श्रवण सागर और अंजलि राघव अभिनीत राजस्थानी फिल्म 'भरखमा' देशभर के 60 सिनेमाघरों में होगी रिलीज

श्रवण सागर ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि राजस्थानी भाषा और सिनेमा के लिए पिछले कई दशक से कार्य कर रहा हूं, इस बार हमने साहित्य को सिनेमा से जोड़ते हुए यह फिल्म तैयार की है।

श्रवण सागर और अंजलि राघव अभिनीत राजस्थानी फिल्म 'भरखमा' देशभर के 60 सिनेमाघरों में होगी रिलीज
श्रवण सागर और अंजलि राघव अभिनीत राजस्थानी फिल्म 'भरखमा' देशभर के 60 सिनेमाघरों में होगी रिलीज

जयपुर। साहित्य अकादमी से सम्मानित पुस्तक 'भरखमा' पर बनी राजस्थानी फिल्म 'भरखमा' का मोशन पोस्टर लॉन्च इवेंट बुधवार को फोर्ट रेस्तरां जयपुर में आयोजित किया गया।

श्रवण सागर राजस्थान फाउंडेशन की ओर से प्रस्तुत फिल्म भरखमा का मोशन पोस्टर लॉन्च किया गया।  इस फिल्म के लेखक डॉ जितेन्द्र कुमार सोनी है और इन्हें साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार मिल चुका है। फिल्म का निर्देशन एस सागर ने किया है। कार्यक्रम के दौरान फिल्म का पहला गाना मने हो गयो है प्यार को भी रिलीज किया गया।
 
इस मौके पर फिल्म के लीड एक्टर श्रवण सागर, एक्ट्रेस अंजली राघव, गरीमा कपूर, राजवीर गुर्जर बस्सी, निक्स बोहरा, एग्जीक्यूटिव प्रोडूसर हरिराम किवाड़ा व जुंजाराम थोरी, लिरिसिस्ट धनराज दाधीच, जीतेन्द्र छाबड़ी और साहिल चंदेल मौजूद रहे। साथ ही कार्यक्रम में प्रदेशभर से आए क्रिएटर्स भी मौजूद रहे।

श्रवण सागर ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि राजस्थानी भाषा और सिनेमा के लिए पिछले कई दशक से कार्य कर रहा हूं, इस बार हमने साहित्य को सिनेमा से जोड़ते हुए यह फिल्म तैयार की है। भरखमा पुस्तक को देशभर में काफी सराहा जा चुका है। इस पर हमने यह फिल्म बनाई है। इसकी शूटिंग जयपुर, सीकर, कोटा और शेखावाटी इलाकों में की गई है। इसमें हमने राजस्थान के यंग टैलेंट को मौका दिया है। राजस्थानी सिनेमा के इतिहास में पहली बार देशभर के 60 से अधिक सिनेमाघरों में इसे रिलीज किया जाएगा। राजस्थानी सिनेमा इस समय अपनी एक नई दिशा की तरफ मोड ले रहा है और हमारा प्रयास है कि यह रीजनल सिनेमा भी अन्य राज्यों की तरह फिर से अपने मुकाम पर पहुंचे। इस फिल्म को हम पांच जुलाई में रिलीज करने वाले है।

एक्ट्रेस अंजलि राघव ने बताया कि मैं हरियाणी इंडस्ट्री में काफी समय से काम रही हूं। वहां गानों और अन्य प्रोजेक्ट्स में लोगों ने खूब प्यार दिया है। अब राजस्थानी सिनेमा से कनेक्ट होते हुए मैंने यहां की फिल्म की है। यह मेरे लिए भी गर्व की बात है। रीजनल सिनेमा के लिए हर आर्टिस्ट अपना 100 प्रतिशत देता है। अंजलि हरियाणवी संगीत इंडस्ट्री में अपने काम के लिए जानी जाती हैं। वह बॉलीवुड फिल्म तेवर में भी काम कर चुकी हैं और कैरी-रिश्ता खट्टा मीठा नामक धारावाहिक में भी नजर आई हैं। अंजलि को हाय रे मेरी मोटो गाने ने दुनियाभर में पहचान दिलाई हुई है।  अंजलि राघव और पवन गिल का गाना 'मैडम नाचे नाचे रे तू तो' का वीडियो लोगों ने खूब पसंद किया है।

क्रिएटर्स ने चलाया स्टेंड विद राजस्थानी सिनेमा हैशटेग

एक्टर और क्रिएटर राजवीर गुर्जर और निक्स बोहरा ने बताया कि राजस्थानी सिनेमा को पहचान दिलाने के लिए हम कार्य कर रहे है। राजस्थानी भाषा को मान्यता दिलाने के लिए हम अपने दिल से जुड़े हुए है। यह साहित्य पुस्तक पर बनी फिल्म है और इससे जुड़ना हमारे लिए भी खास है। हम सभी क्रिएटर्स ने मिलकर आज राजस्थानी सिनेमा के साथ खड़े होने के सोशल मीडिया पर कैम्पेन भी शुरू किया।

इस कैम्पेन में अजय शर्मा, जेपी चौधरी, निशा गुर्जर, नैना चौहान, डीजी मावई, बल्ली बालपुर, अजीत बैंसला, भरत कसाना, पम्मी खटाना, राज (हाट्स), कोमल मीना, उतरा मीना, अंजलि मीना, साक्षी मीना, अजय के मीना ने सहयोग दिया और राजस्थानी सिनेमा व फिल्म भरखमा से जुड़े वीडियोज को सोशल मीडिया पर पोस्ट किया।