• Wed. Aug 10th, 2022

उमस से परेशान लोगों के लिए राहत बनकर बरसे बदरा, मामूली बरसात ने नगरपालिका के दावों की खोली पोल

ByRameshwar Lal

Jul 10, 2022

उमस से परेशान लोगों के लिए राहत बनकर बरसे बदरा, मामूली बरसात ने नगरपालिका के दावों की खोली पोल

सरदारशहर। शहर में रविवार दोपहर बाद आई झमाझम बारिश ने आमजन को पिछले 10 दिनों से परेशान कर रही उमस से भारी राहत मिली तो वहीं व्यापारियों के लिए एक बार फिर बारिश आफत बनी हुई दिखाई दी। नगरपालिका की ओर से मानसून को लेकर की गई तैयारियों की पोल खुलती हुई दिखाई दे रही है। हर वर्ष की भांति इस बार भी नगरपालिका ने बारिश के पानी निकासी के बड़े-बड़े वादे किए थे। लेकिन हर बार की तरह इस बार भी वादे धरे के धरे रह गए। शहर के मुख्य बाजार सहित निचले इलाके पूरी तरह से जलमग्न हो गए। सब्जी मंडी, मुख्य बाजार, आथुना बाजार, शिव मार्केट, लोहारा गाड़ा, किसान छात्रावास, राम मंदिर, मीणा कुआं, रेलवे स्टेशन सहित निचले इलाके पूरी तरह से जलमग्न हो गए। मुख्य बाजार में बारिश शुरु होने के बाद ही व्यापारी अपने प्रतिष्ठान बंद कर घरों की ओर रवाना हुए। वहीं मुख्य बाजार में आवागमन पूरी तरह से बंद नजर आया। लोगों को अपने गंतव्य स्थान तक पहुंचने के लिए लंबी दूरी का सफर तय करना पड़ा। वहीं मुख्य बाजार और आसपास में रहने वाले लोग इसी गंदे पानी के बीच से गुजरते हुए नजर आए। वार्ड 25 के सुरेंद्र सैनी ने बताया कि पिछले लंबे समय से हमारे मोहल्ले में पानी निकासी की समस्या सरदर्द बनी हुई है। चुनाव के समय नेता आते हैं और बड़े-बड़े वादे करते हैं। लेकिन पिछले कई सालों से समस्या जस की तस बनी हुई है। वहीं अच्छी बारिश के चलते किसानों के चेहरे खिले हुए नजर आ रहे हैं। किसान एक बार फिर खेतों की बुवाई में जुट गए हैं। किसान मोहनलाल प्रजापत ने बताया कि वर्तमान समय में ग्वार, बाजरा, मोठ, मूंग की बिजाई का अच्छा समय है। अगर समय समय पर बारिश होती है तो किसानों के लिए इस वर्ष अच्छी पैदावार होगी।

error: Content is protected !!