इस स्कूल प्रशासन ने किशोर के खिलाफ कोई भी कार्रवाई नहीं की है। उलटा मामले को दबाने का प्रयास किया जा रहा है। बालिका के पिता को भी इस मामले को मीडिया के सामने नहीं ले जाने की सलाह दी जा रही है। बालिका के पिता का कहना था कि पुलिस किशोर को बचा रही है। किशोर प्रभावशाली परिवार से है। उनके पास भी धमकी भरे फोन आ रहे हैं। 

सूने दुकान के ताले तोड़कर हजारों का माल और नगदी चोरी

कार्यालय संवाददाता
जयपुर। जवाहर नगर थाना इलाके में शातिर नकबजनों ने एक सूनी दुकान के ताले तोड़कर उसमें से हजारों रुपए का माल और नगदी चोरी कर फरार हो गए। इस संबंध में दुकान मालिक ने थाने में चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने बताया कि पीडि़त अविनाश किलवानी सिंधी कॉलोनी का रहने वाला है तथा टेऊं  राम मार्ग पर जय शिव किराना स्टोर के नाम से दुकान चलाता है। उसने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि वह रोज की तरह रात दस बजे अपनी दुकान मंगल कर गया था। इस दौरान शातिर नकबजनों ने उसकी दुकान का रोशनदान तोड़कर दुकान में प्रवेश किया और गल्ले में रखे करीब ४० हजार रुपए और किराने का सामान चोरी कर ले गए। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने एफएसएल की टीम बुलाकर साक्ष्य जुटाए। वहीं चोरों का पता लगाने के लिए आसपास के सीसीटीवी कैमरों को खंगाला। पुलिस ने बताया कि दुकान में सीसीटीवी कैमरे नहीं होने से चोरों की पहचान नहीं हो सकी। वहीं दूसरी ओर व्यापारियों ने इलाके में बढ़ती चोरी की घटनाओं को लेकर आक्रोश व्यक्त किया। उन्होंने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए चोरी की वारदातों के लिए जिम्मेदार ठहराया।

कांग्रेस को इन दिग्गजों से उम्मीद, सत्ता में वापसी के लिए दांव पर लगी प्रतिष्ठा!

कार्यालय संवाददाता
जयपुर। राजस्थान में विधानसभा अगले साल होने वाले हैं। लेकिन सत्ता में आने के सपने संजो रही कांग्रेस को विधानसभा चुनावों से पहले ही अग्नि परीक्षा से गुजरना होगा। खास बात ये है कि इस अग्नि परीक्षा से राजस्थान कांग्रेस के चार दिग्गज नेताओं की प्रतिष्ठा भी दांव पर लगी है। ये चार दिग्गज है पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पीसीसी चीफ सचिन पायलट, पूर्व केन्द्रीय सीपी जोशी और भंवर जितेन्द्र सिंह। इन चारों नेताओं के लिए नवम्बर में होने वाले गुजरात चुनाव और प्रदेश के तीन सीटों के उपचुनाव दिशा और दशा तय करेंगे। हालांकि कांग्रेस भी मौजूदा सरकार की विफलताओं को गिना चुनावी तैयारियों में जुटी हुई है।
फाइनल से पहले सेमीफाइनल
कांग्रेस और बीजेपी के लिए दिसंबर 2018 में होने वाले विधानसभा चुनाव के फाइनल से पहले तीन सीटों पर सेमीफाइनल का सामना करना है। उपचुनाव भले ही बीजेपी के लिए चार साल का आंकलन के तौर पर लिया जा रहा हो लेकिन अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही कांग्रेस के लिए इनमें ज्यादा समस्या है। दरअसल, अजमेर और अलवर में लोकसभा और मांडलगढ़ विधानसभा का उपचुनाव होना है। उसके अलावा आगामी दिसम्बर में गुजरात विधानसभा का चुनाव है। जिसके प्रभारी पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत हैं। अगर उप चुनाव में सचिन पायलट, भंवर जितेन्द्र सिंह और सीपी जोशी चुनाव लड़ते है तो कांग्रेस को मजबूती मिलेगी और कार्यकर्ताओं में नए जोश का संचार होगा।
पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के लिए गुजरात विधानसभा चुनाव परिणाम सियासी भविष्य के लिए बेहद अहम साबित होंगे। पीएम मोदी के गृहराज्य गुजरात को जीतने के बाद यकीनन गहलोत का कद बढ़ जाएगा, लेकिन अगर गुजरात में कांग्रेस की सीटें मौजूदा विधानसभा सीटों से कम हो जाती हैं तो अशोक गहलोत के लिए बड़ा संकट सामने खड़ा हो सकता है। कहा जा रहा है कि अशोक गहलोत इन दिनों अपनी पूरी ताकत गुजरात में लगा रहे हैं। गहलोत एक बार फिर से कांग्रेस की सत्ता की कुर्सी पर वापस लाने पर जुटे हुए हैं।  
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट के लिए अजमेर लोकसभा का उपचुनाव बहुत अहम है। क्योंकि पायलट खुद यहां से सांसद रहे हैं। ऐसे में वो अजमेर से खुद लड़े या फिर किसी दूसरे को चुनाव लड़ाए दोनों ही हालात में हार-जीत के लिए जिम्मेदार सचिन पायलट ही होंगे। आपको बता दें कि 2014 के लोकसभा चुनावों में सचिन पायलट अजमेर संसदीय सीट से भाजपा के दिवंगत नेता सांवरलाल जाट से अपना चुनाव हार गए थे। सांवरलाल जाट के निधन के बाद ही इस सीट पर उपचुनाव होना है।
अलवर लोकसभा उपचुनाव भंवर जितेन्द्र सिंह के लिए परीक्षा की घड़ी होगी। यह भंवर जितेन्द्र सिंह का संसदीय क्षेत्र है। जितेन्द्र सिंह यहां से सांसद रहे और केन्द्र में मंत्री भी बने। ऐसे में हार-जीत उनका भी राजनीति भविष्य तय करेगा। भंवर जितेन्द्र सिंह उपचुनाव लड़ेंगे या नहीं इसके बाद भी उनकी प्रतिष्ठा दांव पर लगी होगी। भाजपा सांसद चांदनाथ महंत के निधन के बाद अलवर संसदीय सीट पर लोकसभा का उपचुनाव होना है। तीनों सीटों के लिए भाजपा समेत कांग्रेस ने तैयारियां में जुट गई हैं।
कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव सीपी जोशी के लिए भी मांडलगढ़ विधानसभा उपचुनाव अहम हो गया है क्योंकि वो भीलवाड़ा से सांसद रहे हैं। मांडलगढ़ भीलवाड़ा लोकसभा का हिस्सा है। वहीं, मांडलगढ़ से कांग्रेस की टिकट पर पिछला चुनाव लड़े विवेक धाकड़ को उन्होंने ही टिकट दिलाया था। इस बार भी टिकट वितरण में सीपी जोशी का काफी अहम रोल रह सकता है। कांग्रेस का एक तबका ये भी कयास लगा रहा है कि कांग्रेसियों के मनोबल को बढ़ाने के लिए कांग्रेस के दिग्गज सीपी जोशी को ही माण्डलगढ़ से टिकट दिया जाना चाहिए। सीपी जोशी इस सीट से चुनाव लड़े या फिर किसी और को उम्मीदवार बनाएं लेकिन हार-जीत का क्रेडिट सीपी जोशी के माथे ही सजेगा। भाजपा विधायक कीर्ति कुमारी के निधन के बाद इस सीट पर विधानसभा चुनाव होना है।

जिंदगी की जंग हारी, लेकिन तमरीन दो लोगों को दे गई जीवनदान 

चंडीगढ़ (एजेंसी)। १1 साल की बेटी तमरीन का ब्रेन डेड होने के बाद उसके परिजन मानवता के नाम पर एक अहम फैसला लेते हुए उसके ऑर्गन डोनेट करने का फैसला लिया। इसके बाद पीजीआई ने इस बच्ची की दोनों किडनी जरूरतमंद मरीजों को ट्रांसप्लांट कर दी। इससे यह बच्ची जाते-जाते दो लोगों को जीवन दे गई। तमरीन के पिता के मुताबिक मंगलवार की शाम पीजीआई के डॉक्टरों ने उनकी बच्ची का ब्रेन डेड होने की बात उन्हें बताई। तो उन्होंने सोचा कि उनकी बेटी के जाने के बाद उसके अंग किसी के काम आ जाएं तो बच्ची के प्रति उनकी यही सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इसके बाद उन्होंने डॉक्टरों के समक्ष अपनी इच्छा जताई। डॉक्टरों पेरेंट्स की कंसेंट के बाद तुरंत फैसला लिया। दरअसल, 17 सितंबर को तमरीन के पिता यूसुफ शाह के लिए काला दिन साबित हुआ। तमरीन यूपी के अकोला से चंडीगढ़ के लिए अपनी रिश्तेदारों के साथ खुशी-खुशी सफर कर यहां पहुंची थी। वह बस उतरी तो पीछे से आ रही मिनी बस ने उसे हिट कर दिया। उसे गंभीर अवस्था में पीजीआई लाया गया। यहां उसे लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया। उपचार के दौरान गत मंगलवार को उसका ब्रेन डेड हो गया। इस पर डाक्टरों ने तमरीन के पेरेंट्स के उसके ऑर्गन डोनेट का प्रस्ताव रखा। जिस पर उन्होंने विचार के बाद अपने दिल के टुकड़े के ऑर्गन डोनेट करने की हामी भर दी।
तमरीन के पिता ने कहा, यह सबसे कठिन निर्णय था, लेकिन मुझे लगा जैसे हमें कुछ करना चाहिए और मैं वास्तव में ऐसा महसूस कर रहा था कि यह तमरीन कह रही थी कि पापा ऐसा ही करो।

आमेर जलेब चौक में 30 सितम्बर तक बंद रहेगी हाथी सवारी

कार्यालय संवाददाता
जयपुर। शारदीय नवरात्रा मेले की व्यवस्थाओं, दर्शनार्थियों की भीड़ एवं पर्यटकों की सुरक्षा व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए शिला माता मंदिर, जलेब चौक, आमेर में 30 सितम्बर तक पर्यटकों के लिए हाथी सवारी पूर्णतया बंद रहेगी। अधीक्षक राजकीय संग्रहालय व महल आमेर से प्राप्त जानकारी के अनुसार एक अक्टूबर, 2017 से 31 मार्च, 2018 तक प्रति हथिनी पांच-पांच राउण्ड तथा इनका समय प्रात: 7.30 बजे से 11.30 बजे तक एवं सायं 3.30 बजे से सायं 5 बजे तक रहेगा। विश्व पर्यटन दिवस के उपलक्ष्य में 27 सितम्बर को पर्यटकों का आमेर महल मेंं प्रवेश नि:शुल्क रहेगा। शारदीय नवरात्रा 21 से 29 सितम्बर तक पर्यटकों की सुविधा के लिए दो स्थानों पर महल प्रवेश के लिए बुकिंग व्यवस्था की गई है। सिंह पोल तथा त्रिपोलिया गेट से पर्यटकों की निकासी की व्यवस्था रहेगी। शारदीय नवरात्रा के दौरान दर्शनार्थियों को मंदिर दर्शन के पश्चात रात्रि 8.30 बजे एक शो अंग्रेजी में लाईट एण्ड साउण्ड शो का आयोजन होगा।

भगवान के दर्शन कराने का झांसा देकर महिला के जेवरात उतरवाए

जयपुर (कासं.)। जवाहर सर्किल थाना इलाके में दो शातिर बदमाश एक महिला को भगवान के दर्शन कराने का झांसा देकर उसके दो सोने के कंगन और चेन उतरवाकर फरार हो गए। इस संबंध में पीडि़ता ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। 
जांच अधिकारी दिनेश ने बताया कि पीडि़ता मालवीय नगर सेक्टर-४ की रहने वाली है। उसने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि वह किसी काम से बाजार जा रही थी। वह सेक्टर-१० के पास पहुंची, तभी उसे दो युवक मिले और उससे बातें करने लगे। इस दौरान एक युवक ने उससे कहा कि उसके ऊपर भगवान की विशेष कृपा है। वह उसे यहीं भी भगवान के दर्शन करा सकता है, लेकिन इससे पहले उसे अपने सोने के कंगन और चेन को उतरकर अपने पर्स में रखना होगा। झांसे में आई महिला ने सोने के आभूषणों उनके कहे अनुसार उतार कर पर्स में रख लिया। इसके बाद युवकों ने उसे भगवान का नाम जप करते हुए २१ कदम आगे जाने के लिए कहा। इस दौरान उन्होंने महिला को हिदायत भी दी, उसे २१ कदमों से पहले पीछे मुड़कर नहीं देखना है और उसके आभूषणों से भरा पर्स अपने हाथ में पकड़ लिया। कहा जब आपको भगवान के दर्शन हो जाएंगे तो वह उसे लौटा देगें। महिला २१ कदम आगे गई और जब उसने पीछे मुड़कर देखा तो दोनों युवक उसे नहीं मिले। इसके बाद उसे अपने साथ हुई ठगी का अहसास हुआ और उसने अपने परिजनों के साथ थाने में पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई। 

कलेक्टर से लेनी होगी स्वास्थ्य कर्मियों को छुट्टी, अवकाश पर लगाया प्रतिबंध

धौलपुर (कासं.)। मौसमी बीमारियों से बढ़ती मरीजों की संख्या को देखते हुए जिले के स्वास्थ्य कर्मियों के अवकाश पर रोक लगा दी गई है। अगर किसी को अति आवश्यक कार्य से छुट्टी जाना पड़ जाए तो उसे कलेक्टर से इजाजत लेकर जाना होगा। बता दें कि जिले में स्वाइन फ्लू, डेंगू व मलेरिया ने लोगों को अपनी चपेट में ले रखा है। अतिरिक्त जिला कलेक्टर हरफूल सिंह यादव ने बताया कि जो काार्मिक पहले से अवकाश पर हैं, उनके अवकाश निरस्त कर काम पर लौटने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। मौसमी बीमारियों से निपटने की रणनीति बनाने के लिए अतिरिक्त जिला कलेक्टर ने जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक बुलाई। अतिरिक्त जिला कलेक्टर ने निर्देश दिए कि चिकित्सा विभाग के अधिकारी उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार और विकाय अधिकारी के साथ क्षेत्र का दौरा करें। आमजन को मौसमी बीमारियों से बचाव की जानकारी दें। इसके लिए व्यापक प्रचार-प्रसार अभियान चलाएं। सरकारी और निजी भवनों में जाकर पानी के ठहराव, गंदगी के सम्बन्ध में लोगों को जागरूक करें।

दो युवकों की गला रेत कर हत्या, मृतकों की शिनाख्त नहीं, हत्यारे फरार

धौलपुर (कासं.)। जिले के सरमथुरा थाना इलाके में आने वाले गांव गौलारी में बीती रात दो युवकों की गला रेतकर हत्या कर दी गई। वारदात के बाद इलाके में सनसनी फैल हुई हैं। दोनों युवकों की हत्या उस समय की गई जब वह गहरी नींद में थे। दोनों युवकों के शव एक ही चारपाई पर मिले हैं। दोनों युवकों की उम्र 32 से 35 वर्ष के करीब बताई जा रही है। पुलिस के मुताबिक जिस घर से शव बरामद हुए हैं, वह विजेंद्र पुत्र छोटे प्रजापति का हैं और परिवार वारदात के बाद पलायन कर गया है। जिसके कारण अभी यह पता नहीं चल सका है कि युवक कौन हैं और कहां के रहने वाले हैं। घटना स्थल पर पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह सहित पुलिस के आला अधिकारी पहुंच गए हैं। हत्या के कारणों का खुलासा करने के लिए भरतपुर से एफएसएल की टीम भी रवाना हो गई है। घटना को लेकर गांव में सनसनी फैल गई है और बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर जमा हो गए हैं। पुलिस की कई टीमें आरोपी परिवार की तलाश में जुट गई हैं। पुलिस ने मौके से दो बाइक और एक मोबाइल बरामद किया है। फिलहाल पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए सरमथुरा अस्पताल में पहुंचा दिया है।

चुनावी रंजिश को लेकर गोलियां चली

मेरठ (एजेंसी)। 
चुनावी रंजिश को लेकर फलावदा के सनौता गांव में दो पक्षों में जमकर लाठी डंडे और पथराव के साथ गोलियां चली, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई, मरने वाले दोनों ही लोग सगे भाई है, क्षेत्र में हुए दो मर्डर से क्षेत्र में सनसनी फैल गई, और एसएसपी भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गई और स्थिति को काबू में किया। 
एसएसपी की मानें तो फलावदा के सनौता गांव में कुरैशी बिरादरी की संख्या ज्यादा है, जिसके चले परधानी के चुनाव को लेकर दो पक्ष बने हुए है और दोनों पक्षों में चुनावी रंजिश हो गई थी, तब से दोनों पक्षों में वर्चस्व की लड़ाई चल रही थी, लेकिन आज गांव में कार की पार्किंग को लेकर दोनों पक्षों में झगड़ा हो गया और परिवारों के बीच हुए मामूली विवाद के बाद दोनों पक्षों की ओर से ताबड़तोड़ फायरिंग हुई, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई। इसी बीच कई लोगों घायल हो गए, कई घरों पर हमला बोलकर तोडफ़ोड़ भी कर दी। देर रात तक एसएसपी मंजिल सैनी दहल तमाम थानों की फोर्स के साथ मौके पर मोर्चा संभाले रही, एसएसपी की मानें तो गोलीबारी में दिलशाद और उसके भाई मनसाद ने आरोपी पक्ष के घर के सामने मारूती कार खड़ी कर दी थी। जिसके बाद दोनों पक्षों के बीच विवाद हो गया और दोनों ही पक्षों के लोग आमने-सामने आ गए। दोनों ओर से हुई ताबड़तोड़ फायरिंग में दिलशाद और मनसाद की मौत हो गई और पथराव में कई लोगों के घायल हो गए, फिलहाल इस मामले में 7 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है जबकि एक युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है, लेकिन क्षेत्र में हुए डबल मर्डर से लोग सकते में आए गए है।
इलाके में दहशत का भी माहौल है, फिलहाल पुलिस आरोपियों के घरों में सर्च अभियान चला रही है और आरोपियों की धरपकड़ के लिए कई टीमें बनाकर दबिश भी दी जा रही है। सबसे हैरत की बात ये है कि घटना को सम्प्रादायिक बनाकर तूल देने की कोशिश की गई, और इस सूचना मेरठ में हड़कंप मच गया, सूचना आग की तरह फैल गई और हर को फलावदा के हाल जानने की कोशिश में लग गया, लेकिन पुलिस अधिकारियों ने समय से मौके पर पहुंचकर मामले को अपने कंट्रोल में किया और तीन गैर मुस्लिमों के साथ 4 मुस्लिमों के नाम अपनी एफआईआर में दर्ज किए, जिससे साबित हो गया गया कि साम्प्रदायिक जैसी कोई घटना नहीं है, घटना चुनावी रंजिश से जुड़ी है, चुनाव में नॉर्मली दलित परिवार एक प्रत्याशी के साथ रहते है, जिससे दलितों और दूसरे लोगों में मनमुटाव बन जाता है, लेकिन मुस्लिमों का एक पक्ष पूरी तरह से दलितों के फेवर में होता है, जिससे इस तरह की घटना केवल दो पक्षीय होती है न कि साम्प्रदायिक। ऐसे में देखना होगा कि इस तरह की अफवाह फैलाने वालों पर भी कोई कार्रवाई होगी या नहीं।

रोजगार के लिए हरियाणा गए थे चाचा-भतीजे, लौटे दोनों के शव

करौली (कासं.)। 
जिला मुख्यालय की कृष्णा कॉलोनी के एक परिवार के दो चिराग बुझ गए। नितिन व संतोष के शव हरियाणा की नहर में मिले। जिनके शव का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया।  नितिन व संतोष जाति प्रजापत रोजगार के लिए हरियाणा के जिंद जिला के गांव सांवरा गये थे। जिनसे परिजनों ने मंगलवार शाम बात की। उसके बाद बात नहीं हुई। दोनों के गुम होने की सूचना परिजनों को मकान मालिक द्वारा दी गई जिस पर नितिन के पिता रमेश प्रजापत हरियाणा पहुंचे, जहां पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करा दोनों युवकों की खोजबीन चालू कर दी। जिस पर शुक्रवार शाम दोनों के शव हरियाणा की नहर में तैरते मिले। दोनों शवों को नहर में से निकाल पोस्टमार्टम कर परिजनों के सुपुर्द कर दिया। शव जैसे ही घर पर आया तो परिजन फफक पड़े। मृतक रिश्ते में चाचा भतीजे थे।  मृतकों के शवों का आज सुबह गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया एक साथ दो दो अर्थियों को जाते देखकर क्षेत्र के लोगों में भी चर्चा का विषय बना हुआ है, वही परिजनों ने सरकार से आर्थिक सहायता देने की मांग रखी है। शव जैसे ही घर पर आया तो परिजन फफक पड़े। मृतक रिश्ते में चाचा भतीजे थे। मृतकों के शवों का आज सुबह गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया एक साथ दो दो अर्थियों को जाते देखकर क्षेत्र के लोगों में भी चर्चा का विषय बना हुआ है।
वहीं परिजनों ने सरकार से आर्थिक सहायता देने की मांग रखी है।

शरीर के अंदर छिपा रखा था 1.79 करोड का सोना, ऐसे पकड़ा पुलिस ने

इम्फाल (एजेंसी)। सीमा शुल्क विभाग और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल की संयुक्त टीम ने मणिपुर के इम्फाल अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे से छह लोगों को गिरफ्तार किया है। इन लोगों ने अपने मलाशय में 6.97 किलोग्राम के सोने के बिस्किट छिपा रखे थे। इन 35 सोने के बिस्किटों का मूल्य 1.79 करोड़ रुपये है। इन्हें इम्फाल-कोलकाता-दिल्ली इंडिगो फ्लाइट से म्यांमार से कोलकाता लाया जा रहा था। हवआईअड्डे गेखालुंग पनमई के सीमाशुल्क विभाग के उपायुक्त ने कहा, हमें सोने की संभावित तस्करी की जानकारी मिली थी। हमने छह लोगों की तलाशी ली लेकिन मेटल डिटेक्टर ने बीप करना शुरू कर दिया जबकि उनकी जेबों में कुछ नहीं था। पूछताछ के दौरान उन्होंने अपने मलाशय में सोने के बिस्किट रखे होने की बात स्वीकार की। इन सभी को औपचारिक रूप से गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने आगे बताया कि गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान पश्चिम बंगाल के रिंट हाइडर और मिंट पाल, जम्मू एवं कश्मीर के खोल सिंह और दलहर सिंह और पंजाब के नीरज और दिल्ली के रोहित बेगा के रूप में की गई है। शुरुआती पूछताछ से पता चला कि ये सिर्फ सोने की तस्करी का काम करते थे। पुलिस का कहना है कि आजकल म्यांमार से सोने की तस्करी का कारोबार चरम पर है। ये सोने के बिस्किट पुलिस को सौंप दिए गए हैं।

हनीप्रीत को लेकर बिहार में अलर्ट, नेपाल बॉर्डर के पास छापेमारी, पोस्टर चिपकाए

बिहार (एजेंसी)। 
डेरा चीफ राम रहीम की सबसे करीबी राजदार और कथित मुंहबोली बेटी हनीप्रीत हरियाणा पुलिस के लिए सिरदर्द बनी हुई है। ज्ञातव्य है कि हरियाणा पुलिस पिछले कई दिनों से हनीप्रीत की तलाश कर रही है लेकिन हनीप्रीत का कोई सुराग नहीं मिल पाया। इस बीच खबरें आई थी हनीप्रीत नेपाल भागने की फिराक में है। आज सुबह से हरियाणा पुलिस की टीम ने बिहार पुलिस के साथ मिलकर नेपाल सीमा से लगे इलाकों छापेमारी की। साथ ही बिहार में अलर्ट जारी किया गया है। 
हनीप्रीत की तलाश में नेपाल बॉर्डर के पास के इलाकों में उसके पोस्टर भी चिपकाए गए हैं। नेपाल से लगे बिहार के सात जिलों में पुलिस ने हनीप्रीत को लेकर अलर्ट भी जारी किया है। इस बीच हरियाणा पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली। 
हरियाणा पुलिस ने राजस्थान से हनीप्रीत के विश्वास पात्र ड्राइवर प्रदीप को गिरफ्तार किया। प्रदीप पिछले कई दिनों से सालासार में छिपा हुआ था। ज्ञातव्य है कि हरियाणा पुलिस कई प्रदेशों में हनीप्रीत की तलाश कर रही है। हनीप्रीत पर राम रहीम को भगाने की साजिश रचने का भी आरोप है। इस मामले में एक आरोपी दिलावर इंसा को भी पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। ज्ञातव्य है कि हनीप्रीत के खिलाफ लुक आउट नोटिस भी जारी है लेकिन अभी तक पुलिस हनीप्रीत का कोई सुराग नहीं लगा पाई है। हनीप्रीत 25 अगस्त से गायब है। 25 अगस्त की रात को विपासना के फोन पर हनीप्रीत का कॉल आया था। तब उसकी लोकेशन राजस्थान के बाडमेर में थी।क्व 

विश्वकर्मा ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के चुनाव कल

कार्यालय संवाददाता
जयपुर। विश्वकर्मा ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के 17 सितम्बर  को रोड नंबर एक स्थित विश्वकर्मा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन भवन में सुबह दस से शाम चार बजे तक होंगे। इसमें तीन गु्रप चुनावी मैदान में है। बालाजी गु्रप के अलावा प्रगति गु्रप और श्री श्याम गु्रप ने प्रचार के आज आखिरी दिन शनिवार को अपनी पूरी ताकत झोंक दी। 
श्री बालाजी गु्रप ने वीकेआई और अजमेर रोड के ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों से संपर्क किया। बालाजी गु्रप को लगातार एसोसिएशन के पूर्व पदाधिकारियों का समर्थन मिल रहा है। विश्वकर्मा ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष ओम प्रकाश शाह और महेन्द्र सिंह जादौन के बाद पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्रवण कुमार गुप्ता, पूर्व महासचिव आर बी सिंह, ट्रांसपोर्टर सुमेर सिंह तारपुरा, दिनेश कुमार खटोड़, हनुमान विश्नोई, रामनिवास डेला, मोहन सिंह चौधरी सहित अनेक ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों ने समर्थन पत्र दिया है। शनिवार को गु्रप के सदस्यों ने झोटवाड़ा, चौमूं, चैनपुरा सहित विभिन्न क्षेत्रों में ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों से संपर्क किया। बालाजी गु्रप से महासचिव पद के लिए चुनाव लड़ रहे जगदीश यादव निवर्तमान महासचिव है। 
इन्होंने अपने कार्यकाल में संगठन का विस्तार किया है। अब यह ग्रुप ट्रांसपोर्टनगर योजना का लाभ सभी पात्र ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों को दिलाने के मुद्दे पर चुनावी मैदान में है। गु्रप ने 128 गाडिय़ों के साथ निकाली वाहन रैली के बाद चुनावी माहौल गरमा गया है। 
रैली रोड नंबर 12 से रोड नंबर 14 होते हुए पांच नंबर, दादी का फाटक से होते हुए हर्ष होटल से होते हुए 14 नंबर, जोड़ला पॉवर हाउस, हरमाड़ा , बड़ पीपली, राजावास होते हुए बढ़ारना, सब्जी मंडी, दिल्ली रोड से होते हुए रोड बारह पांच स्थित प्रधान कार्यालय पर संपन्न हुई। रैली में कार्यकर्ताओं में भारी जोश देखा गया। बालाजी ग्रुप इस रैली को अपनी जीत मान रहा है। 400 कार्यकर्ताओं की रैली ने पूरा माहौल ही बदल दिया।
यह है चुनावी मैदान में
श्री बालाजी गु्रप से अनिल सोनी अध्यक्ष तथा जगदीश यादव महासचिव पद के लिए चुनाव लड़ रहे हैं। गु्रप का चुनाव चिन्ह न्याय की देवी है। कोषाध्यक्ष पद के लिए गणपत चौधरी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष पद के लिए प्रकाश शर्मा, उपाध्यक्ष पद के लिए माल सिंह खंगारोत, संयुक्त सचिव पद के लिए महेश चंद वैष्णव, प्रचार मंत्री के लिए 
विजय कुमार शर्मा, संगठन मंत्री के लिए भंवर सिंह शेखावत चुनावी मैदान में दमखम ठोके हुए हैं। कार्यकारिणी सदस्य के लिए इस गु्रप से भागीरथ चौधरी, सत्यनारायण शर्मा, सुरेन्द्र सिंह नरुका, रामस्वरूप पिलानिया, बजरंग सिंह नाथावत, राजेश कुमार गुप्ता, लालाराम मीणा, किशन सिंह हरिराम विश्नोई, बाबूलाल यादव, बिजेन्द्र सिंह शेखावत, महेश खंडेलवाल, प्रदीप सिंह राठौड़ किस्मत आजमा रहे हैं।

कुएं के पानी को लेकर खूनी संघर्ष, एक की मौत, पांच घायल

भीलवाड़ा (कासं.)। जिले के रायला ईरांस पंचायत के खारड़ी गांव में कुएं के पानी को लेकर दो परिवारों के बीच खूनी संघर्ष हो गया। इसमें एक वृद्ध की मौत हो गई। वहीं पांच अन्य घायल हो गए। उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वहीं संघर्ष के बाद खारड़ी गांव में दहशत का माहौल है। रायला थाना प्रभारी पूरणमल मीणा ने बताया कि ईरांस पंचायत के खारड़ी गांव के दो गुर्जर परिवारों के बीच शामलाती कुआं है। इस कुएं से फसल की सिंचाई को लेकर दोनों परिवारों में गुरुवार को कहासुनी हो गई। इसके बाद इन परिवारों में हुए लाठी-भाटा संघर्ष में एक परिवार के पांच, जबकि दूसरे परिवार का एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया। इनमें मांगीलाल (75) पुत्र बख्तावर गुर्जर, इसकी पत्नी अनोप (75), इनका बेटा देवीलाल, मांगीलाल के दो भाई नानू (70) व रघुनाथ गुर्जर (65), जबकि दूसरे परिवार का हीरालाल पुत्र घीसा गुर्जर घायल हो गया। सभी को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां उपचार के दौरान नानू (70) ने दम तोड़ दिया। उधर, इस घटना को लेकर गांव में दहशत है। थाना प्रभारी मीणा ने बताया कि हमला हीरा पुत्र घीसा गुर्जर सहित दस लोगों ने किया गया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। थाना प्रभारी ने यह भी बताया कि पांच-छह महीने पहले भी इसी कुएं को लेकर इन परिवारों के बीच झगड़ा हुआ था, तब मुकदमेबाजी भी हुई थी। इस दौरान ग्राम के चारभुजा मंदिर के पुजारी रामचंद्र दास भी घायल हो गए। वे चारभुजा मंदिर में आरती करने जा रहे थे तो झगड़ रहे दोनों परिवारों में बीच-बचाव का प्रयास किया। इस दौरान उन्हें भी लाठी से चोट लग गई। शाहपुरा एडिशनल एसपी नरेश चीता तथा गुलाबपुरा डिप्टी अमृतलाल जीनगर घटनास्थल पर पहुंचे और खारड़ी का मौका मुआयना किया।

माचिस की तीली से बाइक व कार में लगी आग

उदयपुर (कासं.)। जिले के शास्त्री सर्कल चौराहे पर आज एक शराबी के करतूत के कारण बड़ा हादसा होते-होते बच गया। दरअसल, चौराहे पर खड़ी एक बाइक के ऊपर एक शराबी व्यक्ति द्वारा माचिस की जलती तीली फेंक दी गई। जिससे देखते-ही-देखते मोटरसाइकिल ने भयानक आग पकड़ ली। जानकारी के मुताबिक शराबी ने जब माचिस की जलती तीली बाइक पर फेंकी तो भयंकर आग लग गई। सात ही वहां बाइक के बगल में खड़ी कार में भी आग लग गई। आगजनी की घटना के बाद चौराहे पर हड़कंप का माहौल हो गया। स्थानीय लोगों की सूचना पर मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ी ने आग पर काबू पाया। जब तक दमकल की गाड़ी मौके पर पहुंचती तब तक आग से कार और मोटरसाइकिल आधा-आधा जल चुके थे। हालांकि इस पूरे घटना क्रम में गनीमत यह रही की कार में कोई भी व्यक्ति सवार नहीं था जिससे बड़ा हादसा होते-होते बचा। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बाड़मेर केंद्रीय विद्यालय में मासूम के साथ यौन उत्पीडऩ

कार्यालय संवाददाता
जयपुर/बाड़मेर। एक तरफ गुरुग्राम के रेयान स्कूल का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ है कि दूसरी तरफ राजस्थान के बाड़मेर में मासूम के साथ हुए यौन उत्पीडऩ ने हड़कंप मचा दिया है। दरअसल, बाड़मेर के जालीपा केंद्रीय विद्यालय में पढऩे वाली एक मासूम के यौन उत्पीडऩ का मामला सामने आया हैं। जिसके बाद प्रशासन के होश उड़ गए हैं। प्रशासन ने पूरी रात स्कूल में अधिकारियों से पूछताछ की। जानकारी के मुताबिक जलीपा केंद्रीय विद्यालय में 6 साल की मासूम के साथ यौन उत्पीडऩ का सनसनीखेज मामला सामने आया है। इस हादसे ने लोगों के रोंगटे खड़े कर दिए है। शिक्षा के मंदिर में हुई इस घटना पर पुलिस और स्थानीय प्रशासन भी तुरंत हरकत में आ गई है। जिसके बाद पुलिस ने बच्ची को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया है और अस्पताल के बाहर सुरक्षा कड़े कर दिए हैं।
बच्ची को पेट दर्द की हुई थी शिकायत
एसपी बाड़मेर गगनदीप सिंगला ने बताया कि केंद्रीय विद्यालय जालीपा कैंट में दूसरी कक्षा में पढऩे वाली एक मासूम को गुरुवार शाम पेट दर्द की शिकायत हुई। जिसके बाद उसे एक निजी अस्पताल लाया गया। जहां बच्ची के निजी अंगों में दर्द होने पर डॉक्टर ने मामले को संदिग्ध मानते हुए परिजन को बच्ची के साथ गलत होने का अंदेशा जताया, जिसके बाद पुलिस को मामले की जानकारी दी गई।