• Fri. Oct 7th, 2022

बहरोड़ विधायक द्वारा एसडीएम के साथ किए दुर्व्यवहार को लेकर मीणा समाज हुआ लामबंद, एसडीएम कार्यालय पर विधायक का पुतला जलाकर किया प्रदर्शन

ByMahesh Bhobharia

Jul 6, 2021

सरदारशहर। शहर में मीणा समाज व सर्व समाज के लोगों ने बहरोड के एसडीएम के साथ विधायक द्वारा किए गए दुर्व्यवहार व अभद्रता का विरोध करते हुए बहरोड के विधायक बलजीत यादव का एसडीम कार्यालय के आगे पुतला जलाकर नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया। जिला अध्यक्ष सुनील मीणा के नेतृत्व में एसडीएम को मुख्य सचिव जयपुर संभागीय आयुक्त जयपुर, महा निरीक्षक पुलिस जयपुर, पुलिस अधीक्षक भिवाड़ी के नाम एक ज्ञापन देकर विधायक पर कार्रवाई करने की मांग की है। ज्ञापन में बताया गया कि 5 जुलाई को एसडीएम कार्यालय बहरोड ने विधायक बलजीत यादव द्वारा निरीक्षण किया गया जो उनका कर्तव्य है। लेकिन सत्ता के घमंड में उन्होंने सबसे पहले एसडीएम संतोष मीणा का मास्क यह कहकर उतरवा दिया कि तुम ने शराब पी रखी है जो अत्यंत ही अशोभनीय है। विधायक का यह बर्ताव अमर्यादित व अव्यवहार कुशल चरित्र की ओर इंगित करता है। विधायक ने एसडीम को उन्हीं के कार्यालय में बंधक बना लिया और लगातार बुरा बर्ताव करते रहे। साथ ही एसडीएम संतोष मीणा के परिवार को व्यक्तिगत हानि पहुंचाने की धमकी भी दे रहे थे। सत्ता के नशे में चूर विधायक का यह व्यवहार दर्शाता है कि उन्हें इमानदारी से काम करने वाला अधिकारी पसंद नहीं है। विधायक ने संवेदनशीलता की सारी हदें को तार कर दिया है। उपखंड मजिस्ट्रेट को उनके कार्यालय में बंधक बनाकर एक ईमानदार अधिकारी को लज्जित किया। विधायक बलजीत यादव के खिलाफ मानहानि और एट्रोसिटी में मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई करें। अन्यथा पूरे राजस्थान में मीणा समाज उग्र आंदोलन करने को मजबूर होंगे। विधायक बलजीत यादव एसडीएम संतोष मीणा से सार्वजनिक माफी मांगे व अपनी गलती स्वीकार करें। ज्ञापन देने वालों में मोतीराम मीणा, मूलचंद मीणा, गोविंद मीणा, भंवरलाल सारण, सत्यनारायण शर्मा, राकेश मीणा, मुरारीलाल मीणा, संजीव मीणा, प्रभुदयाल मीणा, परमेश्वरलाल मीणा, श्री राम जोशी, देवाराम मीणा, नेमाराम बराला, भंवरलाल मीणा काकलासर, सुरेंद्र मीणा सहित अनेक लोग उपस्थित थे।