• Tue. Aug 9th, 2022

खण्डेला श्मशान भूमि संघर्षसमिति ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा।*

ByKhushbu Jain

Jul 6, 2021

सीकर। कांवट रोड (खण्डेला) स्थित शमशान भूमि पर अवैध रूप से कब्जा किए जाने के प्रयास के विरोध में आज जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा गया।इससे पूर्व भी उपखंड अधिकारी खंडेला को दो बार ज्ञापन दिया जा चुका है। लेकिन उसमें भी आज तक कोई प्रभावी कार्य कार्यवाही नहीं हुई है। संघर्ष समिति के सदस्य एडवोकेट बलदेव सिंह खंडेला ने बताया कि कांवट रोड पर बहुत सी भूमि जो पूर्व में सिवायचक, गोचरभूमि, पाल, तलाई, जोहड़, चारागाह , शमशान व खातेदारी की भूमिया थी जिनको बाला बाला कुछ लोगों द्वारा कब्रिस्तान के नाम करवा लिया गया। कुछ भूमिया जो आज भी चारागाह , शिवाय चक शमशान तलाई,जोहड़ है और खातेदारी की हैं। आज भी उन पर अनाधिकृत रूप से अवैध कब्जा किए जाने का प्रयास किया जा रहा है एडवोकेट बलदेवसिंह खण्डेला ने बताया कि उक्त प्रकरण में कुछ लोग जो सामाजिक अशांति फैलाना चाहते हैं जो भू-माफिया हैं और आपस में समुदायों को लड़ाना चाहते हैं वह लोग ही उक्त भूमियों पर कब्जा करने का प्रयास कर रहे हैं। इससे पूर्व भी कई बार इस मामले में धरने प्रदर्शन आदि किये जा चुके हैं फिर प्रशासन द्वारा कोई ठोस कार्यवाही नही की गई। प्रशासन द्वारा केवल निपटारा करवाने के आश्वासन ही देते रहे है। लेकिन आज वर्तमान में वही स्थिति वापस उत्पन्न कर दी गई है जिन भूमियों का कब्रिस्तान से कोई लेना-देना नहीं था उन पर भी कब्जा किए जाने का प्रयास किया जा रहा है मामलों में न्यायालय में भी मुस्लिम समाज द्वारा और वक्फ बोर्ड द्वारा कई बार राजीनामा लिखकर दिया जा चुका है। तीन चार बार उक्त प्रकरण में राजीनामा किया जा चुका है लेकिन कुछ लोग आपसी वैमनस्यता फैलाने के कारण उस राजीनामे को मारने को तैयार नहीं है और बार बार ऐसी स्थिति उत्पन्न कर रहे है। इसी को लेकर आज जिला कलेक्टर महोदय से मिलकर सभी भूमियों को जिनमें हिंदू समाज के विभिन्न समाजों के शमशान की भूमिया, गोचर भूमि , सिवायचक,तलाई,जोहड़,पाल, चारागाह आदि सभी भूमियों को रिकॉर्ड दुरुस्त करवा कर उन पर अलग-अलग सीमा ज्ञान करवाया जाए ।जिससे बार-बार आने वाली समस्याओं को रोका जा सके और जिन लोगों इस प्रकार की अव्यवस्था फैलाने का प्रयास किया है उन पर अति शीघ्र कार्रवाई की जाए व रास्ते मे आने जाने वालों को रास्ता रोकने वाले महिलाओं से छेड़छाड़ करने वाले लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए इन सभी मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा गया ।

error: Content is protected !!