• Fri. Aug 12th, 2022

मोदी इन काशी टुडे

ByRameshwar Lal

Jul 15, 2021

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वाराणसी आ रहे हैं। वे यहां जापान और भारत की दोस्ती के प्रतीक रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर समेत कुल 1475.20 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे। PM यहां करीब 5 घंटे रहेंगे। वे दिन में 11 बजे BHU के IIT मैदान में बने हैलीपैड पर उतरेंगे। यहां पर राज्यपाल और CM उनकी अगवानी करेंगे। मोदी 8 महीने पहले देव दिवाली पर काशी आए थे।

काशी दौरे को लेकर प्रधानमंत्री उत्साहित हैं। उन्होंने बुधवार को सोशल मीडिया पर ट्वीट कर अपनी खुशी का इजहार किया था। साथ ही रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर, मदर चाइल्ड हेल्थ विंग जैसी नई सौगात की फोटो साझा की थी। इस दौरे में प्रधानमंत्री तीन जगहों पर करीब 70 मिनट का भाषण देंगे।रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर के लिए जापान ने 186 करोड़ रुपए की आर्थिक मदद दी थी। साल 2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के तत्कालीन प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने अपने वाराणसी दौरे के दौरान इसकी नींव रखी थी। यह सेंटर शिवलिंग के आकार में बना है। तीन एकड़ में बने इस सेंटर के बाहर 108 सांकेतिक रुद्राक्ष लगे हैं, जो एल्यूमिनियम के हैं।

पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देने के लिए रो-रो (रोल ऑन रोल ऑफ पैसेंजर शिफ्ट) वैसल्स सेवा शुरू होगी। रो-रो सर्विस को प्रयागराज तक ले जाने की तैयारी है। फिलहाल दो रो-रो चलेंगे। इनमें से एक का नाम स्वामी विवेकानंद और दूसरे का नाम सैम मानेक शॉ है। एक रो-रो खिड़किया घाट से रामनगर तक जाएगा और दूसरा खिड़किया घाट से चुनार तक जाएगा।

SPG की सुरक्षा में रहने वाले प्रधानमंत्री मोदी के सुरक्षा घेरे में NSG व ATS के कमांडो और केंद्रीय खुफिया एजेंसियों के अधिकारियों की टीम रहेंगी। इसके अलावा बाहरी सुरक्षा घेरे में सबसे पहले सेंट्रल पैरामिलिट्री फोर्स के जवान रहेंगे। इसके बाद 21 IPS के नेतृत्व में 10 हजार से अधिक पुलिस-PAC के जवान तैनात रहेंगे। प्रधानमंत्री की आवाजाही के रूट पर रूफ टॉप फोर्स तैनात की गई है। प्रधानमंत्री के सभी कार्यक्रम स्थल नो फ्लाइंग जोन रहेंगे। साथ ही थल और वायु सेना की एक टुकड़ी उनके हैलीपैड और बाबतपुर एयरपोर्ट पर अलर्ट मोड में रहेगीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इससे पहले 30 नवंबर को वाराणसी आए थे। उन्होंने इस दौरान सिक्स लेन परियोजना का लोकार्पण करने के अलावा गंगा में नाव की सैर की थी। मोदी ने देव दीपावली की भव्यता और सारनाथ में लाइट एंड साउंड शो देखा था। इसके बाद प्रधानमंत्री काशीवासियों से ऑनलाइन मुखातिब होते रहे, लेकिन खुद वाराणसी नहीं आ सके।

error: Content is protected !!