Updated -

mobile_app
liveTv


जयपुर टाइम्स
अलवर(निसं.)। जिलेभर में बुधवार को रामनवमी का पर्व धार्मिक उल्लास के साथ मनाया गया। कोरोना की महामारी की दूसरी लहर के चलते यह उत्सव घर-घर व मंदिरों में सरकार की गाइडलाइन की पालना करते हुए भगवान श्रीराम के जन्मोत्सव मनाया गया। इस मौके पर अनेक धार्मिक आयोजन हुए। भगवान के भजनों के साथ प्रसाद वितरित किया गया। अलवर। श्री राजर्षि अभय समाज मंदिर भर्तृहरिधाम में बुधवार को श्रीराम जी का जन्मोत्सव का आयोजन हुआ। समाज के महामंत्री महेश चन्द शर्मा ने बताया कि जन्मोत्सव के दौरान मंदिर में श्रीराम दरबार, शिव परिवार, योगीराज भर्तृहरि बाबा, हनुमानजी सहित अन्य देवी-देवताओं अभिषेक  किया गया। इसके बाद उनका विशेष श्रृंगार किया गया। इसके बाद भगवान के  नाम का गुणगान हुआ। श्रीरामजी के अवतरण मंगलवेला में महाआरती की  गइत्र्न । इसके साथ भोग लगाकर प्रसाद वितरित किया गया। कोविड-19 प्रोटोकॉल की पालना सुनिश्चित करते हुए प्रन्यास मंदिर श्री महादेव जी महाराज त्रिपोलिया अलवर में रामनवमी पर बुधवार को भगवान रामजी का अभिषेक व पूजन कार्यक्रम किया गया। मंदिर महंत जितेंद्र खेड़ापति ने बताया कि सर्वप्रथम प्रात: भगवान श्रीराम, मां जानकी का पंचामृत से  अभिषेक कर भगवान को नई पोशाक धारण कराई गई। पूजन कर आरती की गई। इसके बाद सभी जिले वासियों के लिए भगवान से महामारी को दूर करने की प्रार्थना कर सबके लिए मंगल कामना की गई। प्रन्यास मंदिर श्री महादेव जी महाराज त्रिपोलिया अलवर में 12 अप्रैल 2021 से आमजन प्रवेश पर प्रतिबंध किया हुआ है। जिसके चलते प्रत्येक वर्ष होने वाले भव्य आयोजनो को ना करते हुए मंदिर प्रबंधन द्वारा भगवान रामजी का पूजन अभिषेक किया गया। उधर, शहर के मनुमार्ग स्थित श्रीलक्ष्मीनारायण मंदिर में भी श्रीरामजी का जन्मोत्सव पर भजन हुए ओर आरती कर प्रसाद वितरित किया गया। पंडित राजेन्द्र शर्मा ने बताया कि मंदिर में पहले भगवान का अभिषेक किया गया। इसके बाद भगवान को नई पौशाक पहनाई गई। महिलाओं ने भजन गाए। प्रसाद का भोग लगाकर भक्तों को वितरित किया गया। इसके अलावा अन्य मंदिरों व घरों में भी ागवान श्रीराम जी का पूजन व आरती की गई।

Searching Keywords:

facebock whatsapp