• Fri. Oct 7th, 2022

रियासत कालीन कटाणी रास्‍ते को लेकर रीको के रवैये से क्षेत्रवासियों में नाराजगी

ByKhushbu Jain

Jun 30, 2021

राजस्‍व रिकॉर्ड में है कटाणी रास्‍ता, फिर भी रीको द्वारा इसे नजर अंदाज कर प्‍लाेट आवंटन किया गयाबीदासर 30 जून। रियासत काल से बीदासर से बीकानेर जाने वाला कटाणी रास्ता जो माणकसर तालाब रीको क्षेत्र से होकर जाता है, इस कटाणी रास्ते में रीको द्वारा अपनी मनमर्जी से प्लानिंग कर रास्ते को अवरूद्ध करने को लेकर बुधवार को शहर व ग्रामीण इलाके के किसान मौके पर जमा हुए तथा बीदासर तहसीलदार, गिरदावर, पटवारी व रीको के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। राजस्व रिकॉर्ड में कटाणी रास्ता दर्ज है तथा रिको को सरकार द्वारा सौंपी गई माणकसर तालाब की गौचर भूमि के रिकॉर्ड में भी कटाणी रास्ते दर्ज हैं। इसके बावजूद भी रिको ने जानबूझकर कटाणी रास्ते को नजर अन्दाज कर प्लाटिंग की जो गलत है। मौके पर उपस्थित सभी किसानों ने इसका खुलकर विरोध किया। बड़े ताज्जुब की बात तो यह है कि रीको क्षेत्र में प्रवेश करने से पहले रास्ता काफी चौड़ा है, वहीं रीको क्षेत्र से बाहर निकलने पर भी रास्ता काफी चौड़ा है, मौजूदा स्थिति में रास्ता 55 से 60 फुट चौड़ा है जबकि रीको क्षेत्र में रास्ता मात्र 25 फुट बताया जा रहा है। लोगों का कहना है कि जब दोनों ओर का रास्ता चौड़ा है तो फिर रीको क्षेत्र में रास्ता संकड़ा कैसे हो गया। किसानों ने तहसीलदार से सम्वत् 2002 व सम्वत् 2012 का रिकॉर्ड उपलब्ध करवाने व रीको से कटाणी रास्ता मुक्त करवाने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि हमें केवल कटाणी रास्ता ही चाहिए। रिको ने जानबूझ कर गलती कि है। उसका खामियाजा आम आदमी क्यों भुगते।तहसीलदार अमीलाल यादव ने रास्ते का सीमा ज्ञान करवाकर उपस्थित रीको के अधिकारियों को अवगत करवाया जिस पर रीको चूरू के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक ने कहा कि मैं मेरे उच्चाधिकारियों को अवगत करवा दूंगा।उपस्थित किसानों व शहर के प्रबुद्धजनों ने कहा कि सैंकड़ों वर्ष पुराना रियासत कालीन कटाणी रास्ता नहीं खोला गया तो आंदोलन किया जाएगा जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी प्रशासन व रिको की होगी। उन्होंने कहा कि हम अपनी वाजिब मांग कर रहे हैं, जो गलत नहीं है। मौके पर तहसीलदार अमीलाल यादव, कार्यवाहक गिरदावर तेजपाल पारीक, हल्का पटवारी नेमीचन्द, रिको चूरू के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक कृष्ण कुमार चौधरी, कांग्रेस अध्यक्ष जेठाराम यादव, मदनलाल बोरावड़, पूर्व पालिका उपाध्यक्ष जयप्रकाश बैंगानी, कृषक लक्ष्मणराम जाखड़, हुुुुुुक्मीचन्द गुर्जर, मनसाराम सुथार, प्रदीप पारीक, गोपाल यादव, लालाराम घिंट्याला, श्रवण कुमार सारण, हरखाराम खेरिया, हीराराम भादू, दौलनाथ सिद्ध, मनोज प्रजापत, नानूराम खाती, शिव कुमार दर्जी, श्रवण सारण, गिरधारी पूनियां, पुनाराम गढ़वाल सहित अनेक किसान उपस्थित थे।इनका कहना है – राजस्व रिकॉर्ड में कटाणी रास्ता जो रिको क्षेत्र में दर्ज है उसका सीमा ज्ञान करवाया गया तथा रास्ता जो रिकॉर्ड में दर्ज है उसमें कोई भी व किसी भी प्रकार का निर्माण कार्य नहीं करने के लिए पाबंद किया गया है। मौका रिपोर्ट जिला कलक्टर चूरू व उपखण्ड अधिकारी बीदासर को पेश कर दी जाएगी।   -अमीलाल यादव, तहसीलदार, बीदासर