• Mon. Aug 8th, 2022

पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना महत्वपूर्ण परियोजना है- प्रभारी मंत्री डॉ. बी. डी कल्ला

ByRameshwar Lal

Jul 9, 2022

अलवर। जिला प्रभारी एवं शिक्षा मंत्री डॉ. बी. डी कल्ला ने कहा है कि पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना प्रदेश की एक महत्वपूर्ण परियोजना है। उन्होंने कहा कि राज्य के 13 जिलों को इस परियोजना का लाभ मिले। इसके लिए केन्द्र सरकार इस राष्ट्रीय महत्व की परियोजना की घोषणा शीघ्र करे।
यह बात जिला प्रभारी मंत्री डॉ. कल्ला ने आज (शनिवार) को सर्किट हाउस में पत्रकार वार्ता के दौरान कहीं। उन्होंने कहा कि पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना की डीपीआर वर्ष 2017 में तैयार की गई। इस संबंध में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री एवं केन्द्र सरकार के जल शक्ति मंत्रालय के ध्यान आकर्षण के लिए समय-समय पर पत्र भेजे हैं। उन्होंने बताया कि पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना से राज्य के 13 जिले जिनमें बारां, भीलवाडा, कोटा, बूंदी, सवाई माधोपुर, करौली, धोलपुर, भरतपुर, दौसा, अलवर, जयपुर, अजमेर एवं टॉक की जनता को पेयजल एवं कृषि के लिए पानी मिल सकेगा।
उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा सकारात्मक रूख नहीं अपनाया। राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि इस परियोजना को लागू करवाने के लिए अहिंसात्मक तरीके से संघर्ष जारी रखा जायेगा। उन्होंने बताया कि पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना की 2017 में जब डीपीआर बनाई गई थी उस समय राजस्थान रिवर बेसिन ऑथोरिटी के चेयरमैन राम वेदिरे की देखरेख में डीपीआर बनाई गई थी। अब वेदिरे केन्द्र सरकार के जल शक्ति मंत्रालय में सलाहकार के रूप में कार्य कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि राजस्थान देश में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा भू-भाग है। उन्होंने बताया कि हमारे लोकप्रिय मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का मानना है कि 16 राष्ट्रीय परियोजना देश में चल रही है तो पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को भी राष्ट्रीय परियोजना में शामिल कर सैद्धांतिक मंजूरी केन्द्र सरकार दे। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा केन्द्रीय जल आयोग की गाइड लाइन के अनुरूप परियोजना बनाई गई है जिसे 13 जिलों की जनता को पीने का पानी व 2 लाख हैक्टेयर सिंचाई भूमि के संसाधन उपलब्ध हो सकेंगे।
जिला प्रभारी ने बताया कि वर्ष 2018 में देश के प्रधानमंत्री द्वारा इस परियोजना के क्रम में जयपुर व अजमेर में आश्वासन के साथ सकारात्मक भाव प्रदर्शित किया गया था। जिला प्रभारी एवं शिक्षा मंत्री डॉ. बी.डी कल्ला ने कहा कि राज्य सरकार के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना के संबंध में अति संवेदनशील है और परियोजना को राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा दिलवाने के लिए पूर्ण प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रहे हैं।
जिला प्रभारी मंत्री डॉ. बी. डी कल्ला ने कहा कि राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि राज्य सरकार अपने संसाधनों से आम जनता के हित में कोई भी परियोजना बना सकती है तथा पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को पूरा करने का प्रयास करेगी।
इस अवसर पर उद्योग मंत्री शकुन्तला रावत, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री टीकाराम जूली, मेवात विकास बोर्ड के अध्यक्ष जुबेर खान, किसान आयोग के उपाध्यक्ष एवं विधायक दीपचन्द खैरिया, जिला प्रमुख बलबीर सिंह छिल्लर, जिला बीस सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति के उपाध्यक्ष योगेश मिश्रा, पूर्व विधायक कृष्णमुरारी गंगावत, संजीव बारेठ, बलराम यादव, श्वेता सैनी, जोगेन्द्र सिंह कोचर, अतिरिक्त जिला कलक्टर शहर ओ.पी सहारण सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

error: Content is protected !!