• Mon. Aug 8th, 2022

दौसा मनोहरपुर हाईवे पर पायलों की ढाणी के समीप बस व ट्रेलर में हुई जबरदस्त भिडंत

ByRameshwar Lal

Jul 9, 2022

बस करीब 15 फीट खाई में गिर गई।

घटना में करीब आधा दर्जन श्रद्धालु घायल हो गए।

मनोहरपुर!दौसा- मनोहरपुर हाईवे पर पायलों की ढाणी के समीप एक बस व ट्रेलर के आमने सामने की शनिवार दोपहर बाद जबरदस्त भिडंत हो गई।ग्रामीणों की सूचना पर रायसर थाना पुलिस मौके पर पहुंची।पुलिस ने घायलों को एंबुलेंस की सहायता से चंदवाजी के निम्स अस्पताल में ले जाकर भर्ती करवा दिया। श्रद्धालुओं ने बताया कि हम लोग दिल्ली से बस भर के रवाना हुए थे और खाटू श्याम जी के दर्शन करने के बाद शनिवार को मेहंदीपुर बालाजी के दर्शनों के लिए जा रहे थे। तभी दौसा मनोहरपुर हाईवे स्थित पायलों की ढाणी के समीप एक ट्रेलर दौसा की तरफ से आ रहा था। अचानक ट्रेलर व बस में आमने सामने की जबरदस्त भिड़ंत हो गई। भिड़ंत में बस करीब 15 फीट खाई में गिर गई। हालांकि गनिमत रही कि बस पलटी नहीं और सीधी जाकर खड़ी हो गई। घटना को देखकर आस-पास के लोग दौडकर मौके पर पहुंचे। लोगो ने रायसर थाना पुलिस को घटना की जानकारी दी। जिस पर सहायक उप निरीक्षक कबूल सिंह मय पुलिस जाब्ता मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों की सहायता से घायलों को बस से सुरक्षित बाहर निकाल लिया। परन्तु हादसे में करीब 6 लोगों के हाथ, पैर व सिर में गहरी चोट लगने के कारण वो घायल हो गए थे। जिन्हें उपचार के लिए एंबुलेंस की सहायता से चंदवाजी स्थित निम्न अस्पताल ले जाकर भर्ती करवा दिया। पुलिस ने बताया की भिड़ंत में ट्रेलर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया जिसे क्रेन की सहायता से रायसर थाने में लाकर खड़ा कर दिया।घटना को देख आक्रोशित ग्रामीणों ने उठाई हाईवे को फोरलाइन बनाने की मांग समाजसेवी करोड़ी लाल मीणा सहित ग्रामीणों ने बताया कि दौसा मनोहरपुर हाईवे पर आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती है। दुर्घटनाओं में अधिकांश लोग मौत के घाट उतार जाते हैं। गौरतलब है की करीब 5 वर्ष पहले सरकार ने दौसा मनोहरपुर एन.एच 11 ए के नवीनीकरण एवं चौड़ाई करण करने के लिए करीब 300 करोड़ रुपये स्वीकृत कर इसे मेगा हाईवे में तब्दील करवा दिया। परंतु उसके बाद हादसे दिनों दिन बढ़ते जा रहे हैं। हादसे को लेकर आक्रोशित ग्रामीणों ने सरकार से कई बार मेगा हाईवे को फोरलाइन बनाने के लिए मांग की थी। परंतु सरकार के कानों में अभी तक जूं तक नहीं रेंगी। एसे हालातों को लेकर ग्रामीणों ने कहां की सरकार अभी तक इस हाईवे पर और हादसे होने का इंतजार कर रही हैं। साथ ही ग्रामीणों ने बताया कि सरकार जब तक इस मेगा हाइवे को फोरलाईन में तब्दील नहीं करेगी तब तक हाईवे पर दुर्घटनाएं होती रहेगी। ऐसे में ग्रामीणों ने सरकार से इस मेगा हाईवे को शीघ्रता से फोरलाइन बनाने की मांग की हैं।

error: Content is protected !!