• Wed. Aug 10th, 2022

ओलिंपिक में हरियाणा से सबसे ज्यादा एथलीट

ByRameshwar Lal

Jul 13, 2021

टोक्यो ओलिंपिक में हिस्सा लेने के लिए भारत के 122 खिलाड़ियों के नाम की घोषणा हो गई है। यह ओलिंपिक में भारत का अब तक का सबसे बड़ा दल होगा। रियो ओलिंपिक (2016) में देश से 117 खिलाड़ियों ने शिरकत की थी। भारत के 122 खिलाड़ियों में से 30 हरियाणा से हैं। यानी 24%। हरियाणा की आबादी 2.54 करोड़ (2011 की जनगणना के मुताबिक) है। यानी देश की आबादी में महज 1.87% हिस्सेदारी रखने वाला राज्य भारतीय दल में करीब एक चौथाई उपस्थिति रखेगा।54% खिलाड़ी उत्तर भारत से
ओलिंपिक में हिस्सा लेने जा रहे भारतीय खिलाड़ियों को जोन के हिसाब से बांटें तो सबसे बड़ी हिस्सेदारी उत्तर भारत की होती है। उत्तर भारत से 66 खिलाड़ी (54.10%) टोक्यो जा रहे हैं। इनमें हरियाणा के बाद सबसे बड़ी हिस्सेदारी पंजाब (16 खिलाड़ी) की है। भारतीय दल में दक्षिण भारत से 27 (22.14%), मध्य भारत से 2 (1.64%), पूर्वी भारत के 10 (8.2%), उत्तर पूर्व से 8 (6.55%) और पश्चिम भारत से 9 खिलाड़ी (7.37%) शामिल हैं।पंजाब और तमिलनाडु से भी खिलाड़ियों की संख्या डबल फिगर में
हरियाणा के अलावा सिर्फ दो और राज्य ऐसे हैं जहां से इस बार ओलिंपिक में जा रहे एथलीटों की संख्या 10 से ज्यादा है। पंजाब से 16 और तमिलनाडु से 12 खिलाड़ी टोक्यो में भारत की ओर से शिरकत करेंगे। 5 राज्य/केंद्र शासित प्रदेश ऐसे हैं जहां से 5 से 8 खिलाड़ी शामिल हैं। इनमें उत्तर प्रदेश (8), दिल्ली (5), केरल (8), मणिपुर (5) और महाराष्ट्र (6) शामिल हैं।

कुश्ती में सभी 7 खिलाड़ी हरियाणा से
हरियाणा का दबदबा कुश्ती और बॉक्सिंग जैसे कॉन्बैट स्पोर्ट्स में है। कुश्ती में सभी 7 खिलाड़ी (4 महिला, 3 पुरुष) हरियाणा से हैं। बॉक्सिंग में 9 में से 4 बॉक्सर हरियाणा से हैं। शूटिंग में 15 में से 5 शूटर्स हरियाणा से हैं। इनके अलावा हरियाणा से एथलेटिक्स में 4 (26 में से), हॉकी में 10 (पुरुष-महिला मिलाकर 34 खिलाड़ियों में से) खिलाड़ी इस राज्य से हैं।

पंजाब के 16 में से 11 खिलाड़ी हॉकी में
पंजाब के ज्यादातर खिलाड़ी हॉकी टीम में हैं। पुरुष-महिला टीम में पंजाब के कुल 11 खिलाड़ी शामिल हैं। राज्य के पांच अन्य खिलाड़ियों में से 3 एथलेटिक्स में और 1-1 शूटिंग और बॉक्सिंग में है। 10 से ज्यादा खिलाड़ियों वाले तीसरे राज्य तमिलनाडु से एथलेटिक्स में 5, सेलिंग में 4, टेबल टेनिस में 2 और फेंसिंग में 1 खिलाड़ी शामिल है।

7 राज्यों से एक भी खिलाड़ी नहीं
भारत के सात राज्य ऐसे हैं जहां से 1 भी खिलाड़ी भारतीय ओलिंपिक दल का हिस्सा नहीं है। 10 करोड़ की आबादी वाला बिहार इसमें सबसे बड़ा राज्य है। बिहार के अलावा छत्तीसगढ़, गोवा, मेघालय, नगालैंड और त्रिपुरा से भी कोई खिलाड़ी ओलिंपिक में हिस्सा लेने नहीं जा रहा है।

error: Content is protected !!