Updated -

mobile_app
liveTv

एंड्रॉयड P ओएस को इस तरह अपने एंड्रॉयड स्मार्टफोन में अभी कर सकते हैं इस्तेमाल

नई दिल्ली । गूगल ने एंड्रॉयड P को जल्दी लॉन्च आकर के सभी एंड्रॉयड यूजर्स को सरप्राइज दे दिया है। फिलहाल, सभी एंड्रॉयड यूजर्स इस नए ओएस के फीचर्स को देखने में व्यस्त हैं। यूं तो यूजर्स के लिए उपलब्ध होने से पहले इस ओएस में अभी भी कई फीचर्स जुड़ने बाकी है। लेकिन फिर भी ऐसा लग रहा है की एंड्रॉयड P कोई बहुत बड़े अपडेट के साथ आने वाला नहीं है। अभी यह ओएस डेवलपर्स प्रिव्यू के लिए उपलब्ध है।

कैसे कर सकते हैं नए ओएस का इस्तेमाल

भले ही इस ओएस में बड़े अपडेट्स अभी तक देखने को नहीं मिले हैं। फिर भी एंड्रॉयड P में ऐसे कई एडिशन किए गए हैं, जो आपको पसंद आ सकते हैं। इसी के साथ आप इनका पब्लिक के लिए उपलब्ध होने से पहले भी इस्तेमाल कर सकते हैं। जानते हैं किस तरह:

- पिक्सल और पिक्सल 2 स्मार्टफोन्स पर इस ओएस को इस्तेमाल किया जा सकता है। यह बहुत आम बात है की नया ओएस आने पर एंड्रॉयड यूजर्स को इसका अनुभव लेने का मन करे। लेकिन हम आपको बता दें की एंड्रॉयड P अभी पब्लिक के इस्तेमाल के लिए तैयार नहीं है। इसे अगर डेवलपर डिवाइसेज पर ही इस्तेमाल किया जाए तो बेहतर होगा। इसे किसी ऐसे फोन में इस्तेमाल करने पर, जो रोजाना हम अपने साथ रखते हैं, अच्छा अनुभव प्राप्त नहीं होगा।

999 रुपये में सबसे सस्ता ड्यूल कैमरा स्मार्टफोन हुआ लॉन्च, मिल रहा 2200 रुपये का इंस्टेंट कैशबैक

नई दिल्ली(टेक डेस्क)। स्मार्टफोन निर्माता कंपनी स्वाइप यूजर्स के लिए ऐसा फोन लेकर आई है, जो अब तक कोई और कंपनी नहीं कर पाई। कंपनी ने मात्र 3999 रुपये की कीमत में Elite ड्यूल स्मार्टफोन पेश किया है, जिसमें ड्यूल कैमरा सेटअप दिया गया है। कंपनी का दावा है की भारत में उपलब्ध यह सबसे सस्ता ड्यूल कैमरा स्मार्टफोन है।

स्वाइप के सीईओ प्रियप गांधी ने कहा- '' उपभोक्ता के आज की मांग के अनुसार, हम Elite ड्यूल कैमरा स्मार्टफोन लेकर आए हैं। बाजार में उपलब्ध यह सबसे सस्ता ड्यूल कैमरा स्मार्टफोन है।''

फोन की स्पेसिफिकेशन्स: फोन की लुक पर काम करते हुए कंपनी ने इसे स्लीक डिजाइन दिया है। इसमें 5 इंच डिस्प्ले के साथ स्क्रैच रेजिस्टेंस ग्लास प्रोटेक्शन दिया गया है। स्मार्टफोन की खसियत इसका ड्यूल कैमरा सेटअप है। इसके रियर में 8MP+2MP सेसनोर के साथ एलईडी लाइट और ऑटो फोकस फीचर दिया गया है।

Exams को बनाएं टैंशन फ्री

अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद ने शिक्षक-छात्र के अनुपात में किए गए वदलाव के कारण प्रोफेशनल कॉलेजों के शिक्षकों की नौकरी पर खतरा मंडरा रहा है। अनुमान लगाया जा रहा है कि इस बदलाव के कारण करीब 1.78 लाख निजी इंजीनियरिंग, एमबीए, होटल मैनेजमेंट और अन्य प्रोफेशनल पाठ्यक्रमों के शिक्षकों को अपनी नौकरी से हाथ खोना पड़ सकता है। इन कॉलेजों के शिक्षकों ने एआईसीटीई द्वारा प्रस्तावित शिक्षक-छात्र अनुपात के विरोध में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है, जिस पर 9 मार्च को सुनवाई होगी।

 

है क्या शिक्षक-छात्र अनुपात
एआईसीटीई के निर्देशों के अनुसार निजी इंजीनियरिंग, एमबीए, एमसीए, होटल मैनेजमेंट और अन्य प्रोफेशनल पाठ्यक्रमों में शिक्षक-छात्र अनुपात 1:20 होना चाहिए। वहीं, डिप्लोमा पाठ्यक्रमों के लिए शिक्षक-छात्र अनुपात को घटाकर 1:25 कर दिया गया है। पहले प्रोफेशनल पाठ्यक्रमों में शिक्षक-छात्र अनुपात 1:15 था और डिप्लोमा पाठ्यक्रमों में शिक्षक-छात्र अनुपात 1:20 था। 


पीईआईइए ने दाखिल की याचिका
तमिलनाडु और तेलंगना के प्राइवेट एजुकेशनल इंस्टीट्यूशंस इम्पलॉयी एसोसिएशन (पीईआईइए) ने सुप्रीम कोर्ट में एआईसीटीई के इस फैसले के विरोध में याचिका दाखिल की है। एसोसिएशन के अनुसार एआईसीटीई से मान्यता प्राप्त पाठ्यक्रमों के लगभग 1.78 लाख शिक्षक बेरोजगार हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि नया शिक्षक-छात्र अनुपात प्रोफेशनल एजुकेशनल सिस्टम को कमजोर करेगा और इससे बेहतरीन दिमागों का ब्रेन ड्रेन बढ़ेगा। बी.ई और बी.टेक जैसे पाठ्यक्रमों में शिक्षकों की कमी होने से इन पाठ्यक्रमों में छात्रों की रुचि कम होगी।  


ट्रस्टों को हो सकता है फायदा
याचिकाकर्ता ने याचिका में कहा है कि ज्यादातर निजी संस्थान शैक्षणिक ट्रस्ट द्वारा संचालित की जाती है। मौजूदा वक्त में एआईसीटीई के नए निर्देशों के बाद संस्थानों को संचालित करने वाले ट्रस्ट फीस में तो बढ़ौतरी कर रहे हैं लेकिन शिक्षकों के वेतन में कटौती कर रहे हैं। एआईसीटीई शिक्षक-छात्र अनुपात को घटाकर इन ट्रस्टों को फायदा पहुंचाने की कोशिश कर रहा है। ऐसे संस्थान मान्यता प्राप्त करने के लिए फर्जी फैकल्टी रखने का भी तरीका अपना रहे हैं।

Smartphone Update: हुवावे मेट SE लॉन्च, शाओमी रेडमी नोट 5 और नोट 5 प्रो की सेल शुरू

नई दिल्ली । हुवावे ने मेट एसई स्मार्टफोन को यूएस में लॉन्च कर दिया है। फोन ग्रे और गोल्ड कलर के वैरियंट में उपलब्ध है। हुवावे मेट एसई की भारतीय करेंसी में कीमत करीब 15,000 रुपये है। फोन में 4जीबी की रैम और 64 जीबी की स्टोरेज दी गई है। फोन की स्टोरेज को माइक्रो एसडी कार्ड के जरिए 256 जीबी तक बढ़ाया जा सकता है। फोन में 5.93 इंच का डिस्प्ले दिया गया है।

वहीं अगर आप शाओमी रेडमी नोट 5 और रेडमी नोट 5 प्रो स्मार्टफोन खरीदना चाहते हैं तो आज का दिन आपके लिए खास है। इन दोनों ही स्मार्टफोन्स की सेल आज फिर से शुरू हो गई है। सेल में रेडमी नोट 5 और रेड मी नोट 5 प्रो के सभी कलर वेरिएंट उपलब्ध हैं। इन स्मार्टफोन्स की सेल फ्लिपकार्ट और शाओमी की अपनी ई-कॉमर्स साइट Mi.com पर आयोजित हो रही है।

शाओमी ने रेडमी नोट 5 और रेड मी नोट 5 प्रो को पिछले महीने 14 फरवरी को भारत में लॉन्च किया था। कंपनी इन दोनों स्मार्टफोन्स को दो बार फ्लैश सेल के लिए फ्लिपकार्ट और Mi.com पर उपलब्ध करा चुकी है। 22 फरवरी को आयोजित पहली सेल में 3 मिनट में कुल तीन लाख यूनिट बिक गए थे। इसके बाद अगली सेल 28 फरवरी को आयोजित की गई थी। शाओमी ने इन दोनों डिवाइस को चार कलर वैरियंट में लॉन्च किया था, इनमें गोल्ड, गोल्ड ब्लैक, लेक ब्लू और रोज गोल्ड शामिल थे। हालांकि, अब तक इन डिवाइस को सिर्फ ब्लैक और गोल्ड कलर वेरिएंट में ही पेश किया गया है।

ब्लैकबेरी ने Facebook, WhatsApp और Instagram के खिलाफ दर्ज कराया केस, जानिए वजह

नई दिल्ली । कनाडा की टेक्नोलॉजी कंपनी ब्लैकबेरी ने मंगलवार को फेसबुक और उसकी दो सहयोगी कंपनियों व्हाट्सएप (मैसेजिंग एप) और फोटो व वीडियो शेयरिंग एप इंस्टाग्राम पर पेटेंट के उल्लंघन का मामला दर्ज कराया है। ब्लैकबेरी ने आरोप लगाया है कि इन्होंने उसके पुराने ब्लैकबेरी मैसेंजर की तकनीक और फीचर्स को कॉपी किया है।

ब्लैकबेरी कंपनी ने लॉस एंजेलिस फेडरल कोर्ट में पेटेंट के उल्लंघन का मामला दर्ज करा दिया है। कंपनी ने अपने एक बयान में दावा किया, 'फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम ने ब्लैकबेरी के इनोवेशन और तकनीक को कॉपी करके मोबाइल मैसेजिंग एप बनाई है। इन सभी ने हमारे कई सारे इनोवेटिव सिक्योरिटी फीचर, यूजर इंटरफेस और फंक्शनालिटी एनहैंसिंग जैसे फीचर्स को कॉपी किया है। साथ ही गौर करने वाली बात यह है कि फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम ने मोबाइल मैसेजिंग की दुनिया में देरी से कदम रखा था।' ब्लैकबेरी ने मामला दर्ज कराकर इनपर कानूनी कार्रवाई करने की चेतावनी दी है। कंपनी ने बताया, “फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम ने ब्लैकबैरी के बौद्धिक संपद्दा अधिकार (आईपीआर) का उल्लंघन किया है। साथ ही कहा है कि हमारा शेयरधारकों के लिए दायित्व बनता है कि हम इन पर कानूनी कार्रवाई करें।”

हाल ही में पेश किए गए ये फोन रहे सबसे ज्यादा चर्चा में

नई दिल्ली(टेक डेस्क)। मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस 2018 एक मार्च को खत्म हो चुका है। इस इवेंट में कई स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों ने अपने हैंडसेट्स को पेश किया। इनमें से कुछ स्मार्टफोन्स ऐसे थे, जिन्होंने खासतौर पर लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा। हम आपके लिए ऐसे ही 5 स्मार्टफोन्स की लिस्ट लेकर आए हैं, जो सबसे ज्यादा चर्चा का हिस्सा बने।

सैमसंग गैलेक्सी S9 और S9 प्लस

सैमसंग गैलक्सी S9/S9+ में ये है अतंर:

डिस्प्ले: सैमसंग गैलक्सी एस9 फोन में 5.8 इंच का क्वॉड एचडी प्लस सुपर एमोलेड स्क्रीन दिया गया है। फोन का ऑस्पेक्ट रेशियो 18.5:9 है। इसका पिक्सल प्रति इंच(पीपीआई) 531 है। सैमसंग गैलक्सी एस9 प्लस फोन में 6.2 इंच का क्वॉड एचडी प्लस कर्व्ड सुपर एमोलेड स्क्रीन लगा है। इसका भी एस्पेक्ट रेशियो 18.5:9 है। इसका पिक्सल प्रति इंच(पीपीआई) 568 है।

रैम: सैमसंग गैलक्सी एस9 फोन में 4 जीबी की रैम दी गई है। फोन 10एनएम 64 बिट ऑक्टा-कोर चिपसेट से लैस हैं। फोन में ऑक्टाकोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 845 प्रोसेसर पर रन करता है। सैमसंग गैलक्सी एस9 प्लस फोन में 6 जीबी की रैम दी गई है। फोन 10एनएम प्रोसेस के इस्तेमाल से ऑक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 845 प्रसेसर पर रन करता है।

बैटरी: सैमसंग गैलक्सी एस9: फोन में 3000 एमएएच की बैटरी दी गई है। फोन में वायरलेस चार्जिंग फीचर शामिल है। सैमसंग गैलक्सी एस9 प्लस फोन में 3,500 एमएएच की बैटरी दी गई है, जो एस9 के मुकाबले ज्यादा मजबूत है। फोन में वायरलेस चार्जिंग का भी फीचर दिया गया है।

कीमत: सैमसंग गैलक्सी एस9 फोन की बेस प्राइस 720 डॉलर है, भारतीय करेंसी के मुताबिक फोन की कीमत करीब 46,700 रुपये है। सैमसंग गैलक्सी एस9 प्लस फोन की बेस प्राइस 840 डॉलर है, भारतीय करेंसी के मुताबिक फोन की कीमत करीब 55,000 रुपये है।

जियो और एयरटेल की टक्कर में मात्र 197 रुपये में यह कंपनी दे रही अनलिमिटेड डाटा और कालिंग

नई दिल्ली। जियो और एयरटेल में जहां टैरिफ वॉर थमने का नाम नहीं ले रही। वहीं, अब इन दोनों कंपनियों के टक्कर में सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी एम.टी.एन.एल. (MTNL) ने नया टैरिफ प्लान पेश किया है। माना जा रहा है की यह प्लान अभी मौजूद सभी प्लान्स को कड़ी टक्कर देगा। इस प्लान को 197 रुपये की कीमत में पेश किया गया है। बता दें की यह प्लान सिर्फ दिल्ली और मुंबई के यूजर्स के लिए उपलब्ध है।

197 रुपये के प्लान की डिटेल: कंपनी इस प्लान के अंतर्गत यूजर्स को हर रोज 2GB डाटा और अनलिमिटेड कालिंग की सुविधा दे रही है। इस प्लान की 28 दिनों की वैलिडिटी है। बता दें, इस प्लान में 4G स्पीड नहीं मिलेगी। इसमें 2G और 3G स्पीड में डाटा मिलेगा। डाटा के अलावा इसमें यूजर्स को अनलिमिटेड कालिंग की सुविधा भी मिलेगी। लेकिन इसमें भी एक शर्त है। यूजर्स इस प्लान के अंतर्गत सिर्फ अपने नेटवर्क पर ही अनलिमिटेड कालिंग कर पाएंगे। इस प्लान में सभी नेटवर्क पर फ्री कालिंग की सुविधा नहीं है।

रिलायंस जियो 198 रु. प्लान: जियो के 198 रुपये के रिचार्ज पर पहले यूजर्स को 1.5 जीबी 4जी डाटा मिलता था लेकिन कंपनी ने इस प्लान में बदलाव किया है। जियो अब 198 रुपये के प्लान पर यूजर्स को 2 जीबी 4जी डाटा दे रही है। 2जीबी सीमा पार होने के बाद यूजर्स को 64kbps की डाटा स्पीड मिलेगी। प्लान में अनलिमिटेड लोकल और एसटीडी कॉलिंग मिलेगी। इसके साथ प्लान में फ्री रोमिंग की सुविधा भी दी जा रही है। इस प्लान में यूजर्स को 100 एसएमएस रोज मिलेंगे। इसके अलावा यूजर्स को जियो एप का फ्री सब्सक्रिप्शन मिलेगा। प्लान की वैलिडिटी 28 दिनों की होगी।

एयरटेल 199 रु. प्लान: जियो से चल रहे टैरिफ वॉर के बीच एयरटेल ने अपने कई प्लान्स में बदलाव किए। एयरटेल के 199 रुपये के रिचार्ज पर यूजर को हर रोज 1.4 जीबी 4जी डाटा मिलेगा। इसके साथ 100 एसएमएस रोज मिलेंगे। प्लान में अनलिमिटेड लोकल और एसटीडी कॉलिंग मिलेगी। इसके साथ कंपनी फ्री रोमिंग की सुविधा भी यूजर्स को दे रही है। 149 रुपये के प्लान की वैलिडिटी 28 दिनों की होगी।

व्हॉट्सएप में होगा बड़ा बदलाव, तीन नए फीचर्स को कंपनी जल्द कर सकती है लॉन्च

 विश्व के सबसे लोकप्रिय मैसेंजिंग एप में से एक व्हॉट्सएप को भारत में करीब 200 मिलियन यूजर्स रोज इस्तेमाल करते हैं। फेसबुक स्वामित्व वाली कंपनी की लोकप्रियता न सिर्फ भारत में बल्कि पूरी दुनिया में है। छोटे व्यापारियों के लिए व्हॉट्सएप ने हाल ही में एक अलग एप लॉन्च किया है। इसके अलावा कंपनी ने यूपीआई पेमेंट फीचर को भी लॉन्च किया है। व्हॉट्सएप कई नए फीचर्स को अपने बीटा प्रोग्राम में टेस्ट कर रही है। गूगल प्ले स्टोर पर व्हॉट्सएप का बीटा वर्जन डाउनलोड करने के बाद यूजर इन फीचर्स को एक्सेस कर सकते हैं। जानतें हैं वो से नए फीचर्स हैं जिन्हें व्हॉट्सएप जल्द लॉन्च कर सकता है।

ग्रुप कॉल और वीडियो चैट

व्हॉट्सएप की सबसे बड़ी कमियों में से एक इसका ग्रुप ऑडियो और वीडियो कॉल को स्पोर्ट नहीं करना है। यूजर्स व्हॉट्सएप ग्रप में वीडियो या ऑडियो कॉल का इस्तेमाल नहीं कर सकते। व्हॉट्सएप पर एक से ज्यादा यूजर्स को कॉल नहीं किया जा सकता है, लेकिन व्हॉट्सएप जल्द ही ग्रुप कॉलिंग फीचर ला सकता है। व्हॉट्सएप के बीटा वर्जन 2.18.39 में एक नया फीचर जोड़ा गया है, जहां ग्रुप में मौजूद सदस्यों के सामने फोन और वीडियो कॉल का बटन दिया गया है। इस फीचर की मदद से यूजर एक से ज्यादा सदस्य को ग्रुप कॉल के लिए इनवाइट कर सकते हैं। कितने यूजर्स को इनवाइट किया जा सकता है, इसकी अभी कोई जानकारी नहीं है।

 

अबाउट अस (about us) 

बीटा वर्जन 2.18.54 में देखा इस फीचर को देखा गया है। व्हॉट्सएप जल्द ही ‘अबाउट अस’ फीचर लॉन्च कर सकता है। इस फीचर की मदद से किसी भी व्हॉट्सएप ग्रुप में संबंधित जानकारी डाली जा सकती है। यूजर्स, ग्रुप में जाकर ‘अबाउट अस’ को एडिट कर सकते हैं। हालांकि ग्रुप की जानकारी को कोन बदल सकता है, इसका पूरा कंट्रोल ग्रुप एडमिन के पास होगा।

वॉयस टू वीडियो स्विच

इस फीचर को फिलहाल आईओएस यूजर्स के लिए शुरू किया गया है। इस फीचर में अब यूजर ऑडियो कॉल से वीडियो कॉल पर स्विच कर सकेंगे। इसके अलावा व्हॉट्सएप ने  मेंशन बटन भी जारी किया है। इस बटन की मदद से यूजर उन मैसेजस को आसानी से पढ़ सकते जिन्हे वो पढ़ नहीं पाए हों। बटन पर टैप करने के बाद यूज़र्स किसी ग्रुप में उन्हें टैग किया हुआ मेसेज पढ़ सकेंगे। ये फीचर अभी आईओएस यूजर्स के लिए उपलब्ध है लेकिन कंपनी जल्द इसे एंड्रॉयड यूजर्स के लिए शुरू कर सकती है।

लैपटॉप और पीसी की स्पीड का इन आसान तरीकों से लगाएं पता

 

पहला तरीका

  • सीपीयू की स्पीड चेक करने के लिए सबसे पहले अपने सिस्टम की Property में जाएं।
  • Property में जाने के लिए सबसे पहले My Computer पर माउस को ले जाएं और फिर राइट क्लिक करें। यहां आपको Property का विकल्प दिखाई देगा, इसपर क्लिक करें।
  • प्रॉपर्टी ऑप्शन में जानें के बाज General टैब पर क्लिक करें।
  • इस तरह आप अपने सिस्टम की स्पीड समेत कई जानकारियों को देख पाएंगे।

दूसरा तरीका

Device Manager को ओपन करने के लिए Start Button पर क्लिक करें।

  • RUN में जाकर ‘Devmgmt-msc’ टाइप करें और OK बटन पर क्लिक कर दें।
  • आपके सामने एक पैनल खुल जाएगा, जहां आप सीपीयू से जुड़ी कई जानकारी हासिल कर सकते हैं।

तीसरा तरीका

  • अपने सिस्टम में Start बटन पर क्लिक करें और सर्च बार में RUN लिख कर क्लिक करें।
  • RUN बार में 'Msinfo32’ टाइप करें और OK बटन पर क्लिक करें। आपके सामने एक नया सपोर्ट पैनल ओपन हो जाएगा। इसमें आप सीपीयू और प्रोसेसर स्पीड से जुड़ी कई जानकारियां पा सकते हैं।

MWC 2018: सैमसंग गैलेक्सी S9 और गैलेक्सी S9 प्लस में हैं ये 4 बड़े अंतर

नई दिल्ली(टेक डेस्क)। स्पेन की राजधानी बार्सिलोना में मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस 2018 की शुरुआत हो चुकी है। MWC 2018 में साउथ कोरियन कंपनी सैमसंग ने अपने दो बड़े स्मार्टफोन्स पर से पर्दा हटा दिया है। सैमसंग ने अपने सबसे बड़े प्रोडक्ट्स सैमसंग गैलेक्सी एस9 और सैमसंग गैलेक्सी एस9 प्लस को लॉन्च कर दिया है। कंपनी ने इन स्मार्टफोन्स को लेकर कई दावें किए हैं। ऐसे में हम आपको बताने जा रहे हैं, कि सैमसंग गैलेक्सी एस9 और सैमसंग गैलेक्सी एस9 प्लस में क्या अंतर और समानताएं हैं।

सैमसंग गैलक्सी S9/S9+ में ये है अतंर:

 

डिस्प्ले

 

  • सैमसंग गैलक्सी एस9: फोन में 5.8 इंच का क्वॉड एचडी प्लस सुपर एमोलेड स्क्रीन दिया गया है। फोन का एस्पेक्ट रेशियो 18.5:9 है। इसका पिक्सल प्रति इंच(पीपीआई) 531 है।
  • सैमसंग गैलक्सी एस9 प्लस: फोन में 6.2 इंच का क्वॉड एचडी प्लस कर्व्ड सुपर एमोलेड स्कीन लगा है। इसका भी एस्पेक्ट रेशियो 18.5:9 है। इसका पिक्सल प्रति इंच(पीपीआई) 568 है।
  • सैमसंग गैलक्सी एस9: फोन में 4 जीबी की रैम दी गई है। फोन 10एनएम 64 बिट ऑक्टा-कोर चिपसेट से लैस हैं। फोन में ऑक्टाकोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 845 प्रोसेसर पर रन करता है।
  • सैमसंग गैलक्सी एस9 प्लस: फोन में 6 जीबी की रैम दी गई है। फोन 10एनएम प्रोसेस के इस्तेमाल से ऑक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 845 प्रसेसर पर रन करता है।

MWC 2018: सैमसंग गैलेक्सी S9 और गैलेक्सी S9 प्लस में हैं ये 4 बड़े अंतर

नई दिल्ली(टेक डेस्क)। स्पेन की राजधानी बार्सिलोना में मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस 2018 की शुरुआत हो चुकी है। MWC 2018 में साउथ कोरियन कंपनी सैमसंग ने अपने दो बड़े स्मार्टफोन्स पर से पर्दा हटा दिया है। सैमसंग ने अपने सबसे बड़े प्रोडक्ट्स सैमसंग गैलेक्सी एस9 और सैमसंग गैलेक्सी एस9 प्लस को लॉन्च कर दिया है। कंपनी ने इन स्मार्टफोन्स को लेकर कई दावें किए हैं। ऐसे में हम आपको बताने जा रहे हैं, कि सैमसंग गैलेक्सी एस9 और सैमसंग गैलेक्सी एस9 प्लस में क्या अंतर और समानताएं हैं।

सैमसंग गैलक्सी S9/S9+ में ये है अतंर:

 

डिस्प्ले

 

  • सैमसंग गैलक्सी एस9: फोन में 5.8 इंच का क्वॉड एचडी प्लस सुपर एमोलेड स्क्रीन दिया गया है। फोन का एस्पेक्ट रेशियो 18.5:9 है। इसका पिक्सल प्रति इंच(पीपीआई) 531 है।
  • सैमसंग गैलक्सी एस9 प्लस: फोन में 6.2 इंच का क्वॉड एचडी प्लस कर्व्ड सुपर एमोलेड स्कीन लगा है। इसका भी एस्पेक्ट रेशियो 18.5:9 है। इसका पिक्सल प्रति इंच(पीपीआई) 568 है।
  • सैमसंग गैलक्सी एस9: फोन में 4 जीबी की रैम दी गई है। फोन 10एनएम 64 बिट ऑक्टा-कोर चिपसेट से लैस हैं। फोन में ऑक्टाकोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 845 प्रोसेसर पर रन करता है।
  • सैमसंग गैलक्सी एस9 प्लस: फोन में 6 जीबी की रैम दी गई है। फोन 10एनएम प्रोसेस के इस्तेमाल से ऑक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 845 प्रसेसर पर रन करता है।

MWC: सोनी एक्सपीरिया XZ2 और XZ2 कॉम्पैक्ट में होगी 4k रिकॉर्डिंग,

नई दिल्ली(टेक डेस्क)। सोनी ने एक्सपीरिया XZ 2 और Xz 2 कॉम्पैक्ट फोन लॉन्च किए। दोनों फोन्स में से XZ2 की 5.7 इंच की बड़ी स्क्रीन है। लेकिन 5 इंच स्क्रीन के साथ भले ही कॉम्पैक्ट साइज में छोटा हो, पर इसकी स्पेसिफिकेशन्स लगभग समान है। इसी के साथ सोनी अपने फोन्स में वायरलेस चार्जिंग लेकर आ गया है। लेकिन यह भी XZ2 तक ही सीमित है।

कैमरा है खास:

दोनों फोन्स का कैमरा ना केवल एचडीआर वीडियो शूट करते हैं, साथ ही 4K रिजोल्यूशन क्वालिटी भी प्रदान करते हैं। इसी के साथ ये सुपर स्लो मोशन फुटेज भी शूट कर सकते हैं। इसी के साथ सोनी के फोन्स का रिजोल्यूशन 720p से फुल एचडी में आ गया है। सोनी ने कहा है की कंपनी ने क्वालकॉम के साथ पार्टनरशिप में कैमरा का डेवलप किया है। इससे लो लाइट में भी बेहतर पिक्चर्स ली जा सकेंगी। इसी के साथ 3D फेस मैपिंग फीचर को भी फ्रंट-बैक कैमरा में उपलब्ध करवाया गया है। इससे यूजर्स 3D सेल्फी बना पाएंगे।