• Mon. Aug 8th, 2022

टीकाकरण सेंटर पर उमड़ी भारी भीड़, माकूल व्यवस्था के अभाव में जमकर उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

ByMahesh Bhobharia

Jul 15, 2021

बीदासर ।  बुधवार को बीदासर शहर में दो स्थानों पर टीकाकरण हुआ जिसमें राजकीय मणौत हॉस्पिटल में 18 से 44 आयुवर्ग के युवाओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। युवावर्ग प्रातः 6 बजे से ही आना शुरू हो गये और 8 बजे तक सैंकड़ों की संख्या में पहुंच गये। टीकाकरण सेंटर पर माकूल व्यवस्था के अभाव में सोशल डिस्टेंस की जमकर धज्जियां उड़ी। वहीं 09 बजे तक कूपन वितरण नहीं होने के कारण परेशान युवाओं ने हो-हल्ला करना शुरू कर दिया। हॉस्पिटल के स्टाफ में मात्र 3 नर्सों को छोड़कर कोई भी समय पर नहीं पहुंचा। वहीं चिकित्सक व कम्पाउण्डर 9 बजे तक नहीं पहुंचे जिसके कारण टीकाकरण समय पर शुरू नहीं हो सका। प्राप्त जानकारी के अनुसार कस्बे राजकीय टांटिया सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र व राजकीय मणौत हॉस्पिटल के कुछ एक चिकित्सकों व नर्सिंग स्टाफ को छोड़कर बाकी अपनी मर्जी के मुताबिक चलते बताते हैं, जिसके कारण टीकाकरण व अन्य चिकित्सा व्यवस्था में भारी परेशानी उठानी पड़ती है। वहीं अंदर ही अंदर गुटबाजी की सुगबुगाहट भी सुनाई पड़ती है। मणौत हॉस्पिटल में तो एक चिकित्सक ऐसा भी है जो कभी बैठता नहीं है। आता है पर अपनी गाड़ी से नीचे नहीं उतरता, रजिस्टर मंगवाकर गाड़ी में बैठे-बैठे हस्ताक्षर कर चला जाता है। यह बात जग जाहिर भी है। पर इसके खिलाफ अनेक शिकायतों के बावजूद भी आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई। जिससे ऐसा लगता है कि इस चिकित्सक के सामने सब लाचार हैं।
कस्बे में वैक्सीन के अभाव में टीकाकरण अभियान बहुत धीमी गति से चल रहा है। जिसके कारण टीकाकरण सेंटर पर युवावर्ग की भारी भीड़ हर बार होती है। वहीं 45 प्लस के प्रथम डोज की वैक्सीन आए कई सप्ताह बीत चुके हैं। ऐसे में सर पर मण्डरा रही तीसरी लहर से कैसे मुकाबला कर सकेगे। कस्बे के 45 प्लस के लोग वैक्सीन का इंतजार करते-करते थक चुके हैं, तो दूसरी तरफ सरकार व चिकित्सा विभाग वैक्सीन के अभाव का रोना रो रहे हैं, जो जनहित में कतई नहीं है।

error: Content is protected !!