Updated -

​वोडाफोन धमाका: अनलिमिटेड कॉलिंग और 70 जीबी डाटा मात्र......


मुंबई।

जब से अंबानी की रिलायंस जियो ने अपना साल भर के लिए सब कुछ फ्री वाला बेहतरीन प्लान पेश किया है तभी से बाकि कंपनियों के मानों बुरे दिन शुरु हो गए हो। अब वोडाफोन ने जियो से मु्काबला करने ​के लिए नया प्लान पेश किया है। जिसके तहत वोडाफोन यूजर्स को अनलिमिटेड कॉलिंग व 70 जीबी इंटरनेट दिया जाएगा। इस प्लान को एकटिवेट कराने के लिए यूजर्स को मात्र 244 रुपये देने होंगे।

इसके साथ ही आपकों बता दें कि इस आॅफर के अंतर्गत यूजर्स को 70 दिन तक रोज 1 जीबी डेटा दिया जाएगा। इसके अलावा आपकों बता दें कि यह आॅफर यूजर्स को केवल पहले और दूसरे रिचार्ज पर ही दिया जाएगा यानि वोडाफोन ने यह प्लान केवल नए यूजर्स के लिए ही पेश किया है।

एप लॉच: अब नहीं आधार को साथ रखने की आवश्यकता, यहां से करें डाएनलोड़

बेंगलुरु।

भारतीय सरकार के द्वारा देश के हर नागरिक के लिए आधार को आवश्यक कर दिया है। सरकार ने आधार को आवश्यक करने साथ ही इस साथ रखने की जरुरत भी खत्म कर दी है। बता दें कि अब आधार के लिए भी एप जारी कर दिया गया है। 

इसके साथ ही आपकों बता दें कि आधार एप यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी आॅफ इंडिया के द्वारा विकसित और लॉच किया गया है। इस एप की मदद से आप अपनी व्यक्तिगत जाानकारी जैसे फोटो, जन्मतिथि आदि सुरक्षित रख सकते है। इसके अलावा यह एप अभी केवल एंड्रायॅड मोबाइल के लिए ही बनाया गया है। यह आधार एप का बीटा वर्जन है। इस एप्लीकेशन में सिक्योरिटी लॉक भी दिया गया है जिससे की आप अपनी जानकारी को अधिक सुरक्षित रख सके हालांकि बिना लॉक के भी वह सुरक्षित होगी।

उल्लेखानीय है कि इस एप मे और भी ​फीचर्स होने चाहिए और उनके लिए आपको एप अपडेट हाने तक का इंतजार करना होगा।

अब व्हाट्सएप से भी किया जा सकता डिजि​टल पेमेंट......


मुंबई।

सोशल मीडिया में शुमार मैसेजिंग ऐप Whatsapp को अब इंडिया में भी आॅनलाइन पेमेंट सर्विस चालू करने की परमिशन प्राप्त हो गई है। जानकारी के अनुसार NPCI ने Whatsapp को आॅनलाइन पेमेंट की सर्विस के लिए भारतीय बैंकों से पार्टनर्शिप करने के लिए मंजूरी दे दी है। इसके साथ ही आपकों बता दें कि कंपनी पिछले कुछ समय से डिजिटल पेमेंट सर्विस चालू करने के लिए अधिकारियों से भी विचार—विर्मश कर रही थी।

बता दें कि मैसेजिंग एप Whatsapp अब अन्य कई बैंकों से पार्टनर्शिप करने की फिराक में है। ऐसा करने के बाद से Whatsapp यूजर्स को आॅनलाइन पेमेंट करने का भी विकल्प दिया जा सकता है। यह करने के लिए यूपीआई का इस्तेमाल किया जाएगा।


जानकारी के अनुसार फेसबुक और Whatsapp दोनों NPCI से विचार—विमर्श कर रही हैं जिससे की इंडिया में यूपीआई डिजिटल पेमेंट करने की सर्विस शुरु की जा सके। 

बूस्‍टरजेट के सहारे मारूति सुजुकी का नया दांव

नई दिल्ली. देश की सबसे बड़ी ऑटोमोबाइल निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी अपने एक नए इंजन को भारतीय बाजार में उतार रही है। यह इंजन अपनी पारी की शुरुआत कंपनी के हॉट हैचबैक बलेनो आरएस से कर रहा है। मारूति सुजुकी ने आधिकारिक रूप से इस इंजन को टीज किया। यह 1 लीटर वाला तीन सिलेंडर बूस्टरजेट टर्बो पेट्रोल इंजिन है। यह 102 एचपी की शक्ति व 150 एनएम का टॉर्क पैदा करता है। अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में बिकने वाली बलेनो में यही इंजन लगा हुआ है जो कि 111 एचपी की शक्ति देता है। इस कार को पांच स्पीड मैनुअल गियर बॉक्स के साथ पेश किया जाएगा तथा इसमें कोई भी ऑटोमेटिक विकल्प मारूति नहीं देने जा रही है। अपने अन्य पेट्रोल कारों की तुलना में यह 15 किलोग्राम अधिक वजनी हो गई है इसका वजन 950 किलोग्राम है। बूस्टरजेट का डायरेक्ट इंजेक्‍शन न के बराबर सीओ2 बाहर उत्सर्जित करता है। इसका टर्बोचार्जर एग्जॉस्ट गेज के हर ऊर्जा का संचयन करके इसके टर्बाइन को ड्राइव करते हुए सिलेंडर में हवा के दबाव को और तेजी के साथ इंजेक्ट करने में मदद करता है जिसके बदौलत इससे उतना ही आऊटपुट निकलता है जितना बड़ी क्षमता वाले इंजन देते हैं कम रेव पर बेहतरीन टॉर्क भी पैदा होता है। कुल मिलाकर कम ईंधन में यह इंजन बिना कोई समझौता करते हुए अच्छा प्रदर्शन करता है।

एचटीसी ने पेश किए दो नए स्मार्टफोन

नई दिल्ली : ताइवान की प्रमुख प्रौद्योगिकी कंपनी एचटीसी ने अपने दो नए स्मार्टफोन एटीसी यू अल्ट्रा व एचटीसी यू प्ले को मंगलवार को भारतीय बाजार में पेश करने की घोषणा की जो कि मार्च के पहले हफ्ते से उपलब्ध होंगे। इसके साथ ही कंपनी ने कहा है कि वह 10000 से लेकर 25000 रुपये की कीमत वाले खंड पर ध्यान देगी और 10000 रुपये से कम कीमत वाले खंड से बाहर निकलेगी जहां ‘बहुत ही ज्यादा प्रतिस्पर्धा’ है। एचटीसी के अध्यक्ष (दक्षिण एशिया) फैजल सिद्दिकी का मानना है कि कंपनी के इस कदम से उसके भारतीय परिचालन पर कोई असर नहीं पड़ेगा। कंपनी ने हाल ही में कहा था कि वह शुरुआती स्तर के स्मार्टफोन बाजार से हटेगी। उन्होंने कहा कि हमारे पास अब 10,000 रुपये से कम कीमत वाला कोई स्मार्टफोन नहीं है। हमारे पास 10,000-25000 रुपये की कीमत वाले फोन का मजबूत पोर्टफोलियो है और हम उसे बढाएंगे। उन्होंने कहा कि 10000 रुपये से कम कीमत वाला स्मार्टफोन खंड में बहुत अधिक प्रतिस्पर्धा हो गई है। कंपनी के नये एचटीसी यू अल्ट्रा में 4जीबी रैम, 64जीबी मैमोरी, 3000 एमएएच की बैटरी, 16एमपी का कैमरा, डुअल डिस्प्ले, यूसोनिक व बूमसाउंड जैसे फीचर हैं। इसकी कीमत लगभग 59,990 रुपये है। यह फोन छह मार्च से बाजार में आएगा। वहीं एचटीसी यू प्ले में 16एमपी कैमरा, 4जीबी रैम, 64 जीबी व 2500 एमएएच की बैटरी है। 5.2 ईंच का डिस्प्ले का यह फोन मध्य मार्च से बाजार में उपलब्ध होगा। सिद्दीकी ने कहा कि यह इस साल की शुरुआत है। आगे हम और भी आकर्षक उत्पाद पेश करेंगे। हमारी प्राथमिकमता डिजाइन और गुणवत्त्ता है। कंपनी ने स्टेंडर्ड चार्टर्ड डेबिड व क्रेडिट कार्डधारकों के लिए सीमित अवधि की कैशबैक योजना की घोषणा भी की है।

भारत में डाउनलोड के लिए उपलब्ध यूट्यूब गो ऐप

अगर आप ऐसी जगह पर हैं जहां इंटरनेट नहीं है और उसके बावजूद यूट्यूब पर वीडियो देखना चाहते हैं तो यूट्यूब गो एप आपके लिए मददगार साबित हो सकता है। यूट्यूब ने अपना यूट्यूब गो एप गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध करा दिया है।

यह एप ऑफलाइन केंद्रित है और उन जगहों में बेहद ही कारगर साबित होगा जहां कनेक्टिविटी की समस्या है। यूजर इस एप में किसी भी वीडियो को ऑफलाइन मोड में प्रिव्यू कर पाएंगे और इंटरनेट डाटा नहीं रहने की स्थिति में भी वे अपने करीबी दोस्तों से वीडियो को साझा कर सकेंगे। बताते चलें कि बीते साल सितंबर में यूट्यूब गो एप की पहली झलक पेश की गई थी। कंपनी ने चेतावनी भी दी है कि इस एप के इस्तेमाल के दौरान कुछ परेशानियां आ सकती हैं। यह एप एंड्रॉयड 4.2 जेलीबीन ओएस से ऊपर चलने वाले फोन को सपोर्ट करता है।

मेमोरी कार्ड से फोटोज हो गई हैं डिलीट, ऐसे करें रिकवर

आपके स्मार्टफोन की गैलरी आपकी यादों की तरह होती है। इसमें न जाने आपने कितनी पलों को सहेज कर रखा होता है। एहतियात के लिए आप इन सभी फोटोज को अपने मेमोरी कार्ड में सेव भी करते होंगे, पर तब क्या हो जब ये फोटोज आपसे गलती से डिलीट हो जाएं, तब अफसोस करने के अलावा दूसरा कोई विकल्प ही नहीं बचाता है। आप समझते हैं कि आपने इन फोटोज को हमेशा के लिए खो दिया, पर क्या आप जानते हैं कि चंद स्टेप्स के जरिए आप इन फोटोज को दोबारा अपने मेमोरी कार्ड में वापस ला सकते हैं। तो चलिए आपको बताते हैं ऐसे ही चंद स्टेप्स के बारे में।

1- सबसे पहले आप अपने मेमोरी कार्ड को कंप्यूटर से कनेक्ट कर उसका पूरा बैकअप लें। रिकवरी के दौरान अगर आपकी बाकि बची हुई फाइल्स करप्ट भी हो जाए तो घबराने वाली कोई बात नहीं है।

2- फोटो रिकवर करने के लिए रिकवरी सॉफ्टवेयर की जरुरत होगी, तो आप ऑनलाइन एक रिकवरी सॉफ्टवेयर डाउनलोड कर लें। आपको बता दें कि आप विंडोज पीसी के लिए रिकूवा और मैक के लिए फोटोरेक सॉफ्टवेयर डाउनलोड कर सकते हैं।

3- रिकवरी सॉफ्टवेयर डाउनलोड करने के लिए आप थर्ड पार्टी सॉफ्टवेयर का उपयोग कर सकते हैं, इसके लिए आप असोफटेक फोटोरिकवरी सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

4- डाउनलोड होने के बाद इस सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल कर लें। इसके बाद मेमोरी कार्ड को कार्ड रीडर से कनेक्ट करें। अगर फोटोज फोन में सेव थीं तो आप अपने फोन को कंप्यूटर से कनेक्ट करें।

5- इसके बाद असोफटेक फोटो रिकवरी सॉफ्टवेयर पर क्लिक करें, फिर फोन/मेमोरी कार्ड को माई कंप्यूटर से सेलेक्ट करें। इसके बाद फोन/मेमोरी कार्ड की स्कैनिंग शुरु हो जाएगी।

6- स्कैनिंग पूरी होने के बाद सॉफ्टवेयर उन सभी फोटोज की एक लिस्ट आपको दिखाएगा जो रिकवर की जा सकती हैं।

7- लिस्ट में से उन सभी फोटोज पर टैप करें, जिन्हें आप रिकवर करना चाहते हैं। जो फोटोज आपने रिकवर की है वो आपके फोन/मेमोरी कार्ड में सेव हो जाएंगी।

 

बिना बैंक जाए अपने अकाउंट से आधार कार्ड को ऐसे करें लिंक

मल्टीमीडिया डेस्क। ये तो हम सभी जानते हैं कि बैंक अकाउंट का आधार कार्ड से लिंक होना कितना जरुरी है। इसके लिए ग्राहक को बैंक जाकर अपना अकाउंट आधार कार्ड से लिंक करना होता है। रोजमर्रा की भागदौड़ में बैंक जाना संभव नहीं हो पाता है।

इसी कारण हम आपके लिए एक ऐसा तरीका लाएं हैं, जिसके जरिये आप बिना बैंक जाए अपने अकाउंट को आधार कार्ड से लिंक कर सकते हैं। इसके लिए आपको निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करना होगा। यह तरीका केवल एसबीआई बैंक ग्राहकों के लिए है।

हम आपको दो तरीके बताएंगे। पहला तरीका एसएमएस द्वारा आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से कैसे लिंक किया जाए और दूसरा एटीएम द्वारा आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से कैसे लिंक किया जाए।

ध्यान रहे: इसके लिए आपका मोबाइल नंबर बैंक अकाउंट से लिंक होना चाहिए।

एसएमएस द्वारा आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से ऐसे करें लिंक

1. सबसे पहले आपको अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर से UDI <Space> Aadhar Number <Space> Account Number टाइप कर 567676 पर भेजना होगा।

2. इसके बाद आपके पास आधार कार्ड के बैंक अकाउंट से लिंक होने का मैसेज आएगा। यह कंफर्मेशन मैसेज होगा।

एटीएम द्वारा आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से ऐसे करें लिंक

1. किसी भी एसबीआई एटीएम पर जाएं और एटीएम मशीन में कार्ड और पिन डालें।

2. मेन्यू जाएं और Service- Registrations पर क्लिक करें।

3. इसके बाद Aadhar Registration पर क्लिक करें।

4. इसके बाद अकाउंट टाइप में saving/checking पर टैप करें।

5. फिर आधार नंबर एंटर करें। एक बार नंबर डालने के बाद दोबारा आपके आधार कार्ड नंबर डालने का कहा जाएगा।

6. अब आपका आधार कार्ड आपके बैंक अकाउंट से लिंक हो जाएगा।

 

आधार से जुड़ी सेवाएं दे रहीं 50 साइटों व एप पर कार्रवाई

नई दिल्ली। भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने व्यापक कार्रवाई करते हुए आधार से जुड़ी सेवाएं प्रदान कर रहीं 12 वेबसाइटों और गूगल प्लेस्टोर पर उपलब्ध 12 मोबाइल एप को बंद कर दिया है। गैरकानूनी रूप से सेवाएं प्रदान कर रहीं इन वेबसाइट्स व एप्स पर लोगों से अधिक शुल्क भी वसूला जा रहा था।

यूआईडीएआई के सीईओ अजय भूषण पांडे ने बताया कि अधिकारियों को ऐसी 26 अन्य फर्जी और गैरकानूनी वेबसाइटों और मोबाइल एप्स को बंद करने का आदेश भी दिया है। उन्होंने कहा कि यूआईडीएआई ऐसी अनधिकृत वेबसाइटों और मोबाइल एप्स को कतई बर्दाश्त नहीं करेगा।

अजय भूषषण ने कहा कि हम ऐसी वेबसाइटों और मोबाइल एप्स पर नजर बनाए रखेंगे और ऐसा कुछ हमारे संज्ञान में आया तो हम उन्हें बंद करने समेत त्वरित कार्रवाई करेंगे अथवा अन्य कड़े कदम उठाएंगे।'

\बयान के मुताबिक, आधार से जुड़ी सेवाओं के लिए लोग यूआईडीएआई की अधिकृत वेबसाइट पर या सामान्य सेवा केंद्र अथवा आधार स्थायी नामांकन केंद्रों पर ही संपर्क करें।

 

130 रुपए मासिक में देख सकेंगे 100 एसडी चैनल

नई दिल्ली। अगर प्रसारण नियामक ट्राई का प्रस्ताव अमल में आया तो 130 रुपए के मासिक शुल्क पर 100 एसडी (स्टैंडर्ड डेफिनिशन) चैनल देख सकेंगे। टीवी वाले परिवारों को प्रति सेट टॉप बॉक्स यह मासिक किराया अदा करना होगा। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने नए ड्राफ्ट टैरिफ ऑर्डर पर लोगों से 24 अक्टूबर तक सुझाव मांगे हैं।

इस मसौदा टैरिफ आदेश के अनुसार प्रसारकों को सब्सक्राइबर्स के लिए अपने "अ ला कार्टे" यानी बुके से अलग चैनलों की अधिकतम खुदरा कीमत (एमआरपी) भी घोषित करनी चाहिए। इसी तरह ट्राई ने चैनल कीमतों की जॉनर वाइज सीलिंग भी तय करने का प्रस्ताव किया है।

हालांकि, प्रसारकों को प्रीमियम चैनल ऑफर करने की अनुमति दी गई है। इन चैनलों को अ ला कार्टे आधार पर उपलब्ध कराया जा सकता है। प्रसारण नियामक की ओर से इनकी कोई अधिकतम कीमत नहीं तय की जाएगी।

ड्रॉफ्ट ऑर्डर में ट्राई ने कहा है कि टीवी चैनल के डिस्ट्रीब्यूटर केवल प्रसारकों के अ ला कार्टे से ही बुके बना सकते हैं। हालांकि, ऐसे बुके की खुदरा कीमत इसमे शामिल अ ला कार्टे चैनलों की एमआरपी के कुलयोग के 85 फीसद से कम नहीं होनी चाहिए।

यही नहीं, इन वितरकों को 100 फ्री टु एयर चैनलों का कम से कम एक बुके जरूर उपलब्ध कराना होगा। इस बेसिक टियर में सरकार की ओर से अनिवार्य सभी चैनल भी शामिल होने चाहिए।

ट्राई ने यह भी सुझाव दिया है कि कोई सब्सक्राइबर 25 एसडी चैनलों के बंडल में अतिरिक्त नेटवर्क क्षमता का अनुरोध कर सकता है। इसके लिए 20 रुपए मासिक की दर लागू होगी।

 

टीवी सेट टॉप बॉक्स के लिए ऐप डेवलप कर रहा है फेसबुक

वॉशिंगटन। ऐपल टीवी सहित टेलीविजन सेट टॉप बॉक्स के लिए फेसबुक ऐप डेवलप कर रहा है। इस मामले के जानकार लोगों के हवाले वॉल स्ट्रीट जर्नल ने खबर प्रकाशित की है।

दुनिया का सबसे बड़ा ऑनलाइन सोशल नेटवर्क लाइसेंस, टीवी क्वालिटी प्रोग्रामिंग के लिए मीडिया कंपनियों के साथ बातचीच कर रही है। हालांकि, इस मामले में टिप्पणी करने से फेसबुक ने इंकार कर दिया।

सेट टॉप बॉक्स के लिए एक ऐप बनाने के साथ ही फेसबुक लाइव, वीडियो और वीडियो विज्ञापनों के काफी करीब आ जाएगा। फेसबुक के लगातार राजस्व की ग्रोथ के लिए वीडियो एड अहम है क्योंकि ऐसे विज्ञापनों से विज्ञापनदाता, टेक्स्ट यानी शब्दों और फोटो वाले विज्ञापनों की तुलना में अधिक रेट में बिकते हैं।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स में लाइव वीडियो और ऑस्कर व ग्रैमा अवॉर्ड शो जैसे हाई प्रोफाइल इवेंट के एक्सक्लूसिव वीडियो काफी प्रतिस्पर्धात्मक फीचर बना हुआ है। अप्रैल में फेसबुक ने अपने लाइव वीडियो प्रोडक्ट को विस्तारित किया था।

ब्रॉकास्ट टेलीविजन के लिए फेसबुक लाइव एक बड़ा खतरा है। इसके चलते ही फेसबुक इसे अपने ऐप में प्रमुखता से जगह दे रहा है। इसके साथ ही फेसबुक लोगों के लिए रियलटाइम में सर्च व कमेंट करने के लिए आसान बनाना चाहता है।

 

12 दिसंबर को लांच होगा Xiaomi का यह नया स्मार्टफोन

नई दिल्ली  - चीन की स्मार्टफोन निर्माता कंपनी शाओमी एक नए स्मार्टफोन Meri aka Mi 5c पर काम कर रही है। यह स्मार्टफोन 12 दिसंबर को लांच किया जाएगा। हाल ही में जाने-माने टिप्सटर केजुमा ने वीबो पर इस स्मार्टफोन की तस्वीरें, स्पेसिफिकेशन और कीमत की जानकारी लीक की है। शाओमी Meri aka Mi 5c स्मार्टफोन को 1,499 चीनी युआन (करीब 14,800 रुपए) कीमत में लांच किए जाने की खबरें हैं। 

इस फोन में शाओमी का अपना पाइन कोन प्रोसेसर दिया जा सकता है। टिप्सटर के मुताबिक, शाओमी मेरी स्मार्टफोन को रोज़ गोल्ड, गोल्ड और ब्लैक कलर वेरिएंट में लांच किया जा सकता है। गीकबेंच पर लीक स्कोर से इस फोन के स्पेसिफिकेशन का खुलासा होता है। इस डिवाइस में 1.4 गीगाहर्ट्ज़ ऑक्टा-कोर प्रोसेसर, 3 जीबी रैम और ग्राफिक्स के लिए मीली-टी860 दिया जा सकता है और यह फोन एंड्रॉयड 6.0 मार्शमैलो आधारित मीयूआई 8 पर चलेगा।

इन डिवाइसिस के लिए उपलब्ध हुआ साइनोजन मोड 14

भारत में शुरू हुई बिना टच बार वाले मैकबुक प्रो 2016 वेरिएंट की बिक्री

नई दिल्ली  - पिछले महीने जब नए मैकबुक प्रो को लांच किया गया था तब इसकी भारत में उपलब्धता को लेकर कोई जानकारी नही दी गई थी। अब तक एप्पल की भारतीय वेबसाइट पर ये प्रोडक्ट 'कमिंग सून' के टैग से ही लिस्टिड था। 

हाल ही में मिली जानकारी के मुताबिक देशभर में एप्पल ने रीसेलरों के पास 13 इंच वाले मैकबुक प्रो का स्टॉक उपलब्ध कर दिया है। एप्पल रीसेलर से इस बारे में पता किया गया तो उन्होंने स्टॉक उपलब्ध होने की पुष्टि की, लेकिन मुंबई के रिटेलर ने कहा कि उन्हें अभी तक यूनिट नहीं मिले हैं। 

2016 मैकबुक प्रो को अभी तक किसी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर लिस्ट नहीं किया गया है। इसलिए लगता है कि अभी स्टॉक पहुंचना शुरू ही हुआ है। याद दिला दें कि 13 इंच वाले मैकबिक प्रो के बिना टच बार वाले वेरिएंट की कीमत 1,29,900 रुपए रखी गई है। 

नया मैकबुक प्रो अपने पिछले वेरिेएंट से काफी हल्का और पतला है और इसमें तेज स्पीड पर काम करने वाला इंटेल स्काईलेक सीपीयू दिया गया है। बता दें कि भारत में सिर्फ बिना टच बार वाला वेरिएंट ही बेचा जा रहा है और टच बार वाले वेरिएंट का अभी भारतीय बाजार में आना बाकी है।

सैमसंग और क्वालकॉम ने मिलकर बनाया Snapdragon 835 प्रोसेसर

नई दिल्ली  - सैमसंग और क्वालकॉम ने साथ मिलकर नेक्स्ट जेनेरेशन मोबाइल चिपसेट Snapdragon 835 का ऐलान किया है। इस प्रोसेसर में क्वालकॉम ने 4th जेनेरेशन सुपर फास्ट चार्जिंग टेक्नॉलोजी Quick Charge 4 को भी शामील किया है जिसके जरिए स्मार्टफोन की बैटरी सिर्फ 5 मिनटों में चार्ज होकर 5 घंटों तक चलाई जा सकेगी। गौरतलब है कि क्विक चार्ज तकनीक स्नैपड्रैगन के अदर ही मौजूद होगी।

बैटरी ओवरहीट से भी मिल सकता है छुटकारा -
कंपनी ने कहा है कि इसे डिवेल्प करने में सेफ्टी का ज्यादा ध्यान रखा गया है। क्विक चार्ज 4 में क्वॉल्कॉम ने कई तरह की प्रोटेक्शन दी है जो ओवर चार्जिंग और ओवर हीटींग से स्मार्टफोन को बचाएगी। खास बात यह है कि इस प्रोसेसर के जरिए बैटरी की लाइफ और बैकअप एक साथ बढ़ेगा।

बैटरी को रखेगा 4 डिग्री तक ठंढा -
कंपनी का दावा है कि पिछले प्रोसेसर के मुकाबले Snapdragon 835 से लैस स्मार्टफोन 5 डिग्री तक ठंडा रहेगा। इसके अलावा पिछले प्रोसेसर से यह 20 फीसदी की स्पीड से बैटरी चार्ज करेगा।

सैमसंग के साथ पार्टनर्शिप कर किया डिवेल्प -
 क्वालकॉम के मुताबिक इसे सैमसंग के 10nm FinFET प्रोसेसर के तहत बनाया गया है और कंपनी के मौजूदा प्रोसेसर के मुकाबले 27 फीसदी तक तेज होगा और 40 फीसदी तक कम बैटरी की खपत करेगी।

यह है दुनिया का सबसे तेज ऑटोफोकस वाला कैमरा

नई दिल्ली : यदि आपको भी फोटो क्लिक करने का शौक है तो आपको बता दें कि इसमें सबसे बड़ा रोल कैमरा का ही होता है। फोटोस आपकी ज़िंदगी के उन खूबसूरत पलों को बयान करती है जिन्हें आपने अपने फेंड्स और करीबियों के साथ बिताए होते है। अगर आप भी फोटोग्राफी के लिए बेहतरीन कैमरे की तलाश में है तो सोनी का मिररलैस्स कैमरा अल्फा A6300 आपके लिए परफेक्ट रहेगा। 

कंपनी ने दावा किया है कि यह दुनिया का सब से तेज़ आटोफोकस कैमरा है। कंपनी का कहना है कि यह कैमरा 0.05 सेकिंड में आटोफोक्स करने में समर्थ है। इस कैमरे में 24.2 MP सीमास सैंसर है जो ब्यांस एक्स इमेज प्रोसेसिंग के साथ मिलकर बेहतरीन क्वालिटी की तस्वीर क्लिक करता है। यह कैमरा के रेजोल्यूशन की वीडियो बनाने में भी समर्थ है। इस कैमरा की कीमत करीब 70,000 रुपए है।

6 GB रैम से लैस हो सकता है लेनोवो का यह स्मार्टफोन

नई दिल्ली :  चीन की मल्टीनेशनल टेक्नोलॉजी कंपनी Lenovo ने जूक ब्रांड के तहत अभी तक तीन स्मार्टफोन पेश किए हैं और कंपनी अब इस ब्रांड के चौथे स्मार्टफोन पर काम कर रही है। लेनोवो के कथित जूक एज की फोटो लीक हुई है। 

चीन की टेलीकम्युनिकेशंस सर्टिफिकेशन अथॉरिटी टीना पर लिस्ट हुई तस्वीरों के अनुसार, इस फोन में डिस्प्ले के चारों तरफ पतले बेज़ेल हैं। एक तस्वीर में कथित ज़ूक एज स्मार्टफोन ज़ूक का स्टार्ट-अप स्क्रीन व स्विच ऑन स्क्रीन देखा जा सकता है। 
टीना लिस्टिंग के अनुसार, जूक Z2151 यानी जूक एज में एक 5.5 इंच फुल एचडी (1080x1920 पिक्सल) डिस्प्ले औौर क्वालकॉम का लेटेस्ट क्वाड-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 821 प्रोसेसर होगा। इसमें 4 GB रैम हो सकता है। जूक एज की लीक तस्वीरें पोस्ट करने वाले एक चीनी पब्लिकेशन का दावा है कि इस हैंडसेट का 6GB रैम वेरिएंट भी पेश किया जाएगा। यह फोन 32GB व 64GB स्टोरेज वेरिएंट में मिलेगा। लेनोवो के इस फोन में रियर पर 13MP कैमरा जबकि फ्रंट में 8MP कैमरा दे सकती है।
लिस्टिंग में दावा किया है कि ज़ूक एज एंड्रॉयड 6.0 मार्शमैलो पर चलेगा जिसके ऊपर 2.0 स्किन दी गई है। इस फोन में 3000 MAh की बैटरी होगी। 

महज 30 सैकेंड में Hack किया गूगल का Pixel Phone

नई दिल्ली  : गूगल का पिक्सल और पिक्सल एक्सएल स्मार्टफोन सबसे बेहतरीन एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स हैं। इन स्मार्टफोन्स को गूगल द्वारा बनाया गया है और पिक्सल फोन्स से आईफोन्स को टक्कर दी गई है। पिक्सल फोन्स का डिजाइन, हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर एक्सपीरिएंस आपको शायद ही किसी एंड्रॉयड फोन में मिले इसलिए बहुत से लोग इसे खरीद रहे हैं या खरीदना चाहते हैं। अगर आपके पास भी पिक्सल फोन है या खरीदने की सोच रहे हैं तो यह खबर आपके लिए ही है।  

व्हाइट हैट हैकरों का कमाल
गूगल के एंड्रॉयड सिक्योरिटी डायरैक्टर Adrian Ludwig ने नवम्बर में कहा था कि पिक्सल फोन्स आईफोन्स की तरह सिक्योर हैं। हालांकि हैकरों के लिए इसे हैक करना महज चंद सैकेंड्स का काम हो सकता है और पूरे फोन का रिमोट असैस पा सकते हैं जिसमें कांटैक्ट, कॉल लॉग्स और मैसेज आदि शामिल हैं। ‘व्हाइट हैट’ हैकरों ने यह काम करके दिखाया है और महज 30 सैकेंड में पिक्सल फोन पर अपना असैस पा लिया।  
गूगल ने दूर की समस्या
हालांकि चिंता की बात नहीं है क्योंकि व्हाइट हैट हैकरों का ऐसा ग्रुप है जो कम्पनियों के साथ सॉफ्टवेयर सिक्योरिटी को शेयर करता है ताकि कम्पनियां इसे फिक्स कर सकें, लेकिन यहां सवाल यह बनता है कि अगर गूगल ने पिक्सल फोन्स को आईफोन जितना सिक्योर माना है तो यह इतनी जल्दी और आसानी से हैक कैसे हो गया? इसके अलावा यह सवाल भी बनता है कि अगर पिक्सल फोन्स का हाल ऐसा है तो मार्कीट में उपलब्ध अन्य एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स का क्या हाल होगा? डिजीटल ट्रैंड्स के मुताबिक गूगल ने सिक्योरिटी पैच को ठीक कर दिया है इसलिए अब आपका पिक्सल फोन सिक्योर है। 
एक अन्य सिक्योरिटी फर्म Qihoo 360 ने एडोब फ्लैश को (4 सैकेंड्स) और एप्पल के सफारी ब्राऊजर (20 सैकेंड्स से कम समय में) को हैक किया है।  

इन ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स ने दोबारा शुरू की कैश ऑन डिलिवरी सर्विस

नई दिल्ली  - 1000 और 500 रुपए के नोट बंद होने के बाद कुछ ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स ने प्रोडक्ट्स पर कैश ऑन डिलिवरी की ऑप्शन बंद कर दी थी जिनमें अमेजन, फ्लिपकार्ट और स्नैपडील आदि शामिल थी। अब इन कंपनियों ने दोबारा COD सर्विस यानि कि कैश ऑन डिलीवरी सर्विस शुरू कर दी हैं और अब आप वेलिड 500 और 2000 रुपए के नोट्स से पेमेंट्स कर सकते हैं।

गौरतलब है कि COD सर्विस को सबसे पहले अमेजन ने बंद किया था और फिर धीरे -धीरे फ्लिपकार्ट और स्नैपडील ने भी इसे बंद कर दिया, इसी के साथ कुछ साइट्स पर ये लिखा आ रहा था कि 500 और 1000 रुपए पेमेंट के लिए एसेप्ट नहीं किए जाएंगे। हाल ही में फ्लिपकार्ट ने ये मेंशन किया है कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा 10 नवंबर 2016 से जारी किए गए नोट एसेप्ट किए जाएंगे।

मलेरिया से निपटने के लिए नई दवा की खोज

नई दिल्ली  : वैज्ञानिकों ने मलेरिया और कई अन्य रोगों के प्रभावी इलाज के लिए एक ऐसी दवा के कैप्सूल की खोज की है जो खाने के बाद करीब 2 सप्ताह तक पेट में रहती है और इसमें से दवा धीरे धीरे निकलकर असर करती है। 

मलेरिया जैसी बीमारियों के इलाज के लिए लगातार दवा की खुराक लेने की जरूरत होती है लेकिन इस दवा की खोज के बाद इस तरह की समस्या से निजात मिल जाएगी। इस दवा से इस तरह के रोगों को खत्म करने में आ रही बाधाओं से निपटने में मदद मिलेगी।   
अमेरिका के मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी) और ब्रिघम एंड वुमेंस हॉस्पिटल के शोधकर्ताओं ने इवेरमेक्टिन नाम की एक दवा की खेाज की है और उनका विश्वास है कि यह मलेरिया के उन्मूलन के प्रयास में सहायक साबित हो सकता है।   
एमआईटी के प्रोफेसर रॉबर्ट लैंगर ने कहा कि हालांकि यह खोज अन्य बीमारियों के इलाज में भी सहायक होगी। उन्होंने कहा कि इस खोज ने अल्जाइमर या मानसिक विकार से संबंधित सभी तरह की रोगों के प्रभावी इलाज का रास्ता खोल दिया है। लैंगर की प्रयोगशाला कई वर्षों से इस तरह की दवा की खोज के लिए काम कर रहा था।

बिक्री के लिए उपलब्ध हुआ Huawei का मीडिया पैड M3 टैबलेट

चीन को मिल रहा है 700 मिलियन एंड्रॉयड यूजर्स का सारा डाटा

नई दिल्ली - अगर आप एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूजर हैं तो आपकी प्राइवेसी पर बड़ा खतरा मंडरा रहा है। क्योंकि 700 मिलियन एंड्रॉयड यूजर का डाटा हर 72 घंटों में चीन को मैसेज द्वारा भेजा जा रहा है। दरअसल एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स में एक सीक्रेट 'backdoor' मौजूद है जिसके द्वारा यूजर के मैसेज, कॉन्टैक्ट, कॉल लॉग और लोकेशन हिस्ट्री जैसी जानकारियां चीन को भेजी जा रही हैं। 

Kryptowire के सिक्योरिटी रिसर्चर्स ने एंड्रॉयड के इस छुपे हुए backdoor का पता लगाया है, जो फोन के मालिक का डाटा एकत्र कर चाइनीज सर्वर को सेंड करता है। खबरों के मुताबिक, AdUps का सॉफ्वेयर न ही सिर्फ यूजर की निजी जानकारी को चुराता है बल्कि ये रिमोटली ही फोन को अपडेट कर देता है। हालांकि, अभी तक ये पता नहीं चल पाया है कि यूजर्स की जानकारी किस मकसद के लिए एकत्र की जा रही है।

यूजर की इस तरह की जानकारियां हो रही हैं लीक:
1.    कॉल लॉग को एकत्र कर AdUps सर्वर पर भेजना (हर 72 घंटों में)
2.    एसएमएस को एकत्र कर AdUps सर्वर पर भेजना (हर 72 घंटों में)
3.    स्मार्टफोन के IMSI और IMEI नंबर को पहचानना
4.    यूजर की डिवाइस पर कितनी एप्स इंस्टॉल हुईं हैं उनकी फाइल भेजना
5.    निजी जानकारी को एकत्र कर AdUps सर्वर पर भेजना (हर 24 घंटों में)
6.    एप्स को अपडेट और रिमूव करना
7.    फोन फर्मवेयर को अपडेट करना और डिवाइस को री-प्रोग्राम करना
8.    बिना यूजर के अनजाने एप्स को इंस्टॉल और डाउनलोड करना

इस backdoor से सिर्फ चाइनीज स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों को यूजर के बर्ताव का पता चलता है। आपको बता दें कि ये backdoor दो सिस्टम एप्लीकेशन्स में होते हैं एक com.adups.fota.sysoper और दूसरा com.adups.fota, इन्हें यूजर्स डिसेबल और रीमूव नहीं कर सकते। इस मामले पर गूगल ने एक बयान जारी कर कहा है कि जिस भी कंपनी के डिवाइस में यूजर को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है वे जल्द ही इसे सही कर दें।

वायस कमांड के साथ वीडियो रिकार्डिंग करने में सक्षम है यह कैमरा

नई दिल्ली : एक्शन कैमरा और ड्रोन बनाने वाली मशहूर कम्पनी गो-प्रो का हीरो 5 ब्लैक एक ऐसा वाटरप्रूफ कैमरा है जो बिना कवर के बिना भी पानी में (10 मीटर तक) रखने से खराब नहीं हो सकता। इसमें बिल्ट इन जी.पी.एस. सिस्टम लगा है जो गो-प्रो के नए कर्मा ड्रोन के साथ मिलकर काम करता है।

हीरो 5 ब्लैक कैमरा के फीचर्स की बात की जाए तो यह 30 फ्रेम्स प्रति सैकेंड पर 4के वीडियो रिकार्ड कर सकता है जबकि 10 मेगापिक्सल रेजोल्यूशन पर फोटोज खींची जा सकती हैं। हीरो 5 ब्लैक की तरह यह भी वाटरप्रूफ है और स्मूथ वीडियो रिकार्डिंग के लिए इलैक्ट्रानिक वीडियो फाइंडर दिया गया है। इसमें 12 MP का सैंसर लगा है जो 30 फ्रेम्स प्रति सैकेंड पर 4के वीडियो शूट कर सकता है। 
हीरो प्लस की तरह गो-प्रो हीरो 5 ब्लैक में 2 इंच की डिस्प्ले लगी है और रियल टाइम में आपको रिकार्डिंग देखने को मिलती है। गो-प्रो के अन्य कैमरों के मुकाबले हीरो 5 में ज्यादा क्षमता वाली बैटरी दी गई है। एल.सी.डी. स्क्रीन की वजह से बैटरी ज्यादा खर्च होती है लेकिन फिर भी कैमरा 2 घंटों तक साथ दे देगा। इसकी बैटरी 45 मिनट में पूरी तरह चार्ज हो जाती है जो कि अच्छा है। हीरो 5 ब्लैक में वायस कंट्रोल फीचर दिया गया है। ‘गो-प्रो स्टार्ट रिकार्डिंग’ कहने पर कैमरा वीडियो रिकार्डिंग शुरू कर देगा। वीडियो रिकार्डिंग बंद करने के लिए भी कोई बटन दबाने की जरूरत नहीं होगी और सिर्फ ‘स्टॉप रिकार्डिंग’ कहना होगा।

2017 में लांच होगा गैलेक्सी Tab S3

नई दिल्ली : दक्षिण कोरियाई कंपनी सैमसंग अपने गैलक्सी टैब की S सीरीज को आगे बढ़ाते हुए जल्द ही गलैकसी टैब S3 को लांच करेगी। जानकारी के मुताबिक यह गैलक्सी टैब की S2 का ही अपग्रेड वर्जन होगा जिस को मार्च 2017 तक लांच किया जाएगा। कंपनी द्वारा इस टैब को दो वर्जन में लांच किया जा सकता है। जी हाँ, कंपनी इसको 8-इंच और 9.7 -इंच की स्क्रीन के साथ लांच कर सकती है जिस का रेजोल्यूशन 2048x1536 पिक्सल का होगा। जानकारी मुताबिक यह डिवाइस ब्लैक, ग्रे और वाइट आप्शन में उपलब्ध होगा। 

फीचर्स की बात की जाए तो इस में क्वॉलकाम स्नैपड्रैगन 652 प्रोसेसर, 3GB रैम और साथ 32GB इंटरनल स्टोरेज के साथ आएगा जिस को मैमरी कार्ड के द्वारा बढ़ाया जा सकेगा। कैमरा की बात की जाए तो इस टैब में 8 MP का रियर और 2 MP का फ्रंट कैमरा होगा। इस के साथ ही यह टैब एंड्रायड के लेटेस्ट वर्जन 7.0 नूगट पर रन करेगा।  पॉवर देने के लिए इस में 4,000mAh और 5,870mAh की दमदार बैटरी हो सकती है। 

Whatsapp ने फेसबुक को दिया बड़ा झटका

नई दिल्ली : व्हाट्सएप्प ने निजता संबंधी चिंताओं के मद्देनजर अपनी मूल कंपनी फेसबुक को यूरोप में लोगों के विशेष समूह तक विज्ञापन पहुंचाने के लिए अपने यूजर की जानकारी देना बंद कर दिया है।

जानकारी के अनुसार, यूरोप में अधिकारियों के साथ पिछले कुछ महीनों से चल रही बातचीत के बाद सोशल नेटवर्क ने निर्णय लिया है वह केवल स्पैम का मुकाबला करने जैसे मकसदों के लिए ही वाट्सएप्प यूजर डाटा का लाभ उठाएगा। इसे नियामकों को निजी चिंताएं शेयर करने और फेसबुक को इनसे निपटने के तरीकों पर विचार करने का समय देने के प्रयास के तौर पर देखा जा रहा है। 

जर्मनी के डाटा संरक्षण अधिकारियों ने फेसबुक को वहां व्हाट्सएप्प से सब्सक्राइबर डाटा एकत्र करने से रोकने के लिए सितंबर में निजी चिंताओं का हवाला दिया था।   हैमबर्ग के कमिशनर फॉर डाटा प्रोटेक्शन एंड फ्रीडम ऑफ इनफॉरमेशन जोहानेस कैस्पर से कहा था, ‘‘यह यूसर का निर्णय होना चाहिए कि वह अपने अकाउंट को फेसबुक के साथ जोडऩा चाहता है या नहीं। फेसबुक को पहले से उनकी अनुमति मांगनी होगी।’’  

वाट्सएप्प ने अगस्त में घोषणा की थी कि वह विशेष समूह तक विज्ञापन पहुंचाने की प्रक्रिया को बेहतर करने और इस मंच पर स्पैम को रोकने की कोशिश के तहत फेसबुक के साथ डेटा साझा करना आरंभ करेगा। यूरोपीयन डेटा संरक्षण समूह जी29 ने अक्तूबर के अंत में अपनी चिंताएं व्यक्त की थी और फेसबुक एवं व्हाट्सएप्प से उचित कानूनी सुरक्षा प्रावधान होने तक तक डाटा शेयर नहीं करने को कहा था। उल्लेखनीय है कि फेसबुक ने करीब 19 अरब डॉलर का सौदा करके दो वर्ष पहले व्हाट्सएप्प को खरीदा था। 

Acer ने भारत में लांच किया 'सबसे पतला' लैपटॉप, जानें फीचर्स

नई दिल्ली- ताइवानी कंप्यूटर निर्माता कंपनी Acer ने इस साल की शुरुआत में IFA इवेंट के दौरान अपना Swift 7 लैपटॉप लांच किया था। कंपनी ने दावा करते हुए कहा था कि ये दुनिया का सबसे पतला लैपटॉप है और इसकी मोटाई 1 cm से भी कम महज 9.98mm है। इस लैपटॉप को अब आधिकारिक तौर पर भारत में लांच कर दिया गया है और इसकी कीमत 99,999 रुपए रखी गई है। यह 18 नवंबर से बिक्री के लिए उपलब्ध होगा।

इस लैपटॉप में 13.3 इंच की स्क्रीन दी गई है जो 1080×1920 पिक्सल रिजॉल्यूशन को स्पोर्ट करती है। इस स्क्रीन पर कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास की प्रोटेक्शन भी मौजूद है। इस एल्युमिनियम बॉडी से बने लैपटॉप का वजन 1.1 किलो है। इस लैपटॉप में इंटेल का 7th जेनरेशन प्रोसेसर और 4 जीबी रैम दी गई है जिसे 8 जीबी तक बढ़ाया जा सकता है, साथ ही इसमें 256GB SSD स्टोरेज भी मौजूद है।  कंपनी ने इसकी बैटरी को लेकर दावा किया है कि ये एक बार पूरी चार्ज होने पर 9 घंटो तक चलेगी।

एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स से डाटा चोरी कर रहा है चीन!

नई दिल्ली - मोबाइल एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर निर्माता कंपनी Kryptowire के शोधकर्ताओं ने ये दावा किया है कि सॉफ्टवेयर्स की मदद से सेंसिटिव यूजर डाटा जैसे टेक्स्ट मेस्सेज आदि को चाइना में ट्रांसमिट किया जा रहा है। 

ये सॉफ्टवेयर्स थर्ड-पार्टी नहीं है और आपके फोन में से लोकेशन डाटा, कांटेक्ट लिस्ट्स और कॉल लॉग्स जैसी जरूरी जानकारियां चीन भेज रहे हैं। आपको बता दें कि ये कोड आॉफर आदि पर क्लिक करने से भी आपके स्मार्टफोन में सेव हो सकते हैं। फिलहाल अभी यह साफ नहीं हुआ है कि कितने स्मार्टफोन्स इस spyware से अफ्फेक्टेड हैं।

The New York Times की एक रिपोर्ट के मुताबिक इस कोड को चीनी कंपनी Shanghai Adups Technology ने बनाया है जो “700 मिलियन फोन्स, कारों और अन्य स्मार्ट डिवाइसिस में यूज हो रहा है।

U.S.-बेस्ड स्मार्टफोन निर्माता कंपनी Blu Products ने कहा है कि कंपनी के 120,000 बजट स्मार्टफोन्स इस spyware से प्रभावित हो रहे हैं और कंपनी ने इसे अपने स्मार्टफोन्स से रिमूव करने के लिए सॉफ्टवेयर अपडेट जारी करने का फैसला लिया है।

नहीं रुक रहा सैमसंग के स्मार्टफोन्स में ब्लास्ट होने का सिलसिला

नई दिल्ली :  पिछले कुछ समय से कोरियाई कंपनी सैमसंग की परेशानियां कम होने का नाम ही नहीं ले रही है। गैलेक्सी नोट 7 के ब्लास्ट होने के बाद कंपनी ने सभी स्मार्टफोन को रिकॉल कर लिया है। ऐसे में कंपनी अपने यूजर्स को खुश करने के लिए अपना बैस्ट दे रही है। लेकिन इसी के चलते फिर से एक ऐसा मामला सामना आया है यहां सैमसंग के स्मार्टफोन में ब्लास्ट होने से उपयोगकर्त्ता बुरी तरह से जख्मी हो गया है। 

विन्निपेग के रहने वाले 34 वर्षीया अमरजीत मान ने बताया कि ड्राइविंग करते समय उसने महसूस किया कि पॉकिट में रखा गैलेक्सी S7 गर्म हो रहा है। जब उसने फोन को निकाल कर देखा तो उसमें आग लग गई। उस समय मान की कार की खिड़कियां खुली हुई तो उसने अपने फोन को बाहर फेंक दिया। जिससे उसके हाथ काफी ज्यादा जल गए। जख्मी हालत में कार  ड्राइव करते हुए मान अपने दोस्त के घर पहुंचा और यहां से फिर उसे हॉस्पिटल ले जाया गया।
मान ने यह स्मार्टफोन 6 महीने पहले खरीदा था। लेकिन उसमें ब्लास्ट होने से हाथ जल जाने के कारण वह कारम करने में अस्मर्थ है। जिसके लिए डॉक्टर ने उसे चार सप्ताह के लिए आराम करने को कहा है। इसके लिए अब मान ने कंपनी के खिलाफ मुकदमा और मुआवजे की अपील की है। 

महंगाई के इस दौर में इस तरह पाएं फ्री इंटरनैट डाटा!

नई दिल्ली : 500 और 1000 के नोट बंद होने के कारण अचानक से हर तबके के लोग प्रभावित हो रहें हैं। इनमें वो लोग भी शामिल हैं जो बहुत ज्यादा इंटरनैट का प्रयोग करते हैं। लेकिन जब आपको अचानक से यह पता चले कि 1 GB इंटरनैट डाटा फ्री में मिल सकता है तो आपको हैरानी जरूर होगी। जी हां, उपभोक्ताओं की मदद के लिए भारती एयरटेल एक खास प्लान लाई है जिसके तहत आप फ्री में 1.2 GB इंटरनेट पा सकते हैं। 

इन स्टेप्स को फॉलो कर आप पा सकते हैं फ्री इंटरनैट डाटाः-
-  सबसे पहले आपको भारती एयरटेल की वेबसाइट http://www.airtel.in/free पर जाना होगा।
- वेबसाइट पर आपको 4 एप्स के लिंक दिए गए हैं जिन्हें आपको डाउनलोड करना होगा।
- हर एप को डाउनलोड करने के लिए आपको 300 MB फ्री डाटा दिया जाएगा।
- चारों एप्स को डाउनलोड करने पर 1.2 GB फ्री डाटा यूजर्स के अकाउंट में क्रेडिट हो जाएगा।
- ज्ञात रहे कि आप अपने एयरटेल वेबसाइट को अपने एयरटेल नंबर से ही ओपन करें।
- इन एप्स को करना होगा डाउनलोड
माय एयरटेल एप्प (My Airtel App)
विंक म्यूजिक (Wynk Music)
विंक मूविज (Wynk Movies)
विंक गैम्स (Wynk Games)