• Wed. Aug 10th, 2022

दिल्ली विधानसभा : दो दिन का मानसून सत्र आज से, हंगामा होने के आसार

ByRameshwar Lal

Jul 29, 2021

आज से दो दिवसीय दिल्ली विधानसभा सत्र की शुरुआत 
विपक्ष जलबोर्ड, डीटीसी कथित घोटाला, पानी की किल्लत, लचर स्वास्थ्य व्यवस्था पर निशाना साधेगा
भजपा ने सड़क से सदन तक सरकार को घेरने की नीति तैयार की

दिल्ली विधानसभा सत्र हंगामेदार होने के आसार है।

पक्ष व विपक्ष पूरी तैयारी के साथ एक दूसरे को कटघरे में खड़ा करेगी।

सत्ता पक्ष ने जहां एमसीडी में भ्रष्टाचार,

किसान आंदोलन व दिल्ली दंगों में वकीलों के पैनल को खारीज करने के मामले में केंद्र सरकार को कटघरे में खड़ा करेगी

तो वहीं विपक्ष ने कथित डीटीसी घोटाला,

दिल्ली जलबोर्ड घोटाला, दिल्ली की लचर स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर सत्ता पक्ष को घेरने की रणनीति तैयार की है। भाजपा ने तो दिल्ली विधानसभा का घेराव भी करने का ऐलान किया है।

बृहस्पतिवार से शुरू होने वाले दो दिवसीय विधानसभा सत्र के दौरान सदन से सड़क तक दिल्ली के मुद्दे पर टकराव देखने को मिलेगा। आगामी एमसीडी चुनाव को लेकर आम आदमी पार्टी के विधायक भाजपा शासित एमसीडी को भ्रष्टाचार में लिप्त होने का आरोप सदन में मढ़ेंगे।

साथ ही दिल्ली के उपराज्यपाल को भी कई मुद्दे पर घेरेंगे।

सदन में सत्ता पक्ष किसानों का मुद्दा भी उठाएगी। सदन को यह भी बताया जाएगा कि किस तरह से दिल्ली सरकार ने दिल्ली वालों को बिजली व पानी मुफ्त दे रही है

वहीं भाजपा शासित अन्य राज्यों में बिजली बिल को लेकर लोग परेशान है।

वहीं विपक्ष के भाजपा विधायकों ने भी पूरी तैयारी की है।

भाजपा विधायक अभय वर्मा ने विधानसभा अध्यक्ष से आग्रह किया है कि सत्र में परिवहन मंत्री के गुमराह करने वाले बयान पर कार्यवाई करें। उन्होंने सदन को गुमराह करने का काम किया है।

विधानसभा नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा है कि भाजपा जनहित के मुद्दे ही उठाएगी।

विपक्ष जनता की तरफ से जानना चाहता है कि दिल्ली में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान स्वास्थ्य ढांचा क्यों चरमरा गया? दिल्ली का डेथ रेट भी देश में सबसे ज्यादा रहा है। 

यह चर्चा इसलिए जरूरी है ताकि तीसरी लहर की क्या तैयारी है।

आधी दिल्ली प्यासी है और जहां पानी आ भी रहा है, वह गंदा आ रहा है। इसपर सवाल पूछे जाएंगे।

बारिश के दौरान दिल्ली डूब रही है।


error: Content is protected !!