• Mon. Aug 8th, 2022

इमरान खान का बेतुका बयान:पाक PM बोले- महिलाओ का बहुत कम कपड़े पहनना, तो पुरुषों पर इसका असर पड़ेगा ; यौन हिंसा के लिए भी यही जिम्मेदार

ByRameshwar Lal

Jun 22, 2021

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान की जुबान एक बार फिर फिसल गई। दो महीने पहले यौन हिंसा पर बेतुका बयान देकर विवादों में आए इमरान एक बार महिला विरोधी बयान देकर विपक्ष के निशाने पर हैं। उन्होंने यौन हिंसा के लिए महिलाओं को जिम्मेदार ठहराया है और उन्हें पर्दे में रहने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि यौन हिंसा की बढ़ती घटनाओं के पीछे महिलाओं के छोटे कपड़े जिम्मेदार हैं। उन्हें समाज को बहकाने से बचना चाहिए।HBO एक्सिओस को दिए इंटरव्यू में उनसे पाकिस्तान में रेप पीड़िता पर आरोप मढ़ने के एक मामले में सवाल पूछे थे। इस पर इमरान ने कहा, ‘अगर कोई महिला कम कपड़े पहनती है, तो इसका असर पुरुषों पर पड़ेगा। अगर वह रोबोट नहीं है तो। यह कॉमन सेंस है।

पर्दे की व्यवस्था की तरफदारी कीरेप पीड़िता को जिम्मेदार ठहराने के अपने पुराने बयान का बचाव करते हुए उन्होंने कहा कि मैंने कभी भी रेप पीड़िता पर कोई टिप्पणी नहीं की, बल्कि मैंने सिर्फ इतना कहा था कि पर्दे की व्यवस्था समाज में लुभाए जाने से बचने के लिए है।इससे मेरे समाज पर असर पड़ रहा
उनसे इंटरनेशनल क्रिकेट स्टार के तौर पर उनकी लाइफ के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि यह मेरे बारे में नहीं है। यह मेरे समाज के बारे में है। मेरी प्राथमिकता यह है कि समाज कैसा बर्ताव करता है। जब मुझे लगता है कि यौन हिंसा के मामले बढ़ रहे हैं, तो हम बैठकर चर्चा करते हैं कि इससे कैसे निपटना है। यह मेरे समाज पर असर डाल रहा है।
पाकिस्तान में जीने का तरीका अलग
इमरान ने कहा कि पाकिस्तान में न ही डिस्को हैं और न ही नाइट क्लब। यहां की सोसाइटी बिल्कुल अलग है। यहां जीने का अलग तरीका है। अगर आप यहां पर प्रलोभन बढ़ाएंगे और युवाओं को कहीं जाने का मौक़ा नहीं होगा, तो इसके कुछ न कुछ परिणाम तो सामने आएंगे ही।
पहले भी दे चुके ऐसे बयान
इमरान पहले भी ऐसे विवादित बयान दे चुके हैं। इससे पहले देश में रेप की बढ़ती घटनाओं पर घिरे इमरान ने महिलाओं को पर्दा करने की सलाह दे डाली थी। उन्होंने अश्‍लीलता के लिए भारत और यूरोप को जिम्‍मेदार ठहराया था। इमरान ने कहा था कि हमें पर्दा प्रथा की संस्‍कृति को बढ़ावा देना होगा, ताकि प्रलोभन से बचा जा सके।
पाकिस्तान में रोजाना 11 रेप की घटनाएं
आधिकारिक आंकड़ों की बात करें, तो पाकिस्तान में रोजाना बलात्कार की 11 घटनाएं रिकॉर्ड की जाती हैं। पिछले 6 महीने में यहां की पुलिस के पास रेप की 22 हजार शिकायतें दर्ज कराई गई हैं। जिओ न्यूज के मुताबिक, इस दौरान सिर्फ 77 आरोपियों को सजा दी गई है। यह कुल मामलों का सिर्फ 0.3% है।

error: Content is protected !!