• Fri. Oct 7th, 2022

योजनाओं का लाभ हर पात्र व्यक्ति को मिले – प्रभारी मंत्री

ByRameshwar Lal

Aug 28, 2022

  • प्रभारी मंत्री डॉ. बी.डी कल्ला ने फ्लैगशिप योजनाओं की समीक्षा बैठक ली
    अलवर। जिला प्रभारी एवं शिक्षा मंत्री डॉ. बी.डी कल्ला ने कहा कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना सहित राज्य सरकार की सभी महत्वाकांक्षी योजनाओं से पात्र व्यक्तियों को जोडकर उन्हें लाभांवित करावे।
    प्रभारी मंत्री डॉ. कल्ला रविवार को जिला परिषद के सभागार में फ्लैगशिप योजनाओं सहित अन्य संचालित योजनाओं की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिला स्तरीय अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने सीएमएचओ को निर्देश दिये कि चिरंजीवी योजना से सभी परिवारों को जुडवाए। उन्होंने निर्देश दिये कि सभी सरकारी चिकित्सालयों के प्रभारी की जिम्मेदारी तय कर निर्देशित करे कि इस योजना के तहत आईपीडी के शत-प्रतिशत क्लेम बुक कर उनका पुनर्भरण बीमा कम्पनी से कराना सुनिश्चित कराए। इससे अस्पताल की आय में इजाफा होगा जिसका उपयोग मरीजों के लिए सुविधाओं के विस्तार में करे। इसमें लापरवाही बरतने वाले प्रभारियों के विरूद्ध कार्रवाई करे। उन्होंने निर्देश दिये कि इस योजना से और प्राइवेट हॉस्पिटल्स को जोडे। साथ ही जिन प्राइवेट हॉस्पिटलों में यह योजना संचालित है उन पर प्रभावी निगरानी रखे।
    चिरंजीवी योजना के प्रचार-प्रसार पर बल: उन्होंने निर्देश दिये कि चिरंजीवी योजना से जुडे प्राइवेट अस्पतालों में अस्पताल में चिरंजीवी योजना के तहत उपलब्ध नि:शुल्क उपचार की सूची का बोर्ड लगवाना सुनिश्चित कराए। साथ ही उन्होंने निर्देश दिये कि प्राइवेट अस्पतालों में चिरंजीवी हैल्पडेस्क अनिवार्य रूप से संचालित करावे। उन्होंने निर्देश दिये कि इन अस्पतालों में चिरंजीवी योजना की शिकायत के लिए जिला कंट्रोल रूम एवं चिरंजीवी प्रभारी के मोबाइल नम्बर भी लिखवाना सुनिश्चित कराए। साथ ही आने वाली शिकायतों का रजिस्टर संधारित कराकर उनका निस्तारण करावे।
    लम्पी स्किन डिजीज की रोकथाम हेतु अलर्ट मोड पर रहे : प्रभारी मंत्री ने पशुपालन विभाग के अधिकारियों एवं चिकित्सकों के साथ सभी प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिये कि लंपी स्किन डिजीज के संक्रमण की रोकथाम के लिए जारी गाइडलाइन की पालना करावे। साथ ही पशुपालकों को में इस बीमारी की रोकथाम एवं उपचार आदि की जानकारी प्रदान की जाए। पशुपालन विभाग के दल निरन्तर फील्ड में भ्रमण कर विशेष निगरानी रखे। निर्धारित मापदण्डों की पालना करते हुए पशुओं में वैक्सीन लगाई जाए। संक्रमित पशुओं का उपचार तुरन्त प्रारम्भ किया जाए। मृत पशुओं का वैज्ञानिक तरीके से निस्तारण किया जाए।
    उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल प्रदेश भर में काफी लोकप्रिय हो रहे है। राज्य सरकार ने यह निर्णय किया है कि नए खोले जाने वाले इंग्लिश मीडियम स्कूल शुरूआत में कक्षा 5 तक ही खोले जाएंगे। उसके उपरान्त विद्यार्थियों के अगली कक्षा में जाने के अनुसार इन विद्यालयों में अंग्रेजी माध्यम की कक्षाएं शुरू कराई जाएगी। उन्होंने सीडीईओ को निर्देश दिये कि नए अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोलने के लिए अलवर शहर व मेवात क्षेत्र के साथ जिले के अन्य स्थानों के लिए आवश्यकतानुसार स्थानीय जनप्रतिनिधियों से समन्वय स्थापित कर प्रस्ताव तैयार कर भिजवाए।
    लापरवाही पर होगी कार्रवाई: उन्होंने जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियन्ता को निर्देश दिये कि जनता जल योजना की गति को बढ़ाए। शेष रहे कार्यों को यथाशीघ्र पूर्ण कराए। जो ठेकेदार कार्यों में लापरवाही बरत रहे हैं उनके विरूद्ध कार्रवाई करें। जिनके विरूद्ध गंभीर शिकायतें हैं उनको ब्लैक लिस्ट करे। उन्होंने कृषि उपज मण्डी के उप निदेशक को निर्देश दिये कि कृषि विपणन की योजनाओं में राज्य सरकार 50 प्रतिशत तक अनुदान दे रही है। अत: योजनाओं का प्रचार-प्रसार कर खाद्य प्रसंस्करण आधारित उद्योगों को अधिकाधिक योजना से जोडकर लाभांवित करावे। उन्होंने डीएसओ को निर्देश दिए कि जिले में शुद्ध के लिए युद्ध अभियान प्रभावी रूप से संचालित होवे। उन्होंने निर्देश दिये कि जिन राशन डीलरों के विरूद्ध अनियमितता की शिकायतें प्राप्त होते ही तुरन्त जांच करे, गडबडी पाए जाने पर तुरन्त उनके लाइसेंस को निलंबित करें।
    उन्होंने पीडब्ल्यूडी के अधीक्षण अभियन्ता को निर्देश दिये कि नई स्वीकृत सडकों का निर्माण कार्य वर्षा ऋतु के तुरन्त बाद शुरू किया जाए। क्षतिग्रस्त सडकों के गढ्डों को भरवाए। उन्होंने जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक को निर्देश दिये कि सरकारी योजनाओं में प्राप्त ऋण आवेदनों के निस्तारण में गति लाए।
    बीस सूत्रीय कार्यक्रम की कि समीक्षा: प्रभारी मंत्री ने बीस सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा कर कहा कि बीस सूत्रीय कार्यक्रम में जिले की स्थिति अच्छी है। अलवर जिला राज्य में इस कार्यक्रम के क्रियान्वयन तीसरे स्थान पर है। जिन कार्यों में बी और सी ग्रेड है उन कार्यों को ए ग्रेड में लाने हेतु संबंधित सभी अधिकारी समन्वित प्रयास करे ताकि जिला राज्य में प्रथम पायदान पर आ सके। जिला बीसूका उपाध्यक्ष योगेश मिश्रा ने प्रभारी मंत्री को विश्वास दिलाया कि बीस सूत्रीय कार्यक्रम की प्रभावी मॉनिटरिंग कर जिले को प्रदेश में पहले पायदान में लाया जाएगा।
    जनप्रतिनिधियों के सुझाव को अमल में लावे: मेवात विकास बोर्ड के अध्यक्ष जुबेर खान ने मेवात क्षेत्र में अंग्रेजी माध्यम के नए स्कूल खोलने के प्रस्ताव बनाने, राशन डीलरों को नियमानुसार देय कमीशन निर्धारित समय-सीमा में ही दिया जाए, नए विद्युत कनेक्शन हेतु डिमांड नोटिस जारी होने पर शीघ्र कनेक्शन किया जाए। जिला प्रमुख बलबील सिंह छिल्लर ने चिरंजीवी योजना में सरकारी अस्पतालों में बीमा क्लेम बुकिंग को बढ़ाने, मुण्डावर के ग्राम भाणौत में खोले गए अंग्रेजी माध्यम स्कूल को फिलहाल 5वीं तक ही अंग्रेजी माध्यम में संचालित कराने तथा बुद्ध विहार में पेयजल के निराकरण हेतु कराई गई बोरिंग के फेल होने पर दूसरी जगह नई बोरिंग कराने, किशनगढ़बास विधायक दीपचन्द खैरिया ने प्राइवेट हॉस्पिटलों में चिरंजीवी योजना के संचालन में बरती जा रही अनियमितताओं की जांच कराने, किशनगढबास क्षेत्र में राशन डीलरों के प्रकरणों की पुन: जांच कराने, कृषि योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार कराने, बीसूका के उपाध्यक्ष योगेश मिश्रा ने जल जीवन मिशन के कार्यों में गति लाने व राज्य सरकार की योजनाओं का धरातल पर प्रभावी एवं समयबद्ध रूप से क्रियान्वयन कराने के संबंध में अपने विचार रखे। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि जनप्रतिनिधियों के द्वारा दिये जाने वाले सुझावों को अमल में लावे।
    जिला कलक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने प्रभारी मंत्री को जिले में संचालित फ्लैगशिप योजनाओं एवं अन्य योजनाओं के बारे में विस्तार से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारियों की प्रभावी मॉनिटरिंग कर विभागों से योजनाओं का क्रियान्वयन प्रभावी रूप से कराया जाएगा। बैठक में दिए गए निर्देशों की अनुपालना समयबद्ध रूप में कराई जाएगी।
    बैठक में नगर परिषद के सभापति धनश्याम गुर्जर, जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. अर्तिका शुक्ला, यूआईटी की सचिव डॉ. मंजू, अतिरिक्त जिला कलक्टर द्वितीय वन्दना खोरवाल, अतिरिक्त जिला कलक्टर शहर ओ.पी सहारण, डीएफओ अलवर ए.के श्रीवास्तव, डीएफओ सरिस्का डी.पी जागावत, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुख्यालय सरिता सिंह, डीएसओ जितेन्द्र सिंह नरूका, नगर परिषद आयुक्त धर्मपाल जाट सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।