• Fri. Aug 12th, 2022

कोरोना महामारी के बीच नई मुसीबत:

ByRameshwar Lal

Jun 21, 2021

ब्राजील के जंगल में आग और पेड़ों की कटाई की सरकारी जिद, नतीजा- 90 साल का भीषण सूखा

अमेजन के वर्षा वनों का 60% हिस्सा ब्राजील में है। ये दुनिया की जलवायु का संतुलन बनाए रखने में अहम भूमिका निभाते हैं। साथ ही ग्लोबल वॉर्मिंग से लड़ने में भी मदद करते हैं। लेकिन जंगल में आग, अवैध उत्खनन और पेड़ों की कटाई पिछले 12 साल में सबसे तेजी से बढ़ी है।

इसके चलते 21.2 करोड़ की आबादी वाला ब्राजील 90 साल के सबसे भीषण सूखे का सामना करने लगा है। अमेजन के आसपास की झीलें, नहरें और वेटलैंड इलाके सूख रहे हैं। नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर स्पेस रिसर्च के मुताबिक, ब्राजील में पिछले 8 साल में औसत बारिश भी नहीं हुई है। हर साल 49 मिमी बारिश कम होती जा रही है। इससे पानी की कमी होती जा रही है।

हर मिनट फुटबॉल मैदान के बराबर खत्म हो रहा जंगल; बढ़ेगा तापमान
अमेजन वर्षा वन हर मिनट एक फुटबॉल मैदान (करीब 1.08 हैक्टेयर) के आकार के बराबर नष्ट हो रहा है। ब्राजील के जलवायु वैज्ञानिक कार्लोस नोब्रे का कहना है कि नष्ट होते जंगल के कारण क्षेत्र का तापमान 1.5 से 3 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ सकता है।

दुनिया की कुल 20% ऑक्सीजन पैदा करता है अमेजन वन क्षेत्र
ब्राजील में 2008 के बाद से 9 लाख 80 हजार हेक्टेयर वनों को काट कर जमीन साफ कर दी गई है। वैज्ञानिक बताते हैं कि ब्राजील का यह वनक्षेत्र दुनिया की कुल 20% ऑक्सीजन पैदा करता है। इसे पृथ्वी के फेफड़े भी कहा जाता है।

error: Content is protected !!